scriptRevenue Inspector, Patwari, who took bribe, got imprisonment | सीमांकन के लिए रिश्वत लेने वाले राजस्व निरीक्षक, पटवारी समेत तीन को चार वर्ष कठोर कैद, तीनों पकड़े गए थे रंगे हाथ | Patrika News

सीमांकन के लिए रिश्वत लेने वाले राजस्व निरीक्षक, पटवारी समेत तीन को चार वर्ष कठोर कैद, तीनों पकड़े गए थे रंगे हाथ

जमीन सीमांकन के लिए रिश्वत मांगना राजस्व निरीक्षक और पटवारी को भारी पड़ गया। पीडि़त की शिकायत के बाद तीन आरोपियों को कोर्ट ने चार साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है।

 

दुर्ग

Updated: December 25, 2021 11:13:13 am

दुर्ग. जमीन सीमांकन के लिए रिश्वत मांगना राजस्व निरीक्षक और पटवारी को भारी पड़ गया। पीडि़त की शिकायत के बाद तीन आरोपियों को कोर्ट ने चार साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। घटना साल 2017 की है। दुर्ग जिले के उप तहसील कार्यालय अहिवारा में पदस्थ राजस्व निरीक्षक और पटवारी ने पीडि़त से तीस हजार रुपए रिश्वत की डिमांड की थी। जिसके बाद आरोपी ने इसकी शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो में दर्ज कराई थी। आरोपी पटवारी और राजस्व निरीक्षक को एसीबी ने रंगे हाथ रिश्वत लेते पकड़ा था।
सीमांकन के लिए रिश्वत लेने वाले राजस्व निरीक्षक, पटवारी समेत तीन को चार वर्ष कठोर कैद, तीनों पकड़े गए थे रंगे हाथ
सीमांकन के लिए रिश्वत लेने वाले राजस्व निरीक्षक, पटवारी समेत तीन को चार वर्ष कठोर कैद, तीनों पकड़े गए थे रंगे हाथ
कोर्ट ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत सुनाई सजा
विशेष न्यायाधीश(भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम) डॉ. प्रज्ञा पचौरी की कोर्ट ने अहिवारा उप तहसील कार्यालय के राजस्व निरीक्षक आरोपी अनिल कुमार बावनगडे और आरोपी गुलशन कुमार चोपड़ा पटवारी निवासी ग्राम सिरसा कला बाजार चौक को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7, धारा 13(1)( डी) सह पठित धारा 13(2) एवं धारा 120( बी) के तहत 4- 4- 4 वर्ष के कठोर कारावास तथा दो-दो-एक हजार रुपए अर्थ दंड की सजा दी है। वहीं आरोपी नरेश कुमार कुर्रे को 120( बी) के तहत 4 वर्ष कठोर कारावास तथा 1000 रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई है। सभी सजाएं साथ-साथ चलेगी।
यह भी पढ़ें
घोर कलियुग, सरकारी वकील ने अपनी ही बूढ़ी मां के हड़प लिए 15 लाख, महीना चलाने भी नहीं देता पैसा, महिला आयोग ने कहा न्याय होगा
.....

जमीन के सीमांकन के लिए भटक रहा था पीडि़त
विशेष लोक अभियोजक ओमप्रकाश शर्मा ने बताया कि राजकिशोर बेहरा को जमीन का सीमांकन करवाना था। इसके लिए 29 मई 2017 एवं उससे पूर्व उप तहसील कार्यालय अहिवारा में पदस्थ राजस्व निरीक्षक आरोपी अनिल कुमार बावनगढ़ तथा ग्राम अहेरी में पटवारी के पद पर कार्यरत आरोपी गुलशन कुमार चोपड़ा ने 30 हजार रुपए की मांग की थी। दोनों आरोपियों ने तीसरे आरोपी नरेश कुमार कुर्रे के जरिए 12 हजार रुपए ले लिया था। इसकी शिकायत बेहरा ने की थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

कोरोना: शनिवार रात्री से शुरू हुआ 30 घंटे का जन अनुशासन कफ्र्यूशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेCM गहलोत ने लापरवाही करने वालों को चेताया, ओमिक्रॉन को हल्के में नहीं लें2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.