Big Breaking: 16 घंटे बाद रेस्क्यू टीम ने निकाला राइस मिल के मलबे में दबे दो का शव, तीसरे की तलाश जारी, Video

Big Breaking: 16 घंटे बाद रेस्क्यू टीम ने निकाला राइस मिल के मलबे में दबे दो का शव, तीसरे की तलाश जारी, Video

Dakshi Sahu | Publish: Apr, 22 2019 09:59:51 AM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 09:59:52 AM (IST) Durg, Durg, Chhattisgarh, India

. जेवरा स्थित राइस मिल के मलबे में दबे दो लोगों को रेस्क्यू दल ने अल सुबह 5 बजे निकाला।

भिलाई. जेवरा स्थित राइस मिल के मलबे में दबे दो लोगों को रेस्क्यू दल ने अल सुबह 5 बजे निकाला। सोमवार सुबह निकाले गए शव में एक राइस मिल संचालक का पुत्र रवि और श्रमिक भूपेंद्र का है। राइस मिल में पिछले १६ घंटे से एसडीआरएफ की टीम रेस्क्यू अभियान चला रही है। पुलिस अधिकारियों ने कुछ और भी श्रमिक मलबे में दबे होने की आशंका व्यक्त की है।

मेंटनेंस के दौरान गिर गया था स्ट्रक्चर
दुर्ग-धमधा रोड पर ग्राम समोदा स्थित श्रीसंत हरदास राम राइस मिल में रविवार को हुए हादसे की कलेक्टर ने दंडाधिकारी जांच के आदेश दिए हैं। ड्रायर और बायलर के बीच बेल्ट में पॉलीथिन फंस गई थी। इससे कंप्रेसर में पानी का प्रेशर और लोड बढऩे के कारण ही ड्रायर और आठ बायलर समेत पूरा स्ट्रक्चर भरभराकर ढह गया। यह बात भी सामने आई है कि मिल 20 साल पुरानी है और प्रॉपर मेंटेनेंस नहीं हो रही थी।

इस हादसे में मिल मालिक के बेटे समेत तीन मजदूर दब गए थे। एसडीआरएफ (स्टेट डिजास्टर रिस्पॉन्स फोर्स) की रेस्क्यू टीम १२ घंटे ( दोपहर 12 से रात 1२ बजे तक) मशक्कत के बाद भी उन्हें निकाल नहीं पाई थी। शनिवार शाम आई आंधी तूफ ान से राइस मिल के बायलर व ड्रायर का एलाइनमेंट बिगड़ गया था। रविवार को मिल मालिक चेतनदास केशरवानी के बेटे रविदास केशरवानी मिल में काम करने वाले बिहार निवासी मिस्त्री श्याम कुमार और चार मजदूरों को लेकर मेंटेनेंस कर रहे थे। इसी दौरान बड़ा हादसा हो गया था। 

स्ट्रक्चर हटाया, धान के ढेर में मिला शव
जेवरा चौकी प्रभारी येनु देवांगन ने बताया कि पॉवर क्रेन बुलाया गया है। गैस कटर से स्ट्रक्चर को काटा गया। ड्रायर को निकाला गया। बायलर निकालने के बाद ड्रायर और बायलर के स्ट्रक्चर हटाए गए। एसडीआरएफ के जवानों को धान के ढेर में मजदूर और मिल मालिक के बेटे का शव मिला है। फिलहाल रेस्क्यू अभियान जारी है। 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned