दुर्ग में चोरों का आतंक, थाने से महज चार सौ मीटर दूरी पर दो घंटे में 8 दुकानों के ताले टूटे, लाखों रुपए पर कर दिया हाथ साफ

मिनी इंडिया भिलाई में चोरों का आतंक बढ़ गया है। एक ही रात में 2 से 4.30 बजे के बीच ढाई घंटे में 8 दुकानों के ताले तोड़कर चोर 6 लाख रुपए ले गए।

By: Dakshi Sahu

Updated: 17 Jan 2021, 04:16 PM IST

भिलाई. मिनी इंडिया भिलाई में चोरों का आतंक बढ़ गया है। एक ही रात में 2 से 4.30 बजे के बीच ढाई घंटे में 8 दुकानों के ताले तोड़कर चोर 6 लाख रुपए ले गए। खास बात यह है कि चोरी की आठों वारदात शहर के बीचोंबीच हुई। दो वारदात स्थल मध्यानी और शैलेष आटो पाट्र्स तो सीएसपी कार्यालय के बिलकुल सामने मात्र सौ गज की दूरी पर है। सिर ढके हुए तीन चोरों ने दुकान की शटर को उठाकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोरों की करतूत सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गई। दुर्ग कोतवाली थाना पुलिस ने बताया कि गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात की घटना है। पांच दुकान में चोरी हुई है। तीन दुकानों में चोरी का प्रयास किया गया है। शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ धारा 380, 457 के तहत जुर्म दर्ज कर मामले को जांच में लिया है। दुकानों में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

नवकार मोडिकोज से ले गए 2.50 लाख
गंजपारा वर्धमान हाईट निवासी नवकार मोडिकोज के संचालक निखिल जैन ने बताया कि गुरुवार को 8.30 बजे दुकान बंद कर घर चले गए थे। दूसरे दिन जब कामवाली दुकान सफाई करने पहुंची तब शटर टूटा हुआ था। सीसीटीवी फुटेज चेक किया तो तड़के 3.30 बजे एक युवक नजर आया जो दराज में रखे 2.50 लाख रुपए ले गया। यह रकम दो दिन के कलेक्शन की थी। साथ ही खेत में बोए सोयाबिन बेचा था उसका 65 हजार रुपए था।

दराज से 60 हजार पार, खून के मिले निशान
जैन मेडिसिन हाउस के संचालक किशेार कुमार जैन ने बताया कि शुक्रवार सुबह 4 बजे की घटना है। चोर पत्थर से दराज को तोड़कर 60 हजार चोरी कर ले गया। चोरी के दौरान उसे चोट आई है। दुकान में खून के निशान मिले हैं।

खिड़की की ग्रिल तोड़कर अंदर घुसा
सांखला ब्रदर्स के संचालक नरेश सांखला ने बताया कि करीब 4.30 बजे की घटना है। चोर दीवार फांदकर अंदर घुसे थे। शटर को उठाया है। खिड़की की ग्रिल को तोड़ा है। इसके बाद दराज में रखे 1 लाख 63 हजार रुपए ले गए।

दो दुकान के अंदर घुसे तीन युवक, 30 हजार की चोरी
शैलेष आटो पाट्र्स के संचालक शैलेष साहू ने बताया शटर में सेंटर लॉक नहीं था। तीन युवक एक साथ पहुंचे थे। सिर सफेद कपड़ा ढके हुए थे। गल्ला से 20 हजार रुपए चोरी कर ले गया। इसी तरह मध्यानी आटो पाट्र्स के संचालक सुनील मध्यानी ने बताया कि चोरों ने दुकान का शटर उठाकर चोरी की। है। गल्ला से 10 हजार ले गए।

सेंट्रल लॉक की वजह बच गई चोरी
जैन मेडिकोज के शटर में सेंट्रल लॉक लगा था। चोरों ने उसे खोलने का प्रयास किया। शटर मुड़ गया है, लेकिन खुला नहीं। तब उसे छोड़कर भाग गए।

गार्ड ने चिल्लाया तो भाग खड़े हुए
कोठारी नर्सिंग होम के संचालक एसएम कोठारी ने बताया कि नर्सिंग होम की सुरक्षा के लिए गार्ड तैनात किया है। रात में सोनी गार्ड की ड्यूटी थी। उसने बताया कि तीन से चार युवक पहुंचे। गोदाम के शटर का ताला तोड़ रहे थे। इधर दो युवक गुरु कृपा ट्रांसपोर्ट की दुकान के ताले तोड़ रहे थे। गार्ड ने चिल्लिाया तो चारों भाग खड़े हुए।

गश्त प्वाइंट महज दूरी पर
चौंकाने वाली बात यह है कि पुराना बस स्टैड थाना से 500 मीटर की दूरी है। यहा सदर सराफा और इंदिरा मार्केट में दो गश्त प्वाइंट हंै, जहां से इस एरिया की गश्ती रात 12 से सुबह 5 बजे तक की जाती है। इसके बाद प्रात: पेट्रोलिंग की टीम आ जाती है। गश्त प्वाइंट के करीब ही ये सभी दुकाने हैं। चोर ढाई घंटे में चोरी की घटना को अंजाम देकर भाग गए। जब थाना से करीब की दुकानें सुरक्षित नहीं है तो शहर के लोग कैसे अपने आप को महफूज समझे।

रैकी कर दिया वारदात को अंजाम
चोरों ने दुकानों की रैकी की है। उन्हीं दुकानों को निशाना बनाया है जिसमें सेंट्रल लॉक नहीं लगा था। इतना ही नहीं जो दुकान संचालक बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे को बंद कर चले जाते थे, उन्हीं दुकानों में घटना को अंजाम दिया है। इनका चोरी करने का तरीका यह था कि तीन युवक मिलकर शटर को पहले आगे खींचते है। फिर उसे ऊपर की तरफ उठा देते थे। एक व्यक्ति अंदर घुसकर सिर्फ रकम की चोरी करता और निकल कर भाग जाते है। एसपी दुर्ग प्रशांत कुमार ठाकुर ने बताया कि चोरी की घटना की जानकारी मिली है। तत्काल सीएसपी से कहा हूं कि दुकानों के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरे को खंगाले। टीम गठित कर आरोपियों की पतासाजी करें। लगातार चोरी की घटना के संबंध में रात पेट्रोलिंग और गश्त प्वाइंट पर तैनात अधिकारी कर्मचारियों से पूछताछ की जाएगी।

Show More
Dakshi Sahu Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned