सेल के स्टील से बनी देश की सबसे बड़ी तोप बंदूक धनुष

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने देश की सबसे बड़ी तोप बंधूक धनुष के लिए स्पेशल क्वालिटी फोर्जिंग स्टील की आपूर्ति की थी।

By: Abdul Salam

Updated: 10 Apr 2019, 06:03 PM IST

भिलाई. स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) ने देश की सबसे बड़ी तोप बंधूक धनुष के लिए स्पेशल क्वालिटी फोर्जिंग स्टील की आपूर्ति की थी। इस तरह सेल ने एक बार फिर से देश की सुरक्षा को मजबूती प्रदान करने में अपनी अहम भूमिका अदा की है।

पहली स्वदेशी तोप
देश में ही विकसित की गई यह पहली स्वदेशी तोप बंदूक है, जिसके लिए सेल ने अपने दुर्गापुर स्थित अलॉय स्टील्स प्लांट से स्पेशल क्वालिटी फोर्जिंग स्टील बनाकर आपूर्ति की है। धनुष का विकास और डिजाइन स्वदेशी तौर पर मध्यप्रदेश के जबलपुर स्थित गन कैरिज फैक्ट्री में किया गया है, जहां इसे भारतीय सेना को सौंपा गया।

60 साल से देश की मुनियाद को कर रहा मजबूत
सेल अपने उत्पादन के 60 सालों से देश की मजबूत बुनियाद रखने के साथ-साथ देश की सुरक्षा से जुड़ी स्पेशल क्वालिटी की स्टील की जरूरतों को पूरा करता आ रहा है। सेल ने देश की सुरक्षा को मजबूती देने के लिए आईएनएस कमोर्ता, आईएनएस विक्रांत, आईएनएस किल्टन, अर्जुन टैंक जैसे महत्वपूर्ण सुरक्षा उपकरणों के लिए स्टील की आपूर्ति की है।

स्पेशल ग्रेड स्टील की कर रहा आपूर्ति
सेल का राउरकेला इस्पात संयंत्र भी जबलपुर गन कैरिज फैक्ट्री को गन कैरिज के विकास और रिपेयर से जुड़ी तकनीकी जरूरतों को पूरा करने के लिए स्पेशल ग्रेड स्टील की आपूर्ति करता आ रहा है। सेल ने हमेशा से ही देश की सुरक्षा से जुड़े उपकरण को तैयार करने में अपना अहम योगदान दिया है।

गौरव का क्षण
सेल अध्यक्ष, अनिल कुमार चौधरी ने कहा कि यह हमारे लिए गौरव का क्षण है कि देश के महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचों के साथ ही सुरक्षा से जुड़े महत्वपूर्ण आयुधों पर भी सेल के भरोसे और सेल की मजबूती की छाप है। सेल देश की सुरक्षा से जुड़ी हर तकनीकी जरूरत के अनुसार स्टील के विकास और उत्पादन करने की हर चुनौती को स्वीकार करने के लिए तैयार हैं।

Abdul Salam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned