ऐसा क्या हुआ कि महिलाओं ने घेर लिया विधायक को, पढि़ए पूरी खबर

ऐसा क्या हुआ कि महिलाओं ने घेर लिया विधायक को, पढि़ए पूरी खबर

Hemant Kapoor | Publish: Apr, 17 2018 03:11:12 PM (IST) Durg, Chhattisgarh, India

जोगी नगर के गरीब परिवारों को हटाने निगम की नोटिस से नाराज महिलाओं ने विधायक अरुण वोरा के पद्मनाभपुर आवास पहुंचकर घेराव कर दिया।

दुर्ग . पोटिया के बाद अब जोगी नगर में भी गरीब परिवारों को हटाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। इससे नाराज आधा सैकड़ा महिलाओं ने विधायक अरुण वोरा के पद्मनाभपुर आवास पहुंचकर घेराव कर दिया। महिलाएं विस्थापन को अनुचित करार देकर विधायक से हस्तक्षेप की मांग कर रही थीं। महिलाएं करीब दो घंटे घेराव के बाद वापस लौंटी।
पीएम आवास योजना के तहत शहर के आधा दर्जन स्लम बस्तियों में गरीबों के लिए पक्का आवास बनाया जाना है। नगर निगम ने इसके लिए इन बस्तियों के लोगों को बोरसी में बनाए गए पीएम आवासों में शिफ्टिंग तैयारी कर रही हैं। इसमें ठगड़ा बांध के समीप रेलवे पटरी के किनारे बस जोगी नगर भी शामिल है, लेकिन जोगी नगर के लोग विस्थापन के लिए तैयार नहीं हैं।

पोटिया में मच चुका है हंगामा
इसी तरह विस्थापन को लेकर पहले भी पोटिया के श्रमिक बस्ती में भी हंगामा मच चुका है। निगम प्रशासन द्वारा यहां लोगों को नोटिस देकर सहमति पत्र भी भरवाना शुरू किया था, लेकिन बाद में लोग जमीन नहीं छोडऩे पर अड़ गए। लोगों का कहना था कि निगम उनके जमीन पर ही मकान बनाकर दें।

जोगी नगर में इसलिए विरोध
पोटिया की तरह जोगी नगर के लोग भी अपनी जमीन छोड़कर नए जगह पर विस्थापन के लिए तैयार नहीं हैं। लोगों का कहना है कि वे करीब 35 साल से उक्त जगह पर बसे हैं। जमीन पर नर्सरी लगाकर परिवार चला रहे हैं। विस्थापन से न सिर्फ उनकी जमीन छिन जाएगी बल्कि रोजगार का साधन भी खत्म हो जाएगा।

पहले दी सुविधा अब व्यवस्थापन
महिलाओं ने बताया कि जोगी नगर में जनप्रतिनिधियों के अलावा नगर निगम द्वारा कई विकास कार्य कराए गए हैं। मोहल्ले में स्ट्रीट लाइट व बिजली कनेक्शन के अलावा भागीरथी नल जल योजना के नल कनेक्शन दिए गए हैं। इसके साथ ही सरकारी योजना के घर-घर शौचालय बनाया गया है। विस्थापन कर इन निर्माणों को तोडऩा उचित नहीं हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned