गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा दिलाने पैदल यात्रा पर निकले युकां कार्यकर्ता

Satya Narayan Shukla

Publish: Sep, 17 2017 06:53:56 (IST)

Durg, Chhattisgarh, India
गाय को राष्ट्रमाता का दर्जा दिलाने पैदल यात्रा पर निकले युकां कार्यकर्ता

गौमाता को राष्ट्र माता का दर्जा दिलाने शहर के युवक कांग्रेस कार्यकर्ता रविवार को पैदल राजधानी रवाना हुए।

दुर्ग. गौमाता को राष्ट्र माता का दर्जा दिलाने शहर के युवक कांग्रेस कार्यकर्ता रविवार को पैदल राजधानी रवाना हुए। युकां कार्यकर्ता राजधानी जाकर राज्यपाल से मिलेंगे और गौवंश हत्या पर कठोर दंड का कानून बनाने की मांग करेंगे। विधायक अरुण वोरा ने रविवार को युकांइयों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

युवाओं को गांधी टोपी पहनाकर उत्साह बढ़ाया
शहर युकां अध्यक्ष आकाश मजूमदार के नेतृत्व में दो दर्जन युकांई राजधानी के लिए रवाना हुए। इस दौरान उन्होंने बताया कि गौ संरक्षण के संबंध में राज्यपाल के समक्ष 11 सूत्रीय मांग रखा जाएगा। युवकों की रवानगी से पहले दोपहर 12 बजे सिकोलाबस्ती दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में कार्यक्रम भी किया गया। जिसमें विधायक अरुण वोरा ने युवाओं को गांधी टोपी पहनाकर उत्साह बढ़ाया। युकांई आकाश मजूमदार, आयुष शर्मा, सुष्मिता साहू व नीशा देशलहरे के नेतृत्व में राजधानी रवाना हुए।

वोरा भी चले युकांइयों के साथ पैदल
युकांइयों को रवाना करने के साथ विधायक अरुण वोरा भी रैली के साथ शहर के छोर तक पैदल चले। उनके साथ पार्षद राजेश शर्मा, सुरेन्द्र ठाकुर, प्रकाश गीते, शंकर ठाकुर, राजकुमार वर्मा, कन्या ढीमर भी पैदल चले। वोरा ने इस दौरान अपने हाथ में गौमाता के संरक्षण संबंधी तख्ती भी संभाल रखी थी।

राजपुर मामले की सीबीआई जांच
इस दौरान विधायक ने कहा कि राजपुर में हरीश वर्मा के गौशाला में गौवंशों की मौत की जांच सीबीआई से कराया जाना चाहिए। कांग्रेसी पहले से इसकी मांग कर रहे हैं। राजधानी जा रहे युकां के कार्यकर्ता भी इसकी मांग रखेंगे।

100 कार्यकर्ता पहुंचेंगे राजधानी
युकां अध्यक्ष आकाश मजूमदार ने बताया कि पदयात्रा में सुपेला, भिलाई, खुर्सीपार, भिलाई तीन के अलावा राजधानी के भी कार्यकर्ता शामिल होंगे। इस तरह करीब 100 कार्यकर्ता सोमवार को राज्यपाल के निवास मिलने जाएंगे। राज्यपाल से इसके लिए अनुमति मिल गई है।

राज्यपाल से यह करेंगे मांग
0 गौ-हत्या के खिलाफ सख्त कानून, गौ-शालाओं की जांच के लिए निरीक्षण की नियुक्ति, गौ-वंश की शंकास्पद मौत पर पोस्टमार्टम का प्रावधान।
0 गौ-माता को राष्ट्रमाता का दर्जा, संजीवनी की तर्ज पर गौ-वंशों के लिएएम्बुलेंस सेवा, मल्टी स्पेशलिस्ट पशु चिकित्सालय।
0 गौ-शाला संचालन का प्रथम अधिकार यदुवंशियों को, आयोग को बर्खास्त कर सरकार का नियंत्रण, गौ-वंशों को लाने-ले-जाने विशेषवाहन।
0 शकुन गौ-शाला में गायों की मौत की सीबीआई जांच, गौ-वंशों को दफनाने स्थल का निर्धारण।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned