दिवाली 2019 : आज के ही दिन जन्मे थे हनुमान जी, इन 10 उपायों से करें प्रसन्न

  • Narak Chaturdashi 2019 : नरक चतुर्दशी के दिन शिव जी बजरंगबली के रूप में जन्मे थे
  • आज के दिन यमराज की पूजा करने से अकाल मृत्यु का भय दूर होता है

By: Soma Roy

Updated: 26 Oct 2019, 11:53 AM IST

नई दिल्ली। नरक चतुर्दशी को छोटी दीवाली भी कहा जाता है। इस दिन मृत्यु के देवता यमराज और हनुमान जी की पूजा की जाती है। विद्वानों के अनुसार हनुमान जयंती वर्ष में दो बार मनाई जाती है। पहली चैत्र शुक्ल पूर्णिमा को और दूसरी कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी को। बाल्मीकि रामायण के अनुसार हनुमान जी का जन्म कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी को हुआ है। पुराणों के अनुसार कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी मंगलवार, स्वाति नक्षत्र, मेष लग्न में स्वयं भगवान शिवजी ने अंजना के गर्भ से रुद्रावतार लिया था। ऐसे में आज के दिन कुछ खास उपाय करने से आपका साल भर अच्छा जा सकता है।

1.कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को नरक चतुर्दशी या छोटी दिवाली के नाम से जाना जाता है। इस दिन यमराज और बजरंगबली के सामने सरसों के तेल का दीपक जलाने से आपका दिन अच्छा जाएगा।

2.नरक चतुदर्शी के दिन शरीर पर तिल के तेल का उबटन लगाकर स्नान करना चाहिए। इसके बाद हनुमान जी की पूजा करनी चाहिए। आज के दिन उन्हें सिंदूर चढ़ाना शुभ माना जाता है। इससे व्यक्ति की तरक्की होती है।

3.छोटी दीवाली के दिन घर के नरक यानी गंदगी को साफ किया जाता है। इससे घर में मां लक्ष्मी का वास होता है।

4.इस दिन यमराज के कोने यानी दक्षिण दिशा की ओर दीपक जलाना चाहिए, ताकि यमराज खुश रहें। इससे अकाल मृत्यु का भय दूर होगा।

5.नरक चतुर्दशी की रात को घर के सबसे बुजुर्ग सदस्य को घर में एक दीया जलाकर पूरे घर में घुमान चाहिए। इसके बाद दीये को घर से बाहर कहीं दूर रख कर आता है। यह दीया यम का दीया कहलाता है। ऐसा करने से सभी बुराइयां और कथित बुरी शक्तियां घर से बाहर चली जाती हैं।

diwali_deep.jpg

6.पौराणिक कथा के अनुसार आज के दिन ही भगवान श्री कृष्ण ने अत्याचारी और दुराचारी दुर्दांत असुर नरकासुर का वध किया था और सोलह हजार एक सौ कन्याओं को नरकासुर के बंदी गृह से मुक्त कर उन्हें सम्मान प्रदान किया था। इस उपलक्ष्य में दीयों की बारात सजाई जाती है। इससे घर में खुशहाली आती है।

7.नरक चतुर्दशी के दिन हनुमान चालीसा, हनुमत अष्टक व बजरंग बाण का पाठ करने से शनि, राहु व केतु जन्य दोषों से मुक्ति पाई जा सकती है। इससे हनुमान जी की आप पर कृपा होगी।

8.बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए ॐ भगवते आन्जनेयाय महाबलाय स्वाहा मंत्र का 108 बार जाप करें। ऐसा करने से आपके पराक्रम में वृद्धि होगी और दुखों से छुटकारा मिलेगा।

9.आज के दिन हनुमान जी की पूजा करते समय उन्हें लाल फूल, रोली, कलावा, पांच प्रकार के फल और गंगाजल चढ़ाएं। इससे आपकी मनोकामनाएं पूरी होंगी।

10.आज के दिन हवन करने से घर का शुद्धिकरण होता है। इसलिए हवन सामग्री के साथ थोड़ी लौंग मिला लें।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned