प्रेगनेंसी में गलती से भी न खाएं ये 10 चीजें, मिसकैरिज का बढ़ सकता है खतरा

  • miscarriage problems : गर्भावस्था में ज्यादा नमक न खाएं, इससे ब्लड प्रेशर के बढ़ने का खतरा होता है
  • प्रेगनेंसी के दौरान पनीर भी न खाएं, इसमें मौजूद बैक्टीरिया बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकता है

Soma Roy

July, 2111:52 AM

नई दिल्ली। मां बनना हर औरत का सपना होता है। तभी प्रेगनेंसी में उनकी खास देखभाल की जाती है। मगर कई बार जानें-अनजानें हम ऐसी चीजें खा लेते हैं जो बच्चे के लिए नुकसानदायक साबित हो सकती हैं। इससे गर्भ के गिरने का भी खतरा हो सकता है।

1.यूं तो कच्चा पपीता पेट के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे अपच और गैस्ट्रिक की परेशानियां दूर होती हैं। मगर प्रेगनेंसी के दौरान इसका सेवन खरनाक साबित हो सकता है। इसमें पाया जाने वाला एक तत्व गर्भपात के खतरे को बढ़ा सकता है।

प्रेगनेंसी में भूलकर भी न खाएं आलू, बच्चे का विकास रुकने समेत हो सकते हैं ये 10 नुकसान

2.बहुत से लोग मसल्स बनाने और प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए कच्चे अंडे खाते हैं। मगर गर्भावस्था में भूलकर भी इसका सेवन न करें। क्योंकि कच्चे अंडे में सालमोनेला बैक्टीरिया होता है। इससे फूड प्वॉयजनिंग का खतरा होता है। ये होने वाले बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।

3.वैसे तो मछली ( fish ) खाने से शरीर को प्रोटीन मिलता है। मगर प्रेगनेंसी में उच्च वसा वाली मछलियों को खाने से बचना चाहिए। इससे गर्भ के ठहरने में दिक्कत आती है। ये मिसकैरिज की आशंका को बढ़ा देता है। इसलिए पेनिश मेकरल, मार्लिन या शार्क, किंग मकरल और टिलेफिश जैसी मछलियों को खाने से बचें।

4.अंकुरित दालें और चने स्वास्थ के लिए लाभकारी होते हैं। मगर प्रेगनेंसी में इसके सेवन से गर्भ के गिरने का डर रहता है। क्योंकि कच्ची अंकुरित दालों में साल्मोनेला, लिस्टेरिया और ई-कोलाई जैसे बैक्टीरिया मौजूद होते हैं। इससे उल्टी या दस्त की शिकायत हो सकती है। जो मां और बच्चे दोनों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

5.पनीर सेहत के लिए अच्छा होता है। मगर गर्भावस्था में इसका ज्यादा सेवन ठीक नहीं है। क्योंकि पनीर को बनाने में बिना पाश्चुरीकृत दूध का इस्तेमाल होता है। ऐसे में इसमें लिस्टेरिया नाम का बैक्टीरिया मौजूद होता है। इसकी वजह से गर्भपात और समय से पहले प्रसव का खतरा बढ़ सकता है।

pregnancy risks

6.गर्भावस्था के दौरान चाय, कॉफी का सेवन भी खतरनाक हो सकता है। इसमें पाया जाने वाला कैफीन अनिद्रा की समस्या पैदा कर सकता है। इससे टेंशन भी बढ़ सकती है। इससे मिसकैरिज का खतरा बढ़ता है।

7.अमेरिकन कॉलेज ऑफ ऑब्सट्रीसियन एंड गाइनेकोलोजिस्ट और अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के शोधकर्ताओं के अनुसार प्रेगनेंसी में गलती से भी शराब का सेवन न करें। इससे बच्चे का दिमागी विकास रुक सकता है। इससे गर्भ के गिरने का भी खतरा रहता है।

9.प्रेगनेंसी में चाइनीज फूड जैसे-चाउमीन, मोमोज, फ्राइड राइस आदि का सेवन न करें। इनमें मोनो सोडियम गूलामेट नामक रसायन होता है। जो भ्रूण के विकास को प्रभावित करता है। इसके चलते बच्चा अपंग पैदा हो सकता है।

10.गर्भावस्था के दौरान ज्यादा नमक भी न खाएं। क्योंकि इसमें सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है। ये महिला के ब्लड प्रेशर को बढ़ा सकता है। जिससे होने वाले बच्चे को भी खतरा हो सकता है।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned