घर में न रखें मां लक्ष्मी की ऐसी मूर्ति, फायदे की जगह हो सकता है नुकसान

घर में न रखें मां लक्ष्मी की ऐसी मूर्ति, फायदे की जगह हो सकता है नुकसान

Soma Roy | Publish: Sep, 06 2018 10:55:41 AM (IST) दस का दम

गलत दिशा एवं स्वरूप में रखी गई मां लक्ष्मी की मूर्ति से हो सकता है धन का नुकसान

नई दिल्ली। हिंदू धर्म में मां लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है। माना जाता है कि उनकी कृपा से घर में कभी भी धन की कमी नहीं होती है। इससे खुशहाली एवं सम्पन्नता आती है। देवी को प्रसन्न करने के लिए लोग घर पर मां लक्ष्मी की मूर्ति भी रखते हैं। मगर क्या आपको पता है गलत तरीके से देवी की मूर्ति रखने से फायदे की जगह नुकसान हो सकता है।

1.अक्सर हम घर पर मां लक्ष्मी की मूर्ति रखते हैं। अनजाने में कई लोग देवी की खड़ी प्रतिमा भी रख लेते हैं, लेकिन क्या आपको पता है मां की इस स्वरूप में की गई पूजा शुभ फल नहीं देती है।

2.हिंदू धर्म के अनुसार देवी लक्ष्मी को चंचल माना गया है। कहते हैं कि उनकी खड़ी मूर्ति रखने से वो घर पर नहीं टिकती हैं। उनके जाने से घर से सम्पन्नता भी चली जाती है। इसीलिए घर पर हमेशा देवी की बैठी हुई मूर्ति रखनी चाहिए।

3.घर पर कभी भी देवी मां की ऊंची मूर्ति नहीं रखनी चाहिए। क्योंकि उनका कद जितना बढ़ेगा घर में धन-धान्य की वृद्धि उतनी ही कम होगी। इसलिए घर पर हमेशा उनकी मध्यम आकार की प्रतिमा रखें।

4.देवी लक्ष्मी की मूर्ति कभी भी उल्लू पर बैठी हुइ्र न रखें। क्योंकि उल्लू भी चंचल स्वभाव का होता है और चूंकि ये मां लक्ष्मी का वाहन है। इसलिए इस पर विराजमान होने से देवी एक जगह कभी नहीं टिकती हैं।

5.ज्यादातर घरों में मां लक्ष्मी की मूर्ति गणेश जी के साथ रखी जाती है। मगर वास्तव में ये गलत है। दरअसल मां लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी हैं, इसलिए उनकी मूर्ति विष्णु जी के साथ रखी जानी चाहिए। जबकि गणेश जी को महज दीवाली के दिन साथ रखना चाहिए।

6.दीवाली पर गणेश लक्ष्मी का साथ होना शुभता का प्रतीक माना जाता है। क्योंकि भगवान गणेश को देवों में प्रथम पूजनीय माना जाता है। साथ ही वो बुद्धि के देवता भी कहलाते हैं। जबकि देवी लक्ष्मी धन की देवी हैं। ऐसे में दोनों का साथ विराजमान होना घर में सुख-समृद्धि लाता है।

7.कई लोग घर पर देवी लक्ष्मी की सेरेमिक की मूर्ति रखते हैं। जबकि शास्त्रों में पीतल, कांसा एवं मिट्टी से बनी हुई मूर्ति को ही शुद्ध माना जाता है। इसके अतिरिक्त अन्य किसी चीज की मूर्ति को अशुद्ध माना जाता है। यदि देवी की मूर्ति का स्वरूप खड़े हुए हो तो इससे मूर्ति दोष लगता हैं

8.बहुत से लोग देवी की मूर्ति को दीवार से व सिंहासन पर सटाकर रखते हैं। जबकि वास्तु शास्त्र के अनुसार ये एक तरह का दोष होता है। इसलिए मूर्ति से किसी चीज के बीच की दूरी कम से कम दो इंच होनी चाहिए।

9.देवी लक्ष्मी की मूर्ति को सही दिशा में भी रखना बेहद जरूरी है। क्योंकि गलत दिशा में रखी गई मां की प्रतिमा से कोई शुभ लाभ नहीं मिलेगा। देवी मां की मूर्ति को हमेशा उत्तर दिशा में रखें। क्योंकि ये दिशा कुबेर की कहलाती है।
10.कई लोग घर में एक से ज्यादा मां लक्ष्मी की मूर्ति एवं तस्वीरें रखते हैं, लेकिन शास्त्रों के अनुसार ये बिल्कुल गलत है। इससे शुभ परिणाम नहीं मिलते हैं। एक साथ कई लक्ष्मी जी की मूर्ति होने से घर में पैसा नहीं टिकता है।

Ad Block is Banned