हरियाली तीज : ये है पूजा का शुभ मुहूर्त, शिव-पार्वती को करें इन 10 तरीकों से प्रसन्न

हरियाली तीज : ये है पूजा का शुभ मुहूर्त, शिव-पार्वती को करें इन 10 तरीकों से प्रसन्न

Soma Roy | Updated: 02 Aug 2019, 01:17:24 PM (IST) दस का दम

  • Hariyali Teej shubh muhurat :हरियाली तीज को पूर्वी भारत में कज्जली तीज के नाम से भी जानते हैं
  • तीज के दिन माता पार्वती और शिव का मिलन हुआ था

नई दिल्ली। सावन महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरियाली तीज के तौर पर मनाया जाता है। इस बार यह पर्व 3 अगस्त यानि कल मनाया जाएगा। इस दिन शिव-पार्वती के पूजन का विधान है। अगर पूजा शुभ मुहूर्त में की जाए तो दोगुना लाभ हो सकता है।

1.सावन माह में शिव और देवी पार्वती कैलाश छोड़कर धरती पर निवास करते हैं। इसलिए उनकी पूजा करने से सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।

इस बार नाग पंचमी पर 20 साल बाद बन रहा है ये शुभ संयोग, जानें इससे जुड़ी 10 खास बातें

2.हरियाली तीज का व्रत सौभाग्य और सुहाग के लिए रखा जाता है। चूंकि सावन में चारो ओर हरियाली रहती है इसलिए इस दिन हरे रंग की चीजें पहनना शुभ होता है।

3.हरियाली तीज के दिन पूजा का शुभ मुहूर्त दोपहर 3:31 मिनट से रात 10:21 मिनट तक रहेगा। इस दौरान शिव परिवार का पूजन करना अच्छा होगा।

4.हरियाली तीज के दिन ही मां पार्वती का शिव से मिलन हुआ था। इसलिए हरियाली तीज के दिन मिट्टी के बने शिव-पार्वती की प्रतिमा की स्थापना करें और उनका गंगाजल से अभिषेक करें। इससे पति की आयु लंबी होती है।

5.दाम्पत्य जीवन को सुखमय बनाने के लिए हरियाली तीज के दिन सुहाग का सामान देवी पार्वती को अर्पण करना शुभ माना जाता है। इसके अलावा किसी विवाहित ब्राम्हण महिला को इसका दान करने से भी लाभ होता है।

hariyali teej

6.उत्तरी भारत में इस त्योहार को हरियाली तीज के नाम से जाना जाता है। जबकि पूर्वी भारत में इसे कज्जली तीज कहा जाता है। इस दिन पीपल के पेड़ की सात परिक्रमा करने से सौभाग्य की प्राप्ति होती हैं

7.हरियाली तीज पर विवाहित महिलाओं को उनकी सास या ससुराल की ओर से सिंजारा भेजा जाता है। इसमें सभी श्रृंगार का सामान होता है।

8.हरियाली तीज के दिन हरी चूड़ियां पहननें और मेंहदी लगाने से देवी पार्वती प्रसन्न होती हैं। इससे सुख-समृद्धि आती है। साथ ही परिवार का महौल खुशनुमा बनता है।

9.हरियाली तीज पर मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए देवी पार्वती को 11 भीगे हुए चने चढ़ाने चाहिए। पूजन के बाद इसे विवाहित महिला को पानी से निगलना चाहिए। ऐसा करने से आपकी सारी इच्छाएं पूरी होंगी।

10.हरियाली तीज के दिन चावल और दक्षिणा दान में देने से कभी भी घर में अन्न और धन की कमी नहीं होती है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned