आईटीसी चेयरमैन वाई.सी देवेश्वर की ये रहीं 10 खास बातें, बिस्किट बनाकर कंपनी को कराया था करोड़ों का मुनाफा

  • वाई.सी देवेश्वर को साल 2011 में पद्म विभूषण से किया गया था सम्मानित
  • इनकी अगुवाई में आईटीसी कंपनी ने ई-चौपाल नामक सुविधा की शुरुआत की थी

Soma Roy

May, 1103:25 PM

दस का दम

नई दिल्ली। पिछले कुछ समय से गंभीर बीमारियों से जूझ रहे आईटीसी के चेयरमैन और सीईओ रहे वाईसी देवेश्वर ने आज दुनिया को अलविदा कह दिया। वे 72 साल के थे। उन्होंने अपने करियर में अपनी डिग्री और अनुभवों का बेहतर इस्तेमाल किया। तभी उन्होंने कई सफल मॉडल बनाएं। मगर उन्हें सबसे ज्यादा कामयाबी एक बिस्कुट के प्रोडक्ट से मिली। जिसने उन्हें स्टार बना दिया। आज हम आपको वाई.सी देवेश्वर की जिंदगी से जुड़ी 10 खास बातों के बारे में बताएंगे।

आईटीसी के चेयरमैन वाईसी देवेश्वर के निधन से दुखी PM मोदी, ट्वीट कर लिखा यह संदेश

1.आईटीसी के सीईओ रहे वाई.सी देवेश्वर का पूरा नाम योगेश चंद्र देवेश्वर है। उनका जन्म 4 फ़रवरी 1947 को भारत के लाहौर शहर में हुआ था।

2.उन्होंने इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बी.टेक किया था। इसके अलावा उन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल मैसाचुसेट्स से एएमपी डिप्लोमा और संयुक्त राज्य अमेरिका के कॉर्नेल विश्वविद्यालय से होटेल मैनेजमेंट का भी कोर्स किया था।

3.देवेश्वर ने साल 1968 में आईटीसी कंपनी ज्वाइन की थी। जो आगे जाकर साल 1984 में इसी कंपनी के निदेशक नियुक्त हुए। वे इस पद पर साल 1996 तक काबिज रहे।

4.जुलाई 2011 में उन्‍हें 5 साल के लिए चेयरमैन घोषित कर दिया गया। साल 2017 में उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया था। देवेश्वर को उनके बेहतरीन बिजनेस पॉलीसीस के लिए जाना जाता है।

5.उन्होंने किसानों तक कंपनी की पहुंच बढ़ाने के लिए साल 2000 में ई-चौपाल की शुरूआत की थी। इससे कंपनी को किसानों से सस्ते रेट में कच्चा माल मिल जाता था।

जानें केदारनाथ से जुड़ी 10 दिलचस्प बातें, इस जगह बैल के रूप में भोलेनाथ ने दिए थे दर्शन

6.मगर देवेश्वर को उनके बिजनेस प्लान में सबसे ज्यादा कामयाबी सन फीस्ट बिस्किट के लॉन्च के जरिए मिली। उनकी कंपनी ने ये प्रोडक्ट साल 2001 में मार्केट में उतारा था।

7.एक बिस्किट प्रोडक्ट पर मिली सफलता के बाद उन्होंने साल 2007 में बिंगो सैनेक्स भी लॉन्च किया। इससे उनकी कंपनी ने फूड मार्केट में एक बड़ा हिस्सा हासिल किया।

8.वाई.सी देवेश्वर की अगुवाई में आईटीसी कंपनी को खूब फायाद हुआ था। इससे कंपनी की 5200 करोड़ से बढ़कर 51,500 करोड़ रुपए हो गई थी।

9.बिजनेस के क्षेत्र में बेहतरीन काम करने के लिए उन्हें कई अवार्ड्स से सम्मानित भी किया जा चुका है। साल 2011 में उन्हें पद्म भूषण से सम्मान किया गया था।

10.इसके अलावा देवेश्वर को साल 2011 में यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल की तरफ से ग्लोबल लीडरशिप अवार्ड और साल 2012 में उन्हें बिजनेस लीडर ऑफ द ईयर के अवार्ड से भी नवाजा गया है।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned