दस साल पहले शुरू हुई थी साक्षी मिश्रा और अजितेश की लव स्टोरी, जानें उनके रिश्ते से जुड़ी ये 10 बातें

  • sakshi and ajitesh love story : साक्षी के भाई का दोस्त था अजितेश, पहले से थी जान पहचान
  • हॉस्टल छोड़ने जाने के दौरान साक्षी से अजितेश की हुई थी दोस्ती

By: Soma Roy

Published: 15 Jul 2019, 12:32 PM IST

नई दिल्ली। अपने पिता से बचकर भाग रहीं बरेली भाजपा विधायक राजेश मिश्रा की बेटी साक्षी मिश्रा ने इलाहाबाद हाई कोर्ट से अपनी शादी को वैध करार देने की अपील की थी। इसी सिलसिले में अदालत में आज हुई सुनवाई में कोर्ट ने साक्षी और उनके पति अजितेश के रिश्ते को मान्य घोषित किया है। साथ ही उन्हें सुरक्षा मुहैया कराने के आदेश दिए हैं। पिछले कुछ हफ्तों साक्षी की शादी को लेकर सवाल उठ रहे थे। आज हम आपको उनकी लव स्टोरी से जुड़ी कुछ खास बातों के बारे में बताएंगे।

1.साक्षी मिश्रा के घरवालों का कहना है कि उन्हें साक्षी और अजितेश के रिश्ते के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। जबकि अजितेश और उनकी पत्नी के मुताबिक दोनों के परिवार वालों को इसके बारे में पता था।

बीजेपी का ये विधायक बना मोदी का दुश्मन! इन 10 प्वाइंट्स में समझे पूरा मामला

2.बताया जाता है कि अजितेश और साक्षी की लव स्टोरी करीब दस साल पुरानी है। साक्षी जयपुर के एक कॉलेज से मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई कर रही थीं। तभी छुट्टियों में वो अपने घर नोएडा आई हुईं थीं। तब उनकी बातचीत अजितेश से हुई थी।

3.साक्षी अजितेश को पहले से जानती थीं क्योंकि वो उनके भाई का दोस्त है। घर में अजितेश का आना-जाना पहले से था। मगर जब साक्षी का भाई विक्की, अजितेश के साथ अपनी बहन को जयपुर उसके हॉस्टल छोड़ने गए तभी साक्षी से अजितेश की बातचीत अच्छी हुई थी।

4.बताया जाता है कि दोनों ने उसी वक्त अपने नंबर एक्सचेंज किए थे। तब से उनकी फोन पर बातचीत होने लगी। दोनों को लगने लगा कि वे एक-दूसरे के लिए परफेक्ट हैं। तभी उन्होंने आपस में शादी करने का फैसला लिया था। साक्षी ने पढ़ाई पूरी होने के बाद अपने घरवालों को अपने रिश्ते के बारे में बताया था।

4.साक्षी के घरवालों को अजितेश पसंद नहीं था। क्योंकि वो दलित समुदाय का है। ऐसे में साक्षी ने अजितेश के साथ इलाहाबाद के जानकी मंदिर में शादी कर ली थी। इसमें बेहद करीबी लोग शामिल थे।

5.अजितेश साक्षी से उम्र में बड़े हैं। दोनों की आयु में 5 से 6 साल का अंतर है। साक्षी के पिता राजेश मिश्रा का आरोप है कि अजितेश ने उनकी बेटी को बहला-फुसलाकर शादी की है। उस वक्त साक्षी नाबालिग थी। हालांकि साक्षी और उनके पति का दावा है कि दोनों ने बालिग उम्र में शादी की है।

sakshi with his father

6.अजितेश का आरोप है कि साक्षी के घरवालों को उनके रिश्ते के बारे में पहले से पता था। मगर उनके दलित जाति से होने के चलते साक्षी के पिता को उनका रिश्ता पसंद नहीं था। इसके चलते उन्होंने साक्षी पर कई बंदिशें भी लगा रखी थी।

7.साक्षी का आरोप है कि उनके पिता उन्हें फेसबुक चलाने नहीं थे। साथ ही अन्य सोशल साइट्स से भी दूर रखते थे। इसके अलावा उन्हें घर से निकलने की ज्यादा आजादी नहीं थी।

8.साक्षी के मुताबिक उनके घर में लड़के और लड़की में आज भी भेदभाव होता है। तभी वे शुरू से उन्हें दबाकर रखना चाहते थे। मगर अजितेश से शादी करने के उनके फैसले ने सबको उनका दुश्मन बना दिया।

9.मालूम हो कि साक्षी और अजितेश 3 जुलाई से घर से बाहर हैं। उनके मुताबिक दोनों की जान को साक्षी के घरवालों से खतरा है। इसके लिए उन्होंने इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। जिसमें उन्होंने अपनी शादी को वैध माने जानें और सुरक्षा मुहैया कराए जाने की अपील की थी।

10.इसी मामले में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने साक्षी और अजितेश के फेवर में निर्णय दिया है। हालांकि रिश्ते से नाखुश होने के चलते दंपत्ति को साक्षी के घरवालों और उनके समर्थकों की खरी-खोटी सुननी पड़ रही है। अदालत में साक्षी के पति को कुछ वकीलों ने थप्पड़ भी जड़ें हैं।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned