शीला दीक्षित की इस रेसिपी की दीवानी हो गई थीं इंदिरा गांधी, जानें उनकी निजी जिंदगी से जुड़े 10 मजेदार किस्से

शीला दीक्षित की इस रेसिपी की दीवानी हो गई थीं इंदिरा गांधी, जानें उनकी निजी जिंदगी से जुड़े 10 मजेदार किस्से

Soma Roy | Updated: 21 Jul 2019, 06:00:06 PM (IST) दस का दम

  • sheila dikshit personal life : कॉमनवेल्थ गेम्स के समय अक्षरधाम के संत से हुई थी शीला की मुलाकात, बिना देखे की थी एक-दूसरे से बात
  • अनुशासन का पाठ पढ़ाने के लिए बाथरूम में अपने बच्चों को बंद कर देती थीं शीला

नई दिल्ली। राजनीति की दुनिया में शीला दीक्षित की छवि एक तेज तर्रार नेता की रही है। तीन साल तक दिल्ली की मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काबिज रहीं शीला की पर्सनल लाइफ भी काफी दिलचस्प रही है। एक तरफ जहां उन्होंने अपनी रेसिपी से पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का दिल जीता था। तो वहीं अपने बच्चों को अनुशासन में रखने के लिए उन्होंने कई बार उन्हें बाथरूम में लॉक भी किया है। आज हम आपको शीला दीक्षित की जिंदगी से जुड़े कुछ ऐसे ही मजेदार किस्सों के बारे में बताएंगे।

1.एक दिन शीला दीक्षित के ससुर उमा शंकर दीक्षित ने इंदिरा गांधी को अपने घर पर खाने के लिए बुलाया था। तब शीला ने इंदिरा को घर का बना खाना सर्व किया। इसके बाद मीठे में उन्होंने आइस्क्रीम और जलेबी को मिक्स करके एक नई डिश पेश की। शीला ने ये दोनों चीजें मिलाकर एक प्रयोग किया था, जो इंदिरा गांधी को बहुत पसंद आया था। अगले दिन इंदिरा गांधी ने शीला के यहां अपना कुक भेजकर इसकी रेसिपी पूछी थी।

शीला दीक्षित को हुई थी 23 दिनों की जेल, लगे थे ये 10 आरोप

2.शीला दीक्षित के दो बच्चे हैं। उनके बेटे का नाम संदीप और बेटी का नाम लतिका है। उनकी बेटी के मुताबिक शीला दीक्षित अपने बच्चों को अनुशासन में रखने के लिए काफी सख्ती बरतती थीं। बच्चों के गलती करने पर वो उन्हें बाथरूम में बंद कर देती थीं। हालांकि उन्होंने अपने बच्चों पर कभी हाथ नहीं उठाया।

3.शीला दीक्षित को फिल्में देखने का बहुत शौक था। वो शाहरुख खान की फैन थीं। उन्होंने शाहरुख की दिलवाले दुलहनिया ले जाएंगे कई बार देखी। इस मूवी के प्रति शीला की दीवानगी देख उनके बच्चे भी हैरान थे। शीला की बेटी लतिका के अनुसार शाहरुख के अलावा शीला दीक्षित दिलीप कुमार को भी काफी पसंद करती थीं।

4.शीला दीक्षित को गाने सुनने का भी खूब शौक था। उन्हें 90 के दशक के गाने बहुत पसंद थे। वो अक्सर अपने खाली टाइम में ऐसे तराने गुनगुनाया करती थीं।

5.शीला दीक्षित की लव लाइफ भी काफी दिलचस्प रही है। उनकी मुलाकात पति विनोद से कॉलेज में हुई थी। तब शीला को विनोद बिल्कुल पसंद नहीं थे। मगर उनके एक कॉमन फ्रेंड का झगड़ा सुलझाने के सिलसिले में दोनों की बात होने लगी थी।

sheila dikshit and vinod

6.दोस्ती गहराने पर विनोद और शीला दीक्षित बस में साथ जाया करते थे। विनोद शीला के साथ 10 नंबर की बस में बैठकर फिरोजशाह रोड जाया करते थे। तभी अचानक एक दिन विनोद ने शीला के सामने शादी का प्रस्ताव रखा था। तब ये बात सुनकर वो एकदम दंग रह गई थीं। शादी के प्रपोजल की बात अपनी बहन को बताई थी। मगर परिवार के डर के चलते उन्होंने अपने माता-पिता को इस बारे में नहीं बताया था।

7.शुरुआत में विनोद के घरवालों ने शादी का विरोध किया था। मगर बाद में मसला सुलझ गया था। एक बार विनोद जी काे लखनऊ से अलीगढ़ जाना था, मगर ट्रेन छूट गर्इ। उन्होंने शीला से कहा कि वे उन्हें कानपुर से ट्रेन पकड़वा दें। जब शीला अपने पति को ट्रेन में बिठाकर कानपुर से वापस जाने लगीं, तभी रात में बारिश होने लगी। जिसमें वो फंस गई थीं।

8.शीला कानपुर की सड़कों से अंजान थीं। वो अकेली, भीगी हुई सड़कों पर इधर-उधर भटक रहीं थीं। तभी रास्ते में उन्हें कुछ मनचले मिल गए। वो उन्हें देखकर गाना गाने लगे थे। इसी बीच उन्हें एक पुलिसवाला दिखा। तब उन्होंने उससे पुलिस स्टेशन ले जाने को कहा और उनसे मदद मांगी। पुलिसवाले के ध्यान न देने पर शीला ने पुलिस कमिश्नर को फोन कर दिया। तब रात के डेढ़ से दो बजे के बीच वो पुलिसवालों के साथ अपनी गाड़ी से लखनऊ पहुंचीं। हालांकि शीला ने गाड़ी खुद ही ड्राइव की थी।

9. कॉमनवेल्थ गेम्स के आयोजन के दौरान भी शीला दीक्षित के साथ एक दिलचस्प घटना हुई थी। उस दौरान मीटिंग के लिए उनकी मुलाकात अक्षरधाम मंदिर के प्रमुख संत से हुई। मगर मान्यताओं के अनुसार उनका किसी भी स्त्री को देखना वर्जित था। ऐसे में शीला दीक्षित से बातचीत करने के लिए दोनों अलग-अलग कमरे में बैठे। एक संदेशवाहक के जरिए दोनों ने बात की।

10.अक्षरधाम मंदिर के संत चाहते थे कि कॉमनवेल्थ गेम्स में सभी मेहमानों को वेजिटेरियन खाना परोसा जाए। मगर शीला के अनुसार इसमें कई विदेशी लोग भी आने वाले थे। ऐसे में शाकाहारी खाना देना संभव नहीं था। संत को मनाने के लिए शीला को खूब मशक्कत करनी पड़ी थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned