पूजा-पाठ छोड़ ये 10 बाबा अपनी शिष्याओं को बनाते थे हवस का शिकार, ऐसे खुली पोल

पूजा-पाठ छोड़ ये 10 बाबा अपनी शिष्याओं को बनाते थे हवस का शिकार, ऐसे खुली पोल

Soma Roy | Publish: Sep, 04 2018 12:20:27 PM (IST) दस का दम

नई दिल्ली। हर रोज तमाम ढोंगी बाबाओं की खबरें आती रहती है, इसके बावजूद लोग इनकी जाल में फंस जाते हैं। ये फर्जी बाबा न सिर्फ गलत तरीके से पैसा बनाते हैं, बल्कि ये लड़कियों को अपनी हवस का शिकार भी बनाते हैं। आज हम आपको ऐसे 10 ढोंगी बाबाओं के बारे में बताएंगे जो अपनी ही शिष्याओं को निशाना बनाते थे। तो कैसे खुला इनका राज आइए जानते हैं।

1.ढोंगी बाबाओं की लिस्ट में सबसे पहला नाम आसाराम बापू का आता है। क्योंकि इनके हजारों भक्त थे। मगर किसी को क्या मालूम था कि संत की आड़ में इसके अंदर शैतान छिपा हुआ है। दरअसल आसाराम को एक नाबालिक लड़की के साथ रेप करने का दोषी पाया गया था। तब से वो राजस्थान की जोधपुर की जेल में बंद है। इतना ही नहीं आसाराम पर तंत्रमंत्र के नाम पर बच्चों की हत्या का भी आरोप है।

2.लड़कियों के साथ बदसलूकी करने एवं अपनी ही शिष्याओं को अपनी हवस का शिकार बनाने के मामले में राम रहीम का भी नाम सामने आया था। राम रहीम को दो साध्वियों के साथ रेप करने के आरोप में 20 साल की सजा सुनाई गई है। तब से वो जेल में बंद है। मालूम हो कि बाबा राम रहीम आश्रम के तैखाने में अपनी शिष्याओं के साथ दुष्कर्म करता था। इतना ही नहीं बाबा अपनी काली करतूतों को छिपाने और दूसरे पुरुषों को स्त्री सेविकाओं से दूर रखने के लिए उस पर पुरुषों के गुप्तांगों को कटवाने का भी आरोप लगा था।

3.महिलाओं के साथ छेड़खानी करने के मामले में इन दिनों शनिधाम के संस्थापक दाती महाराज का भी नाम खूब चर्चाओं में है। बाबा और उनके सहयोगियों पर अपने आश्रम में सेविकाओं के साथ बलात्कार करने की बात सामने आई थी। इसके तहत उनके दिल्ली और राजस्थान स्थित आश्रम में तलाशी ली गई। जिसमें कई शक के सबूत मिले हैं, हालांकि पुलिस अभी तक उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

4.बाबा रामपाल पर भी यौन शोषण के आरोप लग चुके हैं। पुलिस की ओर से उनके आश्रम में हुई छानबीन के दौरान यौन शक्ति बढ़ाने वाली दवाइयां, कंडोम के ढेरों पैकेट्स और अन्य शक्तिवर्धक दवाएं मिली थीं। बाबा पर अपनी शिष्याओं को कैदकर उनके साथ दुष्कर्म का आरोप लगा था। इसके अलावा उन पर हरियाणा में समर्थकों को भड़काकर हिंसा फैलाने का भी आरोप लगा था।

5.भीमानंद महाराज भी यौन शोषण के मामले में फंस चुके हैं। चित्रकूट में रहने वाले इन बाबा पर सेक्स रैकेट चलाने का आरोप लगा था। इसी के चलते सन् 1997 में में उन्हें दिल्ली से गिरफ्तार भी किया गया था, लेकिन जेल से छूटने हुए भीमानंद ने खुद को सांई बाबा का अवतार घोषित कर दिया था। बाबा ने करोड़ों की सम्पत्ति बनाई हुई है।

6.बाबा सच्चिदानंद भी साधु के वेश में अपनी शिष्याओं का इस्तेमाल कर रहे थे। इस बात का खुलासा साल 2017 में हुआ, जब उनके आश्रम से चार महिलाएं भागने में कामयाब हुईं। बताया जाता है कि बाबा सत्संग के बहाने स्त्रियों एवं शिष्याओं का गलत फायदा उठाता था।

7.कौशलेंद्र उर्फ फलाहारी बाबा पर भी शिष्या से रेप का आरोप लग चुका है। बताया जाता है कि बाबा ने अपनी शिष्या को नशीला पदार्थ खिलाकर धोखे से उससे संबंध बनाएं हैं। मामला छत्तीसगढ़ के बिलासपुर का है। महिला की शिकायत पर बाबा कौशलेंद्र पर रेप का मुकद्मा दर्ज किया गया था।

8.महंत सुंदर दास बाबा भी दुराचारी बाबाओं की लिस्ट में शामिल हैं। इन पर अपनी शिष्याओं के साथ दुष्कर्म करने का आरोप है। उनकी इस घिनौती हरकत का पर्दाफाश उन्हीं की एक शिष्या ने किया था। उसका आरोप था कि बाबा उन्हें किसी न किसी बहाने से अपने कमरे में बुलाता था और उनके साथ गंद हरकतें करता था।

9.दिल्ली में एक अध्यात्मिक विश्वविद्यालय के नाम पर आश्रम चलाने वाले वीरेंद्र देव दीक्षित भी पीछे नहीं है। उन्होंने तो खुद को कलयुण का कृष्ण घोषित कर दिया और खुलेआम 16000 महिलाओं के साथ संबंध बनाने का लक्ष्य रखा। हालांकि बाबा के इस खौफनाक मंसूबे की भनक उनकी एक शिष्या को लग गई तब उन्होंने इसका पर्दाफाश किया। तब से लेकर अब तक बाबा पर करीब 10 से भी ज्यादा मुकदमें दर्ज हो चुके हैं।

10.दिल्ली का एक ढोंगी बाबा जिसका नाम बाबा नब्बे भगत है, उस पर भी लड़कियों के साथ छेड़खानी का आरोप लगा है। बताया जाता है कि बाबा बच्चियों को आशीर्वाद देने के बहाने उन्हें अपनी गोद में बिठा लेता था और उन्हें गलत तरीके से छूता था। बाबा ये घिनौना काम अपने आश्रम में पिछले 10 सालों से कर रहा था। बाद में बाबा की इस हरकत पर उन्हें गिरफ्तार भी किया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned