मोदी सरकार ने दो महीने पहले दिया दीपावली का तोहफा, इन लोगों का बढ़ाया 1500 रुपए वेतन

मोदी सरकार ने दो महीने पहले दिया दीपावली का तोहफा, इन लोगों का बढ़ाया 1500 रुपए वेतन

Saurabh Sharma | Publish: Sep, 22 2018 01:36:46 PM (IST) | Updated: Sep, 22 2018 03:20:34 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

आंगनवाड़ी कर्मी को अब तक 3000 रुपए प्रत‍ि माह म‍िल रहे हैं और तो अब उन्‍हें 4500 रुपए दिए जाएंगे।

नर्इ दिल्ली। मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन बढ़ाने के बीच आंगनवाड़ी और आशा कर्म‍ियों के मानदेय में बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी है। पीएम मोदी ने एेसा कर दीपावली से दो माह पहले ही इन कर्मचारियों को जश्न मनाने का मौका दे दिया है। अब केंद्रीय कर्मचारियों की मांग पूरी होने की भी उम्मीद बढ़ गर्इ है। जानकारों की मानें तो सरकार जल्द ही उनके न्यूनतम वेतन 18000 से 26 हजार रुपए कर सकती है। आपको बता दें कि पिछले कर्इ महीनों से केंद्रीय कर्मचारी न्यूनतम वेतन बढ़ाने की मांग कर रहे है। आइए आपको भी बताते हैं कि मोदी सरकार की आेर से किन किन कर्मचारियों के वेतन में इजाफा कर दिया है।

इन कर्मचारियों का बढ़ाया वेतन
आंगनवाड़ी कर्मी को अब तक 3000 रुपए प्रत‍ि माह म‍िल रहे हैं और तो अब उन्‍हें 4500 रुपए दिए जाएंगे। इसी त‍रह लघु-आंगनवाड़ी केंद्र पर कार्यरत कर्म‍ियों को अब 2200 रुपए की जगह 3500 रुपये प्रति माह म‍िलेंगे। वहीं आंगनवाड़ी सहायिकाओं के लिए मानदेय 1500 रुपए से बढ़ाकर 2250 रुपए प्रति माह किया गया। आईसीडीएस-सीएएस जैसी तकनीकों का इस्तेमाल करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं को 250 रुपए से लेकर 500 रुपए तक अतिरिक्त कार्य आधारित प्रोत्साहन राशि मिलेगी। वहीं आशा कर्मियों के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत नियमित प्रोत्साहन राशि 1000 रुपए से बढ़ाकर 2000 रुपए प्रति महीने करने के लिए मंजूरी दी है। मोदी ने 11 सितंबर को ही आंगनवाड़ी और आशा कर्मी महिलाओं के लिए मासिक मानदेय बढ़ाने की घोषणा की थी।

कर्इ महीनों से कर रहे थे मांग
केंद्रीय कर्मचारी कर्इ महीनों से न्‍यूनतम वेतनमान 18000 से बढ़ाकर 26000 रुपए प्रति माह करने की मांग कर रहे हैं। बीते दिनों कर्मचारियों ने इसे लेकर प्रदर्शन भी किया था, जिसमें रेलवे कर्मचारी भी शामिल हुए थे। ऑल इंडिया प्रोटेस्‍ट डे नेशनल ज्‍वाइंट काउंसिल ऑफ एक्‍शन ने बुलाया था। यह केंद्र सरकार के कर्मचारी संगठनों की सर्वोच्‍च इकाई है। इसकी मांग है कि न्‍यूनतम भत्‍ते को बढ़ाया जाए, नई योगदान वाली पेंशन योजना को खत्‍म किया जाए और पेंशन फिटमेंट फॉर्मूला में ऑप्‍शन 1 को मंजूरी दी जाए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned