20 हजार से कम नहीं होगी केन्द्रीय कर्मचारी की सैलरी!

पे-कमीशन के कुछ उच्च स्तरीय सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि सभी सरकारी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में 30 से 40 फीसदी की बढ़ोतरी की जाएगी

नई दिल्ली। पे-कमीशन के कुछ उच्च स्तरीय सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि सभी सरकारी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में 30 से 40 फीसदी की बढ़ोतरी की जाएगी। मौजूदा समय में एक सरकारी कर्मचारी की ग्रेड 'पेÓ के साथ कम से कम 7,730 रुपए बेसिक सैलरी है। इस सैलरी में डियरनेस व अन्य अलाउंस को शामिल नहीं किया गया है। वहीं सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद किसी भी सरकारी कर्मचारी की बेसिक सैलरी डीए व अन्य अलाउंसेज को शामिल किए बिना कम से कम 20 हजार रुपए होगी।

सातवें वेतन आयोग से जुड़ी हर नई-पुरानी खबर पढऩे के लिए यहां जुड़ें

नीची ग्रेड वाले सरकारी कर्मचारियों को ज्यादा सैलरी देने के अलावा पे-कमीशन को ज्यादा सैलरी मिलने वाले और कम सैलरी वाले लोगों के बीच असमानता का भी खयाल रखना होगा। केंद्र सरकार के एक अधिकारी ने कहा है कि डीए के साथ एक ज्वाइंट सैक्रेटरी को 128000 रुपए सैलरी मिलती है। मुझे नहीं लगता है कि उनकी सैलरी 1,60,000 रुपए से ज्यादा होनी चाहिए।

पहले, दूसरे, तीसरे, चौथे, पांचवे और छठे पे-कमीशन में सैलरी क्रमश: 35 रुपए, 80 रुपए, 260 रुपए, 950 रुपए, 3050 रुपए और 7730 रुपए रही है। सुझावों के लिए कमिशन ने पहले ही स्टेकहोलडर्ड, फेडरेशंस, सिविल कर्मचारियों का नेतृत्व करने वाले ग्रुप्स से बातचीत कर ली है। वहीं अब सिर्फ सुझावों को फाइनलाइज करना बाकी रह गया है। माना जा रहा है कि सातवें पे-कमीशन में सरकारी कर्मचारियों की रिटायरमेंट उम्र के साथ छेड़छाड़ नहीं की जाएगी और रिटायरमेंट की उंम्र 60 वर्ष की रहेगी।
Show More
पवन राणा Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned