देश के लोगों को मिली थोक महंगाई दर से राहत, 1.08 फीसदी पर बरकरार

देश के लोगों को मिली थोक महंगाई दर से राहत, 1.08 फीसदी पर बरकरार

Saurabh Sharma | Updated: 16 Sep 2019, 01:28:06 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

देश में लोगों के लिए अचछी खबर यह है कि अगस्त महीने में थोक महंगाई दर में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है। जुलाई के मुकाबले अगस्त में 1.08 फीसदी महंगाई दर रही है।

नई दिल्ली। जीडीपी, खुदरा महंगाई दर, इकोनॉमिक स्लोडाउन, ऑटो सेक्टर में गिरावट जैसी तमाम बुरी खबरों के बीच देश की सरकार और लोगों को एक अच्छी खबर मिली है। जो देश के लोगों को काफी राहत भी दे सकती है। अच्छी खबर यह है कि थोक महंगाई दर में किसी तरह का इजाफा नहीं हुआ है। वहीं इसमें किसी तरह का कटौती भी देखने को नहीं मिली है। अगस्त में थोक महंगाई दर जुलाई के मुकाबले में समान ही हैं। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर सरकार द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार अगस्त में थोक महंगाई दर कितनी रही।

यह भी पढ़ेंः- सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हमलाः भारत में बढ़ सकती हैं पेट्रोल-डीजल की कीमतें

नहीं हुआ थोक महंगाई दर में बदलाव
अगस्त 2019 की थोक महंगाई दर में जुलाई की तुलना में कोई बदलाव नहीं हुआ। अगस्त में थोक महंगाई दर 1.08 फीसदी रही। जबकि, पिछले साल समान अवधि में थोक महंगाई दर 4.62 फीसदी थी। जानकारों की मानें तो थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति जुलाई में घटकर 1.08 फीसदी पर आ गई थी। इससे पहले पिछले महीने जून में थोक महंगाई दर पिछले 23 महीनों के निम्न स्तर 2.02 प्रतिशत पर थी।

यह भी पढ़ेंः- सऊदी अरब की ऑयल फील्ड पर ड्रोन हमलों से शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 200 अंक फिसला

इनमें कम हुई कीमतें
जानकारी के अनुसार सब्जियों, ईंधन और बिजली से जुड़े सामानों की कीमतों में कमी के कारण थोक महंगाई दर में लगातार तीसरे महीने गिरावट दर्ज की गई है। इससे पहले पिछले साल जुलाई 2018 में महंगाई दर 5.27 फीसदी पर थी। सस्ते ईंधन तथा खाद्य सामग्रियों के कारण थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) आधारित मुद्रास्फीति जुलाई महीने में कई साल के निचले स्तर 1.08 फीसदी पर आ गई।

यह भी पढ़ेंः- प्राइवेट हाथों में जाएगा देश के पहला फाइव स्टार होटल अशोका

खाद्य सामग्रियों की कीमतों में राहत
डब्ल्यूपीआई आधारित मुद्रास्फीति इस साल जून में 2.02 फीसदी तथा पिछले साल जुलाई में 5.27 फीसदी थी। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक जुलाई महीने में खाद्य सामग्रियों की मुद्रास्फीति जून के 6.98 फीसदी से नरम होकर 6.15 फीसदी पर आ गई।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned