देश के 14 राज्यों की जीडीपी से ज्यादा टैक्स देती है मुकेश अंबानी की रिलायंस

मुकेश अंबानी ने दावा किया है उनके द्वारा दिया गया जीएसटी 42,552 करोड़ एक रिकाॅर्ड है।

By: Saurabh Sharma

Updated: 05 Jul 2018, 12:41 PM IST

नर्इ दिल्ली। आज रिलायंस इंडस्ट्री की एजीएम मीटिंग में मुकेश अंबानी ने कंपनी द्वारा दिए टैक्सों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी ने इस जितना जीएसटी दिया है वो एक रिकाॅर्ड है। कंपनी द्वारा दी गर्इ कस्टम एंड एक्साइज ड्यूटी का आंकड़ा भी रिकाॅर्ड स्तर पहुंच गया है। वहीं कंपनी का आयकर भी काफी बड़ा है। अगर इन तीनों टैक्सों को जोड़ दिया जाए तो देश के 14 प्रदेशों को जीडीपी से भी ज्यादा है। ये बात हम नहीं कह रहे हैं। बल्कि आंकड़ें बता रहे हैं।

मुकेश अंबानी ने दिया इतना टैक्स
अपनी एजीएम की मीटिंग में मुकेश अंबानी ने बताया कि उन्होंने इस बार सरकार को जीएसटी 42,552 करोड़ दिया है। मुकेश अंबानी ने दावा किया है उनके द्वारा दिया गया जीएसटी एक रिकाॅर्ड है। वहीं अगर एक्साइज एवं कस्टम ड्यूटी की बात करें तो कंपनी ने इस साल 36,312 करोड़ रुपए का टैक्स दिया है। वो भी एक रिकाॅर्ड बताया जा रहा है। वहीं कंपनी के इनकम टैक्स की बात करें तो वो भी करीब 9000 करोड़ रुपए बताया जा रहा है।

14 राज्यों के जीडीपी से भी ज्यादा
वहीं अगर इन तीनों टैक्यों को जोड़ दिया जाए तो करीब 87,864 करोड़ रुपए बन रहा है। ताज्जुब की बात तो ये है देश के 14 राज्य एेसे हैं जिनकी जीडीपी 80 gहजार करोड़ से नीचे हैं। अगर बात गोआ की करें तो वहां की जीडीपी 70 हजार करोड़ रुपए हैं। जबकि देश के 9 राज्य एेसे हैं जिनकी सभी की जीडीपी काे मिला दिया जाए तो रिलायंस इंडस्ट्री के टैक्स के बराबर बन रही है। वहीं देश के 13 राज्यों की जीडीपी रिलायंस द्वारा दिए गए जीएसटी के बराबर भी नहीं है।

ये है वो देश 14 राज्यों की जीडीपी

राज्य जीडीपी (करोड़ में)
गोवा 70,400
चंडीगढ़ 30,304
त्रिपुरा 29,666
मेघालय 29,567
पुडुचेरी 29,557

अरुणाचल प्रदेश

19,492
मणिपुर 18,042
नगालैंड 17,727
मिजोरम 17,561
सिक्किम 16,637
अंडमार एंड निकोबार 6,150
दादर एंड नागर हवेली 2,440
दमन एंड द्वीव 1,059
लक्ष्यद्वीप 407
Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned