चालू वित्त वर्ष में बढ़ेगा औषधि का निर्यात, 22 अरब डॉलर तक पहुंचेगा

चालू वित्त वर्ष में बढ़ेगा औषधि का निर्यात, 22 अरब डॉलर तक पहुंचेगा

Shivani Sharma | Publish: Sep, 13 2019 04:48:54 PM (IST) | Updated: Sep, 13 2019 04:49:38 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • 22 अरब डॉलर हो सकता है औषधि का निर्यात
  • वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के द्वारा मिली जानकारी

नई दिल्ली। देश का औषधि निर्यात चालू वित्त वर्ष में बढ़कर 22 अरब डॉलर पर पहुंचने की उम्मीद है। बीते वित्त वर्ष (2018-19) में औषधि निर्यात 19.14 अरब डॉलर था। भारतीय फार्मास्युटिकल निर्यात संवर्द्धन परिषद (फार्मेस्किल) के एक शीर्ष अधिकारी का कहना है कि हमें अमेरिकी बाजार में सुधार की संभावना तथा चीन सरकार की नीतियों में कुछ बदलाव से निर्यात बढ़ने की उम्मीद है।


उदय भास्कर ने दी जानकारी

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के तहत आने वाले फार्मेस्किल के महानिदेशक उदय भास्कर ने शुक्रवार का यहां संवाददाताओं से कहा कि चीन की सरकार ने कुछ ऐसे नीतिगत फैसले किए हैं जो फार्मा निर्यातकों के लिए अनुकूल बैठ सकते हैं। जुलाई, 2019 में देश का औषधि निर्यात 21.7 प्रतिशत बढ़कर 1.72 अरब डॉलर पर पहुंच गया।


ये भी पढ़ें: पाकिस्तान में हो सकते हैं कंगाली जैसे हालात, मूडीज ने दी चेतावनी


6.17 अरब डॉलर रहा निर्यात

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से जुलाई की अवधि में औषधि निर्यात का आंकड़ा 6.17 अरब डॉलर रहा है। इस अवधि में औषधि निर्यात में 13 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई। भास्कर ने बताया कि जून,2019 तक देश का जेनेरिक दवाओं का निर्यात वैश्विक जेनेरिक बाजार की तुलना में 2.7 से 2.8 गुना अधिक तेज रफ्तार से बढ़ा है।


बढ़ेगा औषधि निर्यात

भास्कर ने कहा कि ऐसे में हमें उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष कुल औषधि निर्यात 22 अरब डॉलर के आंकड़े को छू जाएगा। फार्मेस्किल द्वारा 19-20 सितंबर को यहां दो दिन की अंतरराष्ट्रीय नियामकों की बैठक का आयोजन किया जा रहा है। इस बैठक में 25 देशों से 40 प्रतिनिधियों के भाग लेने की उम्मीद है। इनमें कुछ दवा नियामक भी शामिल हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned