नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने कहा, अगले 5 साल के दौरान 7 फीसदी आर्थिक वृद्धि के लिए प्रतिबद्ध

नीति आयोग के उपाध्यक्ष ने कहा, अगले 5 साल के दौरान 7 फीसदी आर्थिक वृद्धि के लिए प्रतिबद्ध

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 17 Jul 2019, 06:54:02 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

  • नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि अभी भारत एक बड़े बदलाव की दिशा में है और सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि समावेश इसका एक हिस्सा हो।

नई दिल्ली। भारत ने कहा है कि वह अगले पांच साल के दौरान आर्थिक वृद्धि ( economic growth Rate ) दर को सात फीसदी के पार ले जाने को प्रतिबद्ध है। साथ ही वह यह भी सुनिश्चित करेगा कि स्थिरता और विकास को लेकर किसी तरह की दुविधा नहीं रहे।

वहीं संयुक्त राष्ट्र ( United Nations ) के शीर्ष अधिकारियों ने सतत विकास लक्ष्यों ( SDG ) को हासिल करने की दिशा में भारत की शानदार प्रगति की ‘सराहना’ की है।


संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में एक विशेष कार्यक्रम ‘प्रतिबद्धता से हासिल करने तक: एसडीजी के स्थानीयकरण को लेकर भारत का अनुभव’ को मंगलवार को संबोधित करते हुए नीति आयोग ( niti aayog ) के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ( Rajiv Kumar ) ने कहा कि अभी भारत एक बड़े बदलाव की दिशा में है और सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि समावेश इसका एक हिस्सा हो।

यह भी पढ़ें - कैसे 5 ट्रिलियन डाॅलर की अर्थव्यवस्था बनेगा भारत? विदेशी कर्ज पर स्वदेशी जागरण मंच ने किया विराेध

कुमार ने कहा, ‘‘अगले पांच साल के दौरान हमारा लक्ष्य वृद्धि दर को सात प्रतिशत के पार ले जाने का है। हम जानते हैं कि अपने युवा लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हमें ऊंची वृद्धि दर हासिल करनी होगी। साथ ही हम रास्ते में आने वाली अड़चनों का भी ध्यान रखना होगा।’’

उन्होंने कहा कि उसके बाद ही हम वृद्धि का लाभ उन लोगों तक पहुंचा सकेंगे जिनके पास इसे पहुंचाना हैं। हम ऐसे लोगों को बेहतर शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य,बिजली की बेहतर आपूर्ति, अक्षय ऊर्जा उपलब्ध कराना चाहते हैं। कुमार ने कहा कि अब हम अगले दो दशक में अपनी वृद्धि को तेज करना चाहेंगे। इससे भारत 2030 तक ऐसे देश के रूप में उभर सकेगा, जिसने एसडीजी के लक्ष्यों का एक बड़ा हिस्सा हासिल किया है। इनमें से कुछ तय तारीख से पहले हासिल किए जा सकेंगे।

यह भी पढ़ें - अंतिम AGM में अजीम प्रेमजी ने गांधी को किया याद, संपत्ति दान से लेकर पर्यावरण पर की बात

इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के प्रशासक एचिम स्टेनर ने भारत की महत्वाकांक्षी पहलों की सराहना करते कहा कि इनकी वजह से लोगों का जीवनस्तर सुधर रहा है और एसडीजी आगे बढ़ रहा है।

(नोटः यह खबर न्यूज एजेंसी फीड से प्रकाशित की गई है। पत्रिक बिजनेस ने इसमें हेडलाइन के अतिरिक्त अन्य बदलाव नहीं किया है। )

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें Patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned