scriptRBI Governor said about economy and inflation, know what | इकोनॉमी और महंगाई को लेकर आरबीआई गवर्नर की ओर से कही गई बड़ी बात, जानिए क्या कहा | Patrika News

इकोनॉमी और महंगाई को लेकर आरबीआई गवर्नर की ओर से कही गई बड़ी बात, जानिए क्या कहा

  • वित्त वर्ष 2022 के लिए आर्थिक विकास दर का अनुमान 10.5 फीसदी पर लगाया
  • चौथी तिमाही के लिए खुदरा महंगाई दर का अनुमान किया रिवाइज, 5.2 फीसदी किया

नई दिल्ली

Updated: February 05, 2021 11:53:50 am

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को प्रमुख ब्याज दर रेपो रेट 4 फीसदी पर स्थिर रखने की घोषणा की। आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति यानी एमपीसी की बैठक मैं लिए गए फैसलों की घोषणा करते हुए दास ने कहा कि देश की आर्थिक विकास की संभावनाओं में काफी सुधार हुआ है और महंगाई दर 6 फीसदी के नीचे आई है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर आर्थिक विकास और महंगाई को लेकर क्या कहा।

RBI Governor said about economy and inflation, know what
RBI Governor said about economy and inflation, know what

10.5 फीसदी का लगाया अनुमान
आरबीआई की एमपीसी में वित्त वर्ष 2022 के लिए आर्थिक विकास दर का अनुमान 10.5 फीसदी लगाया गया है। वहीं दूसरी ओर मौजूदा वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में खुदरा महंगाई दर का अनुमान 5.8 फीसदी से रिवाइज कर दिया है। अब अनुमानित दर 5.2 फीसदी लगाई है। शक्तिकांत दास ने कहा कि दूसरी तिमाही में मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की पूरी क्षमता का उपयोग 63.3 फीसदी तक बेहतर हो चुका है। जबकि हालिया महीनों में एफडीआई और विदेशी संस्थागत निवेश इजाफा देखने को मिला है।

टॉलरेंस लेवल पर आई महंगाई
रिजर्व बैंक ने वित्त वर्ष 2022 की पहली छमाही में खुदरा महंगाई दर के अनुमान को रिवाइज कर दिया है। आंकड़ों के अनुसार नई अनुमानित दर 5 से 5.2 फीसदी कर दिया है। पहले इस अनुमान को 4.6-5.2 फीसदी पर रखा था। आरबीआई गवर्नर के अनुसार महंगाई दर 6 फीसदी के टॉलरेंस लेवल पर आ चुकी है। आर्थिक विकास का अनुमान पहले से बेहतर देखने को मिल रहा है। ऐसे में एमपीसी का मानना है कि मौजूदा समय में ग्रोथ को सपोर्ट करना जरूरी है।

यह भी पढ़ेंः- होम और ऑटो लोन लेने वालों को आरबीआई ने दी बड़ी राहत, जानिए कितना चुकाना होगा ब्याज

रेपो और रिवर्स रेट में कोई बदलाव नहीं
आज रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की एमपीसी ने रेपो और रिवर्स रेपो दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। आरबीआई के अनुसार रेपो रेट 4 फीसदी है, जो ऐतिहासिक रूप से कम है। आखिरी बार रेपो और रिवर्स रेपो में 22 मई 2020 को बदलाव किया गया था। कोरोना वायरस के कारण इसमें बदलाव आरबीआई बैठक के बिना ही किया गया था। बीते एक साल में आरबीआई रेपो रेट में कुल 1.15 फीसदी की कटौती की है। जानकारों की मानें तो आर्थिक विकास बढ़ाने से ज्यादा जरूरी है। इसलिए रेपो दर बढ़ाए जाने की उम्मीद नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट में एकनाथ शिंदे सरकार को मिला बहुमत, 164 विधायकों ने किया समर्थनपीएम मोदी आज जाएंगे आंध्र प्रदेश, अल्लुरी सीताराम राजू की प्रतिमा का करेंगे अनावरणहिमाचल प्रदेश के कुल्लू में बड़ा हादसा, सैंज घाटी में गिरी बस, बच्चों समेत 16 लोगों की मौतNCR के एरिया का दायरा कम करना चाहती है हरियाणा सरकार, विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा जता चुके हैं विरोधDelhi News Live Updates: दिल्ली विधानसभा के मॉनसून सत्र में शामिल नहीं होंगे केजरीवालMaharashtra Politics: बागी विधायकों पर संजय राउत ने फिर बोला हमला, बोले-उन्हें इतनी सुरक्षा दी गई जितनी कसाब की भी नहीं थीCoronavirus News Live Updates in India : एक्टिव केस 1,13,864भारतीय रेलवे ने आज कैंसल की 131 ट्रेनें, जानें क्यों
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.