अगले तीन महीनों में देश में यात्रा के लिए सिर्फ एक ट्रैवल कार्ड का होगा इस्तेमाल

अगले तीन महीनों में देश में यात्रा के लिए सिर्फ एक ट्रैवल कार्ड का होगा इस्तेमाल

Saurabh Sharma | Publish: Sep, 22 2018 09:42:46 AM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय कॉमन मोबिलिटी कार्ड पर काम कर रहा है, जिसे अगले तीन महीनों में लॉन्च करने की योजना है।

नर्इ दिल्ली। अब जल्द ही देश भर में कहीं पर भी घूमने के लिए आपको अलग-अलग पेमेंट ऑप्शन की जरूरत नहीं पड़ेगी। आपके बटुए में पड़ा एक ही कार्ड हर राज्य में और हर तरह के परिवहन माध्यम पर काम करेगा। इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय कॉमन मोबिलिटी कार्ड पर काम कर रहा है, जिसे अगले तीन महीनों में लॉन्च करने की योजना है। इसका सबसे बड़ा फायदा वक्त की बचत, भ्रष्टाचार पर लगाम और भुगतान में पारदर्शिता होगा। अगर योजना सही ढंग से लागू हुई तो बताया जा रहा है कि मुसाफिरों को इस कार्ड के जरिये किराये में छूट भी मिलेगी।

दो मंत्रालय मिलकर रहे हैं काम
सूत्रों की मानें तो इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय एक साथ एक काॅमन मोबिलिटी कार्ड पर काम कर रहे हैं। जिसे इस साल दिसंबर तक देश भर में लागू करने की योजना है। मंत्रालय ने इस योजना में अपने साथ राष्ट्रीय भुगतान निगम को भी अपने साथ जोड़ा है। साथ ही सभी बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों के साथ बातचीत की जा रही है। ताकि कार्ड के माध्यम से किए गए भुगतान पूरे देश में स्वीकार किए जा सकें।

अगले तीन महीनों में हो जाएगा लागू
संबंधित अधिकारी ने योजना पर रोशनी डालते हुए कहा कि कार्ड पर काम तेजी के साथ चल रहा है। अगले तीन महीनों में इसे पूरे देश में लागू करने की योजना है। मौजूदा समय में मंत्रालय संबंधित स्टेकहोल्डर्स के साथ ट्रांजेक्शन पर बातचीत कर रहा है। साथ ही डेटा की सुरक्षा को सुनिश्चित करने पर काम किया जा रहा है। एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार इस कार्ड का इस्तेमाल यात्रा के अलावा अन्य चीजों के लिए डेबिट या क्रेडिट कार्ड की तरह भुगतान करने के लिए भी किया जा सकता है।

पूरे देश में होगा लागू
इस तरह का कार्ड लाने का सरकार का मकसद है कि यह सिर्फ किसी एक स्टेट या सिटी में ही नहीं बल्कि पूरे देश में किसी भी परिवहन के माॅड्यूल में इस्तेमाल किया जा सके। साथ ही लोगों की सहुलियत के लिए कार्ड का इस्तेमाल अन्य चीजों के लिए भी किया सके।

खुद कर सकेंगे स्वाइप
वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार सरकार ऑटो सेक्टर के लोगों से भी बात रही है। खासकर उन वाहन निर्माताआें से जो पब्लिक ट्रांसपोर्ट की गाड़ियों का निर्माण करती है। ताकि वो गाड़ियों के अपने वाहनों के साथ पीआेएस महीशों को भी साथ दे सकें। जिसके माध्यम से यात्री अपने कार्ड का इस्तेमाल आसानी से कर सकते हैं। यह कार्ड एक गेम चेंजर की तरह होगा। अगर पब्लिक ट्रांसपोर्ट व्हीकल जैसे आॅटो रिक्शा, कैब, बसों में पीआेएस मशीनें होंगी तो यात्रियों को सिर्फ अपने कार्ड को सिर्फ उसमें स्वाइप करना होगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned