आम आदमी के बाद अब कारोबारियों को राहत, लगातार तीसरे महीने कम हुई थोक महंगाई दर

आम आदमी के बाद अब कारोबारियों को राहत, लगातार तीसरे महीने कम हुई थोक महंगाई दर

Manish Ranjan | Publish: Mar, 14 2018 03:14:11 PM (IST) अर्थव्‍यवस्‍था

थोक महंगाई दर में कमी आने से फल और सब्जी कारोबारियों को भी बड़ी राहत मिली है।

नई दिल्ली। थोक महंगाई दर के मोर्चे पर राहत की खबर है। खुदरा महंगाई दर में कमी होने से आम आदमी को फायदा मिला था। अब थोक महंगाई दर में कमी आने से फल और सब्जी कारोबारियों को भी बड़ी राहत मिली है। फरवरी के महीने में थोक महंगाई दर घटकर 2.48 फीसदी पर आ गई है। जो जनवरी के महीने में 2.84 फीसदी पर थी। थोक महंगाई दर में कमी का ये लगातार तीसरा महीना है।

सब्जियों की कीमत घटी

थोक महंगाई दर में कमी की मुख्य वजह रही सब्जियों की कीमतों का कम होना। फरवरी के महीने में सब्जियों से जुड़ी महंगाई दर 40.77 फीसदी से घटकर 15.26 फीसदी पर आ गई है। जबकि अंडे और मांस से जुड़ी महंगाई दर भी 0.37 फीसदी से घटकर (-)0.22 फीसदी पर आ गई है।

मैन्युफैक्चरिंग महंगाई बढ़ी
मासिक आधार पर फरवरी में मैन्युफैक्चरिंग प्रोडक्ट्स की थोक महंगाई दर 2.78 फीसदी से बढ़कर 3.04 फीसदी रही है। जबकि प्राइमरी आर्टिकल्स की थोक महंगाई दर 2.37 फीसदी से घटकर 0.79 फीसदी रही है।

ईंधन और बिजली की दर बढ़ी
मासिक आधार पर फरवरी में ईंधन एवं बिजली की थोक महंगाई दर 4.08 फीसदी से घटकर 3.81 फीसदी रही है। महीने दर महीने आधार पर फरवरी में गैर-खाद्य पदार्थों की थोक महंगाई दर -1.23 फीसदी के मुकाबले -2.66 फीसदी रही है। महीने दर महीने आधार पर फरवरी में अंडे, मांस की थोक महंगाई दर 0.37 फीसदी से घटकर -0.22 फीसदी रही है। वही खाद्य महंगाई की अगर बात करें तो फरवरी महीने में खाद्य महंगाई दर 1.65 फीसदी से घटकर 0.07 फीसद रही है। फ्यूल एवं पावर क्षेत्र से जड़ी महंगाई दर 4.08 फीसद से घटकर 3.81 फीसदी रही है।

क्या होता है थोक महंगाई दर

सरकार ने महंगाई को मापने के लिए अलग-अलग एजेंसी और सूंचकांक बनाए हुए हैं। जिसके जरिए आकड़ें निकालें जाते हैं, जिससे पता चलता है कि देश में मंहगाई की क्या हालत है। आम आदमी की महंगाई के लिए खुदरा महंगाई दर होता है जबकि कारोबारियों के लिए थोक महंगाई दर।

 

Ad Block is Banned