अलीबाबा समूह वंचित छात्रों को 10 लाख पुस्तकें दान करेगा

अलीबाबा समूह वंचित छात्रों को 10 लाख पुस्तकें दान करेगा

Jamil Ahmed Khan | Publish: Sep, 06 2018 12:03:17 PM (IST) शिक्षा

अलीबाबा ग्रुप ने 'मिशन मिलियन बुक्स' के तहत इस साल के अंत तक 10 लाख पुस्तकें दान करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

अलीबाबा ग्रुप ने 'मिशन मिलियन बुक्स' के तहत इस साल के अंत तक 10 लाख पुस्तकें दान करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। दान से एकत्रित पुस्तकें बिना किसी खर्च के शैक्षणिक संस्थानों को वितरित की जाती हैं। परियोजना के तहत बहुत कम समय में ही आठ लाख से अधिक पुस्तकें एकत्र की गई, जिसमें से करीब सात लाख पुस्तकें दान भी की जा चुकी हैं। अलीबाबा ग्रुप ने वर्ष 2016 में इस परियोजना को शुरू किया था, जिसका लक्ष्य पूरे भारत में वंचित तबके के स्कूली और कॉलेज के छात्रों को 10 लाख पुस्तकें दान करना था ताकि उन्हें शिक्षा हासिल करने में मदद मिल सके और इस देश के बच्चे और युवा सशक्त बनें। इस परियोजना से भारत में 2,000 से अधिक संस्थानों के करीब 25 लाख विद्यार्थी लाभान्वित हुए हैं।

मदर टेरेसा की स्मृति में संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित अंतरराष्ट्रीय परोपकार दिवस पर अलीबाबा समूह के धर्मार्थ कोष अलीबाबा फाउंडेशन ने यूसीवेब के साथ मिलकर 'फिलैनथ्रपी कांफ्रेंस' 2018 का बुधवार को आयोजन किया। यह चीन से बाहर पहली बार आयोजित किया गया। दिल्ली में 'लव एंड इनफिनिटी' की थीम पर आयोजित कार्यक्रम में शिक्षा, बाल संरक्षण और महिला सशक्तिकरण पर व्यापक जन जागरूकता एवं कार्रवाई की वकालत की गई।

अलीबाबा ग्रुप का बाल शिक्षा में सुधार लाने का एक अन्य प्रयास 'यूसी शिक्षा' अभियान है। यूसी शिक्षा एक ऑनलाइन से ऑफलाइन पुस्तक दान कार्यक्रम है जिसमें दो महीने के भीतर 15 लाख यूजर ने भागीदारी की है और इससे 50,000 विद्यार्थी लाभान्वित हुए हैं। यूसी ने इस परियोजना का दायरा बढ़ाने की योजना बनाई है जिससे जरूरतमंद अधिक बच्चों की व्यापक तरीके से मदद की जा सके।

इसके साथ ही अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी ने 'हैशशेडसर्वर्सटूनो' नाम से ऑनलाइन महिला सशक्तिकरण अभियान शुरू किया है और बॉलीवुड अदाकारा कंगना रनौट को इसका सहयोगी बनाया है। इस अवसर पर अलीबाबा डिजिटल मीडिया एंड एंटरटेनमेंट ग्रुप की कंपनी यूसी के अध्यक्ष शुनयान झू ने कहा, हम पहली बार फिलैनथ्रपी कॉन्फ्रेंस को चीन से बाहर यहां भारत लेकर आए हैं। यह अलीबाबा के लिए भारत के महत्व को दर्शाता है।

उन्होंने कहा, यूसी ब्राउजर ने भारत में पहली बार यूसी वुमेन्स चैनल स्थापित किया है, जो जीवनशैली, फैशन और करियर के बारे में जानकारी उपलब्ध कराता है। यह महिलाओं को स्वयं के विकास और संभावनाओं का एहसास कराने पर ध्यान केंद्रित करता है। महिला उन्मुख इस चैनल ने अप्रैल में अपनी लांचिंग के समय से 75 लाख यूजर पर प्रभाव जमाया है। इसके अलावा, यूसी ने प्रख्यात बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौट और यूसी मिस क्रिकेट की विजेताओं की अगुवाई में 'हैशशेडसर्वर्सटूनो' अभियान शुरू किया है। इसके जरिये यह बताया जाता है कि कैसे महिलाओं को स्वयं को सशक्त बनाना चाहिए।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned