NSTSE एग्जाम से करें खुद का आंकलन

NSTSE एग्जाम से करें खुद का आंकलन

Jameel Khan | Publish: Sep, 02 2018 04:30:39 PM (IST) शिक्षा

नेशनल लेवल साइंस टैलेंट सर्च एग्जाम (NSTSE) सबसे पॉपुलर असेसमेंट एग्जाम है।

नेशनल लेवल साइंस टैलेंट सर्च एग्जाम (NSTSE) सबसे पॉपुलर असेसमेंट एग्जाम है। एनएसटीएसई एक डायग्नोस्टिक टेस्ट की तरह है, जो स्टूडेंट्स को उनकी ओवरऑल लर्निंग एबिलिटी और एजुकेशनल परफॉर्मेंस में सुधार करने में मदद करता है। अन्य टेस्ट जो ये पता लगा सकते हैं कि कोई छात्र कितना जानता है या कितना याद रखता है, इनके विपरीत एनएसटीएसई मापता है कि स्टूडेंट ने कॉन्सेप्टï्स को कितनी अच्छी तरह समझ लिया है और उसमें इम्प्रूव करने में मदद के लिए विस्तृत फीडबैक प्रोवाइड करता है। इस प्रकार एनएसटीएसई प्रत्येक छात्र को यह जानने में मदद करता है कि उसने कॉन्सेप्ट ही ढंग से समझा है या नहीं।

यह है एग्जाम पैटर्न
अक्सर स्टूडेंट्स में कॉन्सेप्चुअल गैप होता है, जब स्टूडेंट्स हायर क्लासेज में जाते हैं तो यह गैप विषय के प्रति उनके फोबिया में बदल जाता है। ऐसे में एनएसटीएसई इस तरह के फोबिया से स्टूडेंट्स को बचाने में मदद करता है। एनएसटीएसई के एग्जाम पैटर्न की बात करें तो इसमें सभी सवाल ऑब्जेक्टिव टाइप पूछे जाएंगे, जिनमें गलत उत्तर पर नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी। परीक्षा में कक्षा दो के छात्रों से मैथ्स और जनरल साइंस के 25-25 सवाल पूछे जाएंगे। कक्षा 3 से 5 के छात्रों से मैथ्स के 25, जनरल साइंस के 30 व क्रिटिकल थिंकिंग के 5 और छठी से 10वीं तक के छात्रों से मैथ्स के 25, फिजिक्स, कैमिस्ट्री व बायोलॉजी के 10-10 व क्रिटिकल थिंकिंग के 5 प्रश्न पूछे जाएंगे। 11वीं व 12वीं में मैथ्स या बायो से 25, फिजिक्स व कैमिस्ट्री से 15-15 और क्रिटिकल थिंकिंग के 5 प्रश्न आएंगे।

क्या है योग्यता
दूसरी से लेकर 12वीं कक्षा तक में पढ़ रहे विद्यार्थी एनएसटीएसई के लिए आवेदन कर सकते हैं। 11वीं और 12वीं के वही विद्यार्थी आवेदन कर सकते हैं जिनके पास फिजिक्स, कैमिस्ट्री, मैथ्स या फिजिक्स, कैमिस्ट्री, बायोलॉजी विषय हैं। कक्षा-1 के छात्रों के लिए कोई ओपन सेंटर की सुविधा नहीं है। इनको स्कूल के जरिए ही आवेदन करना होगा।

ऐसे करें आवेदन
स्टूडेंट्स अपने स्कूल के जरिए या सीधे आवेदन कर सकते हैं। यूनिफाइड काउंसिल इंडिविजुअल आवेदन भी स्वीकार करता है। स्टूडेंट www.unifiedcouncil.com पर रजिस्ट्रेशन कर फीस का भुगतान कर सकता है। स्कूल के जरिए आवेदन करने वाले छात्र समेकित डिमांड ड्राफ्ट भेज सकते हैं।

एग्जाम फीस
इंडिविजुअल रजिस्ट्रेशन कराने वाले स्टूडेंट के लिए एग्जाम फीस 300 रुपए रखी गई है। इस फीस में दो मॉडल क्वेश्चन पेपर, स्टूडेंट्स परफॉर्मेंस रिपोर्ट, सक्सेस सीरीज बुक और पोस्टल चार्ज शामिल हैं। वहीं स्कूल के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाने पर स्टूडेंट को 150 रुपए एग्जाम फीस देनी होगी। इसके अलावा 15 रुपए परफॉर्मेंस रिपोर्ट के लगेंगे।

ये होंगे अवॉर्ड
दो लाख रुपए की पुरस्कार राशि किसी भी कक्षा के उस स्टूडेंट को दी जाएगी, जो 100 फीसदी अंक प्राप्त कर टॉपर बनेगा। कोई भी छात्र इतने अंक नहीं ला पाता है तो सभी कक्षाओं में से सबसे अधिक प्रतिशत अंक लाने वाले टॉपर को एक लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। हर कक्षा के टॉप-3 रैंकर्स को टेबलेट आदि मिलेगा।

-30 सितंबर 2018 आवेदन पत्र जमा करवाने की आखिरी तारीख है।

-6 दिसंबर 2018 से हॉल टिकट डाउनलोड किए जा सकते हैं।

-7 दिसंबर 2018 को सुबह 10.३० से 11.30 बजे तक स्कूल कैंडिडेट्स की परीक्षा होगी।

-16 दिसंबर 2018 को इंडिविजुअल या डायरेक्ट कैंडिडेट्स के लिए एनएसटीएसई आयोजित होगा।

-फरवरी 2019 के दूसरे हफ्ते में आंसर की वेबसाइट पर अपलोड की जाएगी।

Ad Block is Banned