सीबीएसई ने फिर बढ़ाई तिथि, एफीलिएशन के लिए स्कूल अब 30 जून तक कर सकते हैं आवेदन

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education) (सीबीएसई) (CBSE) ने संबद्धता के लिए स्कूलों द्वारा आवेदन जमा करने की समय सीमा को एक बार फिर आगे बढ़ा दिया है। बोर्ड ने देश में चल रही कोरोनावायरस की स्थिति को देखते हुए यह निर्णय लिया है।

By: Jitendra Rangey

Published: 27 Apr 2020, 06:58 PM IST

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education) (सीबीएसई) (CBSE) ने संबद्धता के लिए स्कूलों द्वारा आवेदन जमा करने की समय सीमा को एक बार फिर आगे बढ़ा दिया है। बोर्ड ने देश में चल रही कोरोनावायरस की स्थिति को देखते हुए यह निर्णय लिया है। इससे पहले, स्कूलों ने बोर्ड को लॉकडाउन के कारण आवेदन जमा करवाने में आ रही दिक्कतों से अवगत करवाया था, जिसके बाद मार्च में आवेदन करने की आखिरी तारीख 30 अप्रेल घोषित की गई थी। बोर्ड ने एक बार फिर आवेदन तिथि को आगे बढ़ा दिया है। अब स्कूल, बिना विलंब शुल्क के 30 जून तक आवेदन जमा कर सकते हैं।

तिथि को न केवल ताजा संबद्धता के लिए आगे बढ़ाया गया है, बल्कि सत्र 2020-21 के लिए संबद्धता के अपग्रडेशन और विस्तार के लिए भी बढ़ाया गया है। सीबीएसई ने एक आधिकारिक नोटिफिकेशन में कहा, बोर्ड के सक्षम अधिकारियों ने स्कूलों को 30 जून तक विभिन्न श्रेणियों के तहत संबद्धता के लिए ऑनलाइन आवेदन जमा करने के लिए मंजूरी दे दी है। नोटिफिकेशन में यह भी कहा गया है कि जिन स्कूलों में संबद्धता/अपग्रडेशन/विस्तार के लिए आवेदन प्रक्रियाधीन हैं, उन्हें कम्युनिकेशन के 30 दिनों के भीतर बोर्ड को ऑनलाइन स्पस्टीकरण/अनुपालन/दस्तावेज प्रस्तुत करना अनिवार्य होगा।

कोरोनावायरस के प्रकोप के कारण, केंद्र सरकार ने देशभर में लॉकडाउन घोषित कर रखा है, जिसके चलते सभी शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं (CBSE board exams) भी स्थगित कर दी गई हैं और संगठन ने परीक्षाओं के लिए नई तारीखें जारी नहीं की हैं। इससे पहले बोर्ड ने वॉट्सऐप, ईमेल और अन्य माध्यमों से भ्रामक संदेशों के बारे में एक चेतावनी जारी की थी, जिसमें संबद्धता प्रक्रिया के बारे में स्कूलों को मार्गदर्शन देने का दावा किया गया था। ऐसे संदेश सीबीएसई संबद्धता सलाहकार के नाम से आ रहे थे। बोर्ड ने स्पष्ट किया कि उसने इस उद्देश्य के लिए किसी एजेंसी/व्यक्ति को नियुक्त या अधिकृत नहीं किया है।

उल्लेखनीय है कि बोर्ड ने इससे पहले परीक्षाओं को लेकर चल रही फर्जी खबरों को लेकर भी चेतावनी भरा नोटिफिकेशन जारी किया था। नोटिफिकेशन में कहा गया था कि जो लोग भी ऐसी फर्जी खबरें फैला रहे हैं, उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई हैं और भविष्य में भी ऐसे कदम उठाए जा सकते हैं।

coronavirus
Jitendra Rangey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned