CBSE: बोर्ड ने किया बड़ा ऐलान! 10वीं, 12वीं के स्टूडेंट्स को मिलेगी बड़ी राहत

CBSE: बोर्ड ने इस संबंध में पिछले दिनों देशभर के स्कूलों को सर्कुलर जारी किया था। बोर्ड के इस फैसले के बाद स्टूडेंट्स को बड़ा फायदा होने वाला है।

By: सुनील शर्मा

Published: 08 Jul 2019, 01:20 PM IST

CBSE: सीबीएसई ने बोर्ड क्लासेज क्लीयर नहीं कर सके और माक्र्स इम्प्रूव के लिए फिर से एग्जाम देने वाले स्टूडेंट्स को राहत दी है। बोर्ड की नई व्यवस्था के अनुसार, १०वीं और १२वीं क्लास के जो स्टूडेंट्स इम्प्रूवमेंट के लिए एग्जाम देना चाहते हैं, वे 15 जुलाई तक रीएडमिशन के लिए अप्लाई कर दे। साथ ही जो स्टूडेंट्स इस बार बोर्ड क्लासेज में फेल हो गए हैं, ऐसे स्टूडेंट्स भी 15 जुलाई तक रीएडमिशन के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इससे पहले दोनों ही कैटेगरी के स्टूडेंट्स प्राइवेट कैंडिडेट के रूप में एग्जाम दिया करते थे। बोर्ड के इस फैसले के बाद फेल हो चुके और इम्प्रूव करने वाले बच्चे रेगुलर स्टूडेंट्स के रूप में एडमिशन ले सकेंगे।

बोर्ड को बनाकर भेजनी होगी रिपोर्ट
बोर्ड ने इस संबंध में पिछले दिनों देशभर की सीबीएसई स्कूलों को सर्कुलर जारी किया था। सर्कुलर के अनुसार, स्टूडेंट्स को स्कूल के माध्यम से रिपोर्ट बनाकर सीबीएसई को भेजनी होगी। हालांकि ऐसे केसेज में बोर्ड को कोई आपत्ति नहीं होती है, तो कैंडिडेट को रेगुलर स्टूडेंट के रूप में एडमिशन दे दिया जाएगा। वहीं पेरेंट्स के ट्रांसफर केस वाले स्टूडेंट्स को एनओसी सहित पूरे डॉक्टूमेंट्स स्कूल में जमा कराने होंगे। इसके बाद ही संबंधित स्कूल बोर्ड को स्टूडेंट की रिपोर्ट भेज सकेगा।

Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned