सीबीएसई के 6 लाख विद्यार्थी बुधवार को दोबारा देंगे अर्थशास्त्र का पेपर

देश भर में 12वीं कक्षा के करीब छह लाख विद्यार्थी बुधवार को फिर से होने वाली अर्थशास्त्र की परीक्षा में शामिल होंगे।

By: कमल राजपूत

Published: 24 Apr 2018, 06:19 PM IST

पाठ्यक्रम को दोबारा पढ़ने को लेकर परेशान और परीक्षा में पिछले प्रदर्शन जैसे या फिर उससे बेहतर करने को लेकर चिंतित देश भर में 12वीं कक्षा के करीब छह लाख विद्यार्थी बुधवार को फिर से होने वाली अर्थशास्त्र की परीक्षा में शामिल होंगे। प्रश्न-पत्र लीक होने के बाद सीबीएसई ने परीक्षा को रद्द कर दिया था। अब यह परीक्षा देश भर के चार हजार केंद्रों पर दोबारा आयोजित की जा रही है।

हालांकि बोर्ड ने विदेशी विद्यार्थियों को दोबारा से होने वाली परीक्षा में शामिल होने से छूट दी है। बोर्ड ने अपनी जांच में पाया कि पेपर लीक होने का प्रभाव उनके नतीजों पर नहीं पड़ेगा। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के एक अधिकारी ने बताया, बुधवार को चार हजार केंद्रों पर होने वाली परीक्षा में करीब छह लाख विद्यार्थी शामिल होंगे। सुरक्षा इंतजामों से जुड़े सवाल पर बोर्ड के अधिकारी का कहना था कि बोर्ड ने परीक्षा कराने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा इंतजाम किए हैं, जिन्हें सुरक्षा कारणों से उजागर नहीं किया जा सकता।

दूसरी बार परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों ने बताया कि वे कम तैयारी को लेकर चिंतित नहीं है, बल्कि इस बार कठिन प्रश्न-पत्र की संभावना को लेकर चिंतित हैं। मायापुरी स्थित टैगोर सीनियर सेकंडरी स्कूल की छात्रा सृष्टि ने कहा, दोबारा से पेपर देना बड़ा तकलीफदेह है। मैंने उसी तरीके से तैयारी की, जैसे पिछली बार की थी। लेकिन कुछ कह नहीं सकते अगर उन्होंने कठिन पेपर तैयार किया हो।

आपको बता दें 12वीं की अर्थशास्त्र विषय की एग्जाम पहली बार गत माह 26 मार्च को करवाई गई थी। लेकिन उस समय में मीडिया में खबरें आई की सीबीएसई की 12th क्लास की अर्थशास्त्र का पेपर लीक हो गया है। बहुत कम टाइम में पेपर लीक की खबर वायरल हो गई है, जिसके बाद बोर्ड ने इस परीक्षा को रद्द करने का फैसला किया। साथ ही कहा कि यह पेपर 25 अप्रैल,2018 को दोबारा आयोजित करवाया जाएगा।

 

कमल राजपूत Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned