CBSE ने शुरु किया Ideate for India, स्टूडेंट्स को मिलेंगे खास Prizes, ये हैं पूरी डिटेल्स

CBSE ने स्टूडेंट्स को इनोवेशन से जोडऩे के लिए उठाया कदम, शुरू की ‘Ideate for India’ वेबसाइट, स्टूडेंट्स को होगा फायदा

By: सुनील शर्मा

Published: 07 Jan 2019, 06:45 PM IST

स्टूडेंट्स में इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ सेकेण्डरी एजुकेशन (CBSE) की ओर से नए साल में खास पहल की जा रही है। दरअसल बोर्ड ने फैसला किया है कि वो स्टूडेंट्स को ऐसा प्लेटफॉर्म दें, जहां स्टूडेंट्स टेक्नोलॉजी की मदद से कई कम्यूनिटी प्रॉब्लम्स का सॉल्यूशन निकालने की कोशिश कर सकें, साथ ही अपने इनोवेशन के जरिए सोसाइटी को नई दिशा दे सकें।

स्टूडेंट्स को इनोवेशन में आगे बढ़ाने के लिए बोर्ड ने Ideate for India – Creative Solutions using Technology स्कीम शुरु की है। इसके लिए ‘Ideate’ वेबसाइट भी तैयार की है। इस प्लेटफॉर्म पर जाकर स्टूडेंट्स अपने आइडियाज को शेयर कर सकते हैं। इस पहल के जरिए आइडिया और टेक्नोलॉजी को मिलाने की वजह स्टूडेंट्स को नए प्रयोगों से जोडऩा है।

ऐसे करें स्टार्ट
स्टूडेंट्स को इसके लिए रजिस्टर करने हेतु http://negd.gov.in/ अथवा http://www.digitalindia.gov.in/ वेबसाइट ओपन करनी होगी। इन साइट्स के होम पेज पर 'Ideate for India – Creative Solutions using Technology' दिए गए लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद नया पेज ओपन होगा। इस पेज पर दिए गए इंस्ट्रक्शन्स को फॉलो करें तो इस पर आपकी आईडी बन जाएगी। आईडी बनने के बाद आप अपना ईमेल ओपन करें वहां पर मेल वेरिफिकेशन के लिए Verify your mail लिंक से आई ईमेल पर क्लिक करने से यह एक्टिवेट हो जाएगा। पूरी डिटेल्स के लिए आप यहां भी देख सकते हैं।

बनाना होगा 90 सेकंड का वीडियो
बोर्ड से मिली सूचना के अनुसार इस प्लेटफॉर्म पर अपना आइडिया प्रजेंट करने के लिए स्टूडेंट्स को 90 सेकंड का एक वीडियो बनाकर प्रजेंट करना होगा। इस वीडियो के दौरान स्टूडेंट्स को यह समझाना होगा कि आखिर उसने संबंधित सब्जेक्ट को किसलिए चुना है। बोर्ड ने सोसाइटी प्रॉब्लम सॉल्यूशन को डिफरेंट कैटेगरी में बांटा है, स्टूडेंट्स इनमें से किसी भी थीम को ऑप्ट कर सकते हैं। उल्लेखनीय है कि इन थीम में हेल्थकेयर सर्विस, एजुकेशन सर्विसेज, एनवॉयरमेंट, ट्रेफिक, इंफ्रास्ट्रक्चर और डिसेबिलटी जैसे कुल 11 सब्जेक्ट्स है।

360 स्टूडेंट्स होंगे सलेक्ट
बोर्ड ने स्टूडेंट्स को इस पहल से जोडऩे के लिए तीन चरण बनाए है। इसके तहत पहले चरण में हर स्टेट के 10 स्टूडेंट्स सलेक्ट होंगे। तीसरे चरण में 360 स्टूडेंट्स को पुरस्कृत भी किया जाएगा। खास बात यह है कि स्टूडेंट्स की ओर से सॉल्यूशन बताने के बाद उन्हें एक्सपट्र्स की ओर से टेक्निकल नॉलेज भी दिलवाई जाएगी। दिल्ली में होने वाले कार्यक्रम में स्टूडेंट्स की ओर से बनाए जाने वाले प्रोटोटाइप को शोकेस किया जाएगा।

टीचिंग मैथड़ को लेकर भी दे सकते हैं सुझाव
बोर्ड ने इस पहल के तहत जहां सोसाइटी (कम्यूनिटी) के लिए सुझाव मांगे हैं, वहीं स्टूडेंट्स से यह भी सुझाव मांगे है कि कैसे टीचिंग मैथड़ को और भी ज्यादा बेहतर बनाया जा सकता है।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned