मानव संसाधन विकास मंत्रालय तीन सप्ताह के लिए बंद

Coronavirus : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा 21 दिन के राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन (Lockdown) की घोषणा के बाद मानव संसाधन मंत्रालय (Human Resource Development) ने निर्देश दिया है कि अगले 3 सप्ताह तक मंत्रालय को बंद रखा जाएगा। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, गृह मंत्रालय द्वारा 24 मार्च 2020 को जारी किए गए आदेश के अनुपालन में, मानव संसाधन विकास मंत्रालय और उसके स्वायत्त तथा अधीनस्थ संस्थानों के सभी कार्यालय तीन सप्ताह की अवधि के लिए बंद रहेंगे।

Jamil Ahmed Khan

26 Mar 2020, 12:54 PM IST

coronavirus : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा 21 दिन के राष्ट्रव्यापी लॉक डाउन (Lockdown) की घोषणा के बाद मानव संसाधन मंत्रालय (Human Resource Development) ने निर्देश दिया है कि अगले 3 सप्ताह तक मंत्रालय को बंद रखा जाएगा। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, गृह मंत्रालय द्वारा 24 मार्च 2020 को जारी किए गए आदेश के अनुपालन में, मानव संसाधन विकास मंत्रालय और उसके स्वायत्त तथा अधीनस्थ संस्थानों के सभी कार्यालय तीन सप्ताह की अवधि के लिए बंद रहेंगे।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने तुरंत प्रभाव से अपने विभिन्न विभागों को 3 सप्ताह के लिए बंद करने का आदेश जारी किया है हालांकि इस दौरान सभी अधिकारी और कर्मचारी उक्त आदेश के अनुसार घर से काम करने को कहा गया है। मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस अवधि में ब्यूरो और विभागों के प्रमुख यह सुनिश्चित करेंगे कि भुगतान से संबंधित सभी वित्तीय मामलों विशेष रूप से वेतन और पेंशन जारी करने को सही तरीके से निबटाया जाए।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने सीबीएसई (CBSE) , एनआईओएस (NIOS) और एनटीए (NTA) को परीक्षाओं के संशोधित कार्यक्रम तैयार करने का भी निर्देश दिया है। इसके साथ ही स्वायत्त निकायों और एनसीईआरटी (NCERT) को वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर तैयार करने को कहा गया है।

गौरतलब है कि सीबीएसई पहले ही 10वीं और 12वीं कक्षा की शेष रह गई बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर चुका है। इन बोर्ड परीक्षाओं के लिए अभी कोई नई तिथि जारी नहीं की गई है। इसके अलावा स्कूलों की सभी गैर बोर्ड परीक्षाएं भी स्थगित की गई हैं। परीक्षाएं स्थगित करने के साथ ही देशभर में फैले विभिन्न कॉलेजों, विश्वविद्यालयों और अन्य शिक्षण संस्थानों को भी बंद रखने के आदेश जारी किए जा चुके हैं।

यह सभी तैयारियां विभिन्न राज्यों में फैले कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु की जा रही हैं। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए केंद्रीय विद्यालय समेत देशभर के कई स्कूलों ने पहली से 9वी और 11वीं कक्षा के नतीजे सोशल मीडिया के माध्यम से घोषित करने का निर्णय लिया है। अभिभावकों को उनके मोबाइल पर वॉट्सऐप के जरिए बच्चों के वार्षिक परीक्षा फल की जानकारियां दी जाएंगी। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि रिजल्ट लेने के लिए स्कूलों में छात्र-छात्राओं और अभिभावकों की भीड़ एकत्र ना हो सके।

जमील खान
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned