बड़ी खबर! स्टूडेंट्स एग्जाम में किताब से देख सकेंगे, सेंटर पर होगी कॉपी चेक

कोर्स की फीस भी होगी कम, ओपन बुक पैटर्न पर होंगे एग्जाम, सेंटर पर ऑनलाइन चैक होंगी कॉपी, जाने डिटेल्स

By: सुनील शर्मा

Published: 05 Jan 2020, 01:11 PM IST

द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टेर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) कोर्स को टेक्नोलॉजी से जोडऩे के साथ एग्जामिनेशन में कई बड़े बदलाव करने जा रहा है। आने वाले दिनों में सीए एग्जाम्स की सभी कॉपी ऑनलाइन ही चैक होगी। साथ ही कॉपी चैक करने के लिए टीचर को आइसीएआइ के सेंटर पर ही आना होगा। एग्जामिनर स्टूडेंट्स की कॉपी अपने साथ घर नहीं ले जा सकेंगे।

ये भी पढ़ेः ऑनलाइन चैक होगी कॉपी, हर तीन मिनट में टीचर की फोटो क्लिक करेगा वेबकैम

ये भी पढ़ेः इस ट्रिक से पानी बेचकर ही कमा लिए लाखों डॉलर, जानें पूरी कहानी

ये कहना है आइसीएआइ सेंट्रल काउंसिल मेंबर प्रकाश शर्मा का। शनिवार को जवाहर सर्किल स्थित एक गार्डन में आयोजित कॉन्वोकेशन सेरेमनी में पत्रिका प्लस से खास बातचीत में प्रकाश शर्मा ने सीए इंस्टीट्यूट की प्लानिंग को लेकर जानकारी साझा की। उन्होंने कहा कि कॉपी चैक करते वक्त सिस्टम हर तीन से पांच मिनट में एग्जामिनर की फोटो भी क्लिक करेगा।

ये भी पढ़ेः 10वीं पास करने के बाद करें ये डिप्लोमा कोर्सेज, कमाएं लाखों

ये भी पढ़ेः अब कम्प्यूटर लीजिए सिर्फ 2500 रुपए में

साथ ले जा सकेंगे बुक्स
उन्होंने कहा कि मेंबर्स के कई सारे कोर्सेज की फीस 30 प्रतिशत तक कम कर दी गई है। आने वाले दिनों में सीए एग्जाम के सभी पेपर्स ओपन बुक पैटर्न पर होंगे। जहां स्टूडेंट्स एग्जाम हॉल में अपने साथ बुक लेकर जा सकेंगे। अभी कुछ पेपर इस पैटर्न पर हो रहे हैं, जिसे जल्द ही सभी पेपर्स में लागू किया जाएगा।

टॉप रैंकर्स को मिलेगी ट्रेनिंग
उन्होंने कहा कि ऑल इंडिया मैरिट स्कोर करने वाले सीए स्टूडेंट्स को इंस्टीट्यूट रेडी टू इंडस्ट्री बनाएगा। इसके लिए पर्सनैलिटी डवलपमेंट के साथ उन्हें इंटरव्यू में अपीयर होने की ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्होंने बताया कि हाल ही में इसे पायलट प्रोजेक्ट के रूप में शुरू किया गया है। बैंगलूरु में सीए फाइनल में टॉप-५० रैंक स्कोर करने वाले १०६ स्टूडेंट्स को ट्रेनिंग दी गई। ट्रेनिंग के कुल खर्चे का ८० परसेंट हिस्सा आइसीएआइ दे रहा है। स्टूडेंट्स से सिर्फ २० परसेंट ही लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अक्सर स्टूडेंट्स रैंक तो ले आते हैं, लेकिन वे इंटरव्यू के लिए तैयार नहीं होते हैं। ऐसे में ट्रेनिंग में हम उन्हें इंटरव्यू के लिए तैयार करने के साथ उनकी ओवरऑल पर्सनैलिटी डवलपमेंट पर काम करते हैं।

ट्रेनिंग के बाद पैकेज में बढ़ोतरी
शर्मा ने बताया कि ट्रेनिंग के बाद सीए स्टूडेंट्स के प्लेसमेंट पैकेज में भी अच्छी हाइक देखने को मिली है। आमतौर पर रैंकर्स का इनिशियल पैकेज १२ से १४ लाख तक होता है। इस ट्रेनिंग के बाद स्टूडेंट्स का शुरुआती पैकेज करीब १८ लाख रुपए है। वहीं हायर पैकेज ३० लाख रुपए एनुअल दिया गया है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में ऐसी ट्रेनिंग आइसीएआइ के हर चैप्टर में सीए फाइनल क्लीयर करने वाले सभी स्टूडेंट्स को दी जाएगी।

Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned