इसरो जल्द लांच करेगा अंतरिक्ष विज्ञान चैनल, स्टूडेंट्स को देगा अंतरिक्ष की जानकारी

इसरो जल्द लांच करेगा अंतरिक्ष विज्ञान चैनल, स्टूडेंट्स को देगा अंतरिक्ष की जानकारी

Vikas Gupta | Publish: Aug, 12 2018 07:59:50 PM (IST) शिक्षा

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ग्रामीण भारत तक अपनी पहुंच बढ़ाने तथा भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम और देश के वैज्ञानिकी सेवाओं का लाभ ग्रामीण लोगों तक पहुंचाने के लिए अपना खुद का टेलीविजन चैनल 'इसरो टीवी शुरू करने की योजना बना रहा है।

बेंगलुरु । भारत जल्द ही एक अंतरिक्ष व विज्ञान समर्थित टीनी चैनल लांच करेगा, ताकि इसके फायदों को देशभर के लोगों तक पहुंचाया जा सके। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ग्रामीण भारत तक अपनी पहुंच बढ़ाने तथा भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम और देश के वैज्ञानिकी सेवाओं का लाभ ग्रामीण लोगों तक पहुंचाने के लिए अपना खुद का टेलीविजन चैनल 'इसरो टीवी' शुरू करने की योजना बना रहा है।

इसरो अध्यक्ष डॉ. के शिवान ने रविवार को बताया कि चैनल को लेकर हम काम कर रहे हैं और अगले तीन से चार महीनों के भीतर एक टीवी चैनल लांच किया जाएगा, ताकि भारत के ग्रामीण हिस्सों तक यह बात पहुंचाई जा सके कि कैसे अंतरिक्ष कार्यक्रम आम जनता को फायदा पहुंचा सकता है। इसरो अध्यक्ष डॉ. के शिवान ने अफसोस व्यक्त किया कि अंतरिक्ष एप्लीकेशन कार्यक्रम पूरी तरह से लोगों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इसी वजह को ध्यान में रखते हुए स्थानीय भाषाओं में कार्यक्रम प्रसारित किए जाएंगे ताकि ग्रामीण भारत के लोग वैज्ञानिकी उपलब्धियों से अवगत हो सकें। उन्होंने कहा कि श्रीहरिकोटा में सतीश धवन स्पेसपोर्ट को सार्वजनिक रूप से खोल दिया जाएगा। इसी प्रकार नासा जाने वालों को उपग्रहों को लॉन्च करने में शामिल विवरणों के बारे में जानने के लिए लॉन्च स्थल के आसपास लेजाकर विस्तृत जानकारी दी जाएगी। इसके बलावा अंतरिक्ष पार्क और संग्रहालय भी होगा और आगंतुकों के लिए प्रक्षेपित लॉन्च अनुक्रम प्रदर्शन होगा। इसरो अध्यक्ष यहां अंतरिक्ष एजेंसी के मुख्यालय पर भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक विक्रम साराभाई की 99वीं जयंती पर उनकी अर्ध प्रतिमा के अनावरण के कार्यक्रम से इतर मीडिया से बात कर रहे थे।

इसरो की ओर से एक अन्य प्रमुख कार्यक्रम के तहत देश भर में आठवीं से 10 वीं कक्षा के चयनित छात्रों को इसरो में आमंत्रित करना और उन्हें एक माह तक यहां रखकर उन्हें अंतरिक्ष जगत की गतिविधियों के बारे में प्राथमिक जानकारी प्रदान करना है। इसका मुख्य रूप से छात्रों में वैज्ञानिक सोच को जगाना और उनके नवाचार कौशल को उजागर करना है।

इसरो टीवी नाम के चैनल पर विज्ञान और अंतरिक्ष एजेंसी के अभियानों के फायदों को रेखांकित करने वाले कार्यक्रमों को क्षेत्रीय भाषाओं के साथ साथ अंग्रेजी में प्रसारित किया जाएगा। सिवान ने कहा कि 'भारतीय अंतरिक्ष मिशन और उसकी एप्लीकेशन की जानकारियां लोगों तक पूर्ण रूप से नहीं पहुंच रही हैं। चैनल के माध्यम से हमारा प्रयास अंतरिक्ष कार्यक्रम के फायदों से लोगों को जागरूक करना है। अंतरिक्ष एजेंसी का मकसद इस चैनल के माध्यम से भारतीय बच्चों और युवाओं के बीच वैज्ञानिक कठोरता विकसित करना भी है।

Ad Block is Banned