मदरसा बोर्ड भी नकल पर कसेगा नकेल, नजर रखेंगे उडऩदस्ते

मदरसा बोर्ड (Madrasa board) भी इस बार नकल पर नकेल कसने की तैयारी कर रहा है। 25 फरवरी से शुरू हो रही मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल और फाजिल की परीक्षाओं में उडऩदस्ते (Flying Squad) नकल पर नजर रखेंगे। अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव मनोज सिंह ने बताया, मदरसा बोर्ड ने प्रत्येक जिले के लिए एक उडऩदस्ता तैयार किया है।

Jamil Ahmed Khan

February, 1501:49 PM

मदरसा बोर्ड (Madrasa board) भी इस बार नकल पर नकेल कसने की तैयारी कर रहा है। 25 फरवरी से शुरू हो रही मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल और फाजिल की परीक्षाओं में उडऩदस्ते (Flying Squad) नकल पर नजर रखेंगे। अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव मनोज सिंह ने बताया, मदरसा बोर्ड ने प्रत्येक जिले के लिए एक उडऩदस्ता तैयार किया है। परीक्षा केन्द्र स्तर पर तीन सदस्यीय आंतरिक निरीक्षण की व्यवस्था केन्द्र व्यवस्थापक को करनी है।

जिला स्तर पर सचल दल का गठन जिलाधिकारी द्वारा किया जाएगा। ऐसा हर सचल दल जिला स्तरीय अधिकारियों जैसे जिला विद्यालय निरीक्षक, बेसिक शिक्षा अधिकारी और जिला समाज कल्याण अधिकारी के नेतृत्व में गठित होगा। ऐसे हर दस्ते में 4 सदस्य होंगे। उन्होंने बताया कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर प्रश्न पत्र की सुरक्षा के लिए दो सशस्त्र गार्डों की तैनाती की जाएगी। छात्राओं की तलाशी केवल महिला सदस्य ही लेंगी।

मदरसा शिक्षा परिषद के रजिस्ट्रार आरपी सिंह ने बताया, परीक्षाओं के प्रवेश पत्र पोर्टल के मदरसों के लॉग इन पर जारी कर दिए गए हैं। मदरसों के प्रबंधक प्रधानाचार्य प्रवेश पत्रों को डाउनलोड कर परीक्षार्थियों को उपलब्ध कराएंगे। परीक्षाएं दो पालियों में सुबह 8 बजे से 11 तथा दोपहर 2 बजे से शाम 5 बजे तक आयोजित होगी। इस वर्ष प्रदेश से कुल 1 लाख 82 हजार अभ्यर्थियों ने मदरसा परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है।

जमील खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned