NCERT ने शुरू की स्टूडेंट्स की काउंसलिंग, होंगे ये फायदे

CBSE और राजस्थान बोर्ड के रिजल्ट घोषित होने के बाद अब स्टूडेंट्स का जोर कॅरियर काउंसलिंग पर है।

By: सुनील शर्मा

Published: 24 Jul 2020, 03:46 PM IST

CBSE और राजस्थान बोर्ड के रिजल्ट घोषित होने के बाद अब स्टूडेंट्स का जोर कॅरियर काउंसलिंग पर है। वहीं NCERT की ओर से स्कूल स्टूडेंट्स के लिए चल रही काउंसलिंग सेवा अब जोर पकड़ने लगी है। विशेषकर कोरोना संक्रमण लगी है। विशेषकर कोरोना संक्रमण काल में शुरू हुई यह काउंसलिंग सेवा बच्चों को न सिर्फ मानसिक तौर पर संभाल दे रही हैं, बल्कि कॅरियर में भी हेल्पफुल साबित हो रही हैं। इन दिनों स्टूडेंट्स कॅरियर ऑप्शंस को लेकर काफी असमंजस की स्थिति में हैं। देशभर के कॉलेजेज में एडमिशन प्रक्रिया शुरू होने लगी है, ऐसे में कौनसा कॉलेज और सब्जेक्ट चुनना है, इसे लेकर काउंसलर्स के पास काफी क्वेरीज आ रही हैं।

लॉकडाउन में एग्जाम और अब एडमिशन का स्ट्रेस
काउंसलर्स के अनुसार लॉकडाउन में बच्चों को एग्जाम का स्ट्रेस था, वहीं अब जब रिजल्ट आ गया है, तो स्टूडेंट्स एडमिशन को लेकर परेशान हैं। कुछ स्टूडेंट्स दिल्ली के कॉलेजेज में एडमिशन का सपना संजो रहे थे, अब उनके सामने बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए परेशानी खड़ी हो गई हैं। दूसरा जो स्टूडेंट्स टूरिज्म, हॉस्पिटेलिटी और जर्नलिज्म में कॅरियर बनाना चाहते थे, वे अब इन्हें चुनने में हिचकिचा रहे हैं। ज्यादातर स्टूडेंट्स के सवाल हैं कि हम बाहर के कॉलेजेज में एडमिशन कैसे लें?

रिजल्ट आने के बाद बढ़ गई क्वेरीज
काउंसलर्स कहते हैं लॉकडाउन और अनलॉक-वन में स्टूडेंट्स घर में बैठे-बैठे परेशान हो गए थे, कुछ में तो डिप्रेशन की शिकायत होने लगी थी। लेकिन जैसे ही रिजल्ट आ गए, स्टूडेंट्स का फोकस एडमिशन प्रक्रिया पर चला गया है। हालांकि वे पूछते हैं कि इस सिचुएशन में हमें बाहर जाकर पढ़ना चाहिए या फिर अपने शहर में ही एडमिशन लेना चाहिए।

Show More
सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned