हिंदी को अनिवार्य करने की कोई योजना नहीं : जावड़ेकर

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को सरकार के हिंदी को अनिवार्य करने की मंशा संबंधी मीडिया रिपोर्टों का खंडन किया।

By: जमील खान

Published: 10 Jan 2019, 02:10 PM IST

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने गुरुवार को सरकार के हिंदी को अनिवार्य करने की मंशा संबंधी मीडिया रिपोर्टों का खंडन किया। जावड़ेकर ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) में किसी भाषा को अनिवार्य का दर्जा नहीं दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : सीबीएसई ने कक्षा 8, 9 और 10वीं के विद्यार्थियों के लिए जोड़ा वैकल्पिक विषय, इसमें जॉब के बेहतरीन अवसर

मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट किया, नई शिक्षा नीति पर बनी समिति ने अपने मसौदा रिपोर्ट में किसी भाषा को अनिवार्य करने की सिफारिश नहीं की है। मीडिया के एक वर्ग की भ्रामक रिपोर्ट को देखते हुए यह स्पष्ट करना जरूरी है। 'द इंडियन एक्सप्रेस' के एक लेख में प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया था कि सरकार नई शिक्षा नीति में हिंदी को कक्षा 8 तक अनिवार्य करेगी।

यह भी पढ़ें : Jawahar Navodaya Vidyalaya 2019 test : 31.10 लाख स्टुडेंट्स ने करवाया रजिस्ट्रेशन, 6 अप्रेल को होगी परीक्षा

 

Show More
जमील खान
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned