Rajasthan School Reopening 2021: राजस्थान में 18 जनवरी से खुलेंगे स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान

  • Rajasthan School Reopening 2021:
  • राजस्थान सरकार ने स्कूलों को खोले जाने की छूट दे दी है।
  • स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान 18 जनवरी से खोले जाने के निर्देश दिए हैं।

By: Deovrat Singh

Published: 06 Jan 2021, 10:27 AM IST

Rajasthan School Reopening 2021: राजस्थान सरकार ने स्कूलों को खोले जाने की छूट दे दी है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा मंगलवार, 5 जनवरी 2021 की शाम को ट्वीट के जरिए जानकारी दी गई। जारी अपडेट के अनुसार राज्य के स्कूलों में 9वीं से लेकर 12वीं तक कक्षाओं, सभी विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में अंतिम वर्ष की कक्षाओं और सभी कोचिंग संस्थानों एवं सरकारी प्रशिक्षण संस्थानों को 18 जनवरी 2021 से खोले जाने की छूट दी गई है।

साथ ही, वैक्सीनेशन की प्रक्रिया के कारण मेडिकल कॉलेज, डेन्टल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज एवं पैरामेडिकल कॉलेज 11 जनवरी से खोलने के भी निर्देश दिए हैं। इन सभी शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक कक्षा में कुल क्षमता का 50 प्रतिशत उपस्थिति प्रथम दिन, शेष 50 प्रतिशत उपस्थिति दूसरे दिन रहेगी।

इसे देखते हुए स्कूलों में 9 से 12वीं तक की कक्षाएं, विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय की अन्तिम वर्ष की कक्षाओं, कोचिंग सेन्टर तथा सरकारी प्रशिक्षण संस्थानों को 18 जनवरी से खोले जाने के निर्देश दिए हैं।


मुख्यमंत्री द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार, “बेहतरीन प्रबंधन और प्रदेशवासियों के सहयोग से राजस्थान में कोरोना की स्थिति काफी नियंत्रण में है। रिकवरी रेट बढ़कर अब तक की सर्वाधिक 96.31 प्रतिशत हो गई है। कुछ जिलों में पॉजिटिव केस शून्य होने के साथ ही अन्य जिलों में भी स्थिति बेहतर है। इसे देखते हुए स्कूलों में 9 से 12वीं तक की कक्षाएं, विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय की अन्तिम वर्ष की कक्षाओं, कोचिंग सेन्टर तथा सरकारी प्रशिक्षण संस्थानों को 18 जनवरी से खोले जाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही, वैक्सीनेशन की प्रक्रिया के कारण मेडिकल कॉलेज, डेन्टल कॉलेज, नर्सिंग कॉलेज एवं पैरामेडिकल कॉलेज 11 जनवरी से खोलने के भी निर्देश दिए हैं।”

50 फीसदी रखनी होगी उपस्थिति और शिक्षकों को मिलेगा प्रशिक्षण
महामारी के संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा खोले जा रहे संस्थानों के लिए कड़े निर्देश दिये गये हैं। मुख्यमंत्री के अपडेट अनुसार, “सभी संस्थानों में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क सहित अन्य हैल्थ प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखा जाए तथा इनका संचालन केन्द्र के दिशा-निर्देशों, एसओपी के तहत किया जाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।”

वहीं, शिक्षकों की भूमिका को महत्वपूर्ण मानते हुए सीएम ने कहा, “शिक्षकों को संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जरूरी प्रशिक्षण दिया जाएगा।” इसके अतिरिक्त सीएम ने सभी शिक्षण संस्थानों में किसी भी अध्यापन दिवस पर सीमित संख्या में छात्रों को बुलाये जाने के लिए कहा, “इन सभी शिक्षण संस्थानों में प्रत्येक कक्षा में कुल क्षमता का 50 प्रतिशत उपस्थिति प्रथम दिन, शेष 50 प्रतिशत उपस्थिति दूसरे दिन रहेगी।“

Deovrat Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned