74 प्रतिशत विद्यार्थियों ने माना, ऑनलाइन कक्षाओं से बेहतर हुई पढ़ाई

सर्वे में लॉकडाउन खुलने के तुरंत बाद परीक्षा लिए जाने पर 42 फीसदी छात्रों ने सहमति तथा 47 फीसदी ने असहमति जताई है।

By: सुनील शर्मा

Updated: 24 May 2020, 07:28 AM IST

राजस्थान विश्वविद्यालय के74 फीसदी विद्यार्थियों का मानना है कि ऑनलाइन कक्षाओं से उनकी पढ़ाई बेहतर हुई है। वहीं 78 प्रतिशत विद्यार्थी ऑनलाइन कक्षा लेने में रुचि रख रहे हैं तथा ग्रीष्मावकाश के बावजूद यूनिवर्सिटी के 49 प्रतिशत शिक्षक अपने स्तर पर ऑनलाइन कक्षाएं लेकर कोर्स पूरा करवाने के साथ ही छात्रों की समस्याओं का निराकरण कर रहे हैं। यूनिवर्सिटी के गृह विज्ञान विभाग की छात्राओं द्वारा यूनिवर्सिटी के 150 छात्रों (यूजी, पीजी से लेकर पीएचडी तक के छात्र) पर किए गए ऑनलाइन सर्वे में यह बात निकलकर सामने आई है। सर्वे में लॉकडाउन खुलने के तुरंत बाद परीक्षा लिए जाने पर 42 फीसदी छात्रों ने सहमति तथा 47 फीसदी ने असहमति जताई है।

विद्यार्थियों का मानना है कि लॉकडाउन के तुरंत बाद परीक्षा होने पर संक्रमण और बढ़ने की आशंका रहेगी। इसी प्रकार की परिस्थितियां रहने पर नियमित कक्षाओं के दौरान विशेष सावधानी रखनी होगी।

यूं दिए जवाब
कक्षाओं में सोशल डिस्टेंसिंग रखनी जरूरी- 73.3 फीसदी
कक्षा व यूनिवर्सिटी में मास्क पहनना जरूरी - 89.3 प्रतिशत
हर छात्र की थर्मल स्क्रीनिंग जरूरी - 58.7 फीसदी
यूनिवर्सिटी में कोई आयोजन न हो - 33.3 फीसदी
ब्लैक बोर्ड का प्रयोग मना हो - 33.3 प्रतिशत
हर क्लास में सेनेटाइजर - 64 फीसदी
हॉस्टल में मैस बैच वार चले - 52.7 फीसदी
हॉस्टल में हर दिन सेनेटाइजेशन व हाइजीन का विशेष ध्यान रखा जाए - 55.3 फीसदी

सुनील शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned