रेयान हत्याकांड : स्कूल ट्रस्टियों की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई स्थगित

Jameel Khan

Publish: Sep, 12 2017 06:31:00 (IST)

Education
रेयान हत्याकांड : स्कूल ट्रस्टियों की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई स्थगित

रेयान इंटरनेशनल स्कूल के ट्रस्टी अगस्टीन एफ पिंटो, उनकी पत्नी ग्रेस पिंटो और बेटे रेयान पिंटो ने सोमवार को अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी।

मुंबई। बंबई हाई कोर्ट ने मंगलवार को रेयान स्कूल के ट्रस्टियों की ओर से गुरुग्राम में स्थित अपनी शाखा में एक सात वर्षीय बच्चे की हत्या के मामले में दायर की गई अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई बुधवार तक के लिए स्थगित कर दी। रेयान इंटरनेशनल स्कूल के ट्रस्टी अगस्टीन एफ पिंटो, उनकी पत्नी ग्रेस पिंटो और बेटे रेयान पिंटो ने सोमवार को अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी।

रेयान इंटरनेशनल स्कूल के शाखाओं के प्रबंधन के लिए जिम्मेदार सेंट जेवियर्स एजुकेशनल ट्रस्ट का पंजीकरण महाराष्ट्र में एक पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट के रूप में 1980 में हुआ था। सेंट जेवियर्स एजुकेशनल ट्रस्ट के दूसरे ट्रस्टियों के नाम व ठिकाने की जानकारी नहीं है और यह साफ नहीं है कि उनसे इस मामले में पूछताछ की जाएगी या नहीं।

उल्लेखनीय है कि गुरुग्राम के भोंडसी में स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के शौचालय मेंं आठ सितंबर को सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न का शव मिला था। उसका गला रेता गया था और उसके शव के पास चाकू पाया गया था।

इसी बीच संपादा, नवी मुंबई में स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल कर शाखा के बाहर मंगलवार को सैंकड़ों अभिभावकों ने बच्चों की सुरक्षा के लिए कदम उठाए जाने की मांग करते हुए प्रदर्शन किया था।

रेयान कांड: जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जारी किए दिशा-निर्देश
जम्मू। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने हरियाणा में गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय छात्र की हत्या के मद्देनजर स्कूलों के लिए परामर्श और दिशा-निर्देश जारी किए हैं। पुलिस अधीक्षक (दक्षिण) संदीप चौधरी ने मंगलवार को कहा, जम्मू-कश्मीर पुलिस राज्य के नागरिकों की सुरक्षा के लिए सदैव आगे रहती है। जहां तक स्कूली बच्चों की बात है हम उनकी सुरक्षा को सर्वाधिक प्रमुखता देते हैं और दिन-प्रतिदिन के हिसाब से उनको सुरक्षा मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

चौधरी ने कहा कि जुलाई के मध्य में सभी स्कूलों को सुरक्षा की दिशा में जागरुक करने की प्रक्रिया शुरू की गई थी, लेकिन रेयान स्कूल की हृदय विदारक घटना के बाद स्कूलों की सुरक्षा को एक मिशन के रूप में लिया गया है। उन्होंने कहा, हम यह सुनिश्चित करेंगे कि सभी स्कूल सुरक्षा के मानकों का अच्छी तरह पालन कर रहे हैं। स्कूल प्रशासन के साथ बैठक करेंगे और माता-पिता तथा स्कूल प्रबंधन को उच्चतम न्यायालय और सीबीएसई के दिशा-निर्देशों से अवगत कराया जाएगा।

उन्होंने कहा, हमने सभी स्कूलों से उनके बस चालकों और आम कर्मचारियों समेत स्कूलों से जुड़े सभी व्यक्तियों की सूची मांगी है। हम स्कूलों के सभी कर्मचारियों की पृष्ठभूमि को अच्छी तरह खंगालेंगे। इस बीच निजी स्कूलों के अभिभावकों के एक संगठन ने भी माता-पिता के लिए वाट्सएप पर परामर्श जारी करके अपने बच्चों के प्रति और जागरुक रहने का कहा है। संगठन ने माता-पिता को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि उनके बच्चों के स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे काम कर रहे हों और उनके पास दो माह का डाटा सुरक्षित हो। अगर किसी स्कूल में ये कैमरे नहीं है तो स्कूल प्रशासन से तुरंत कैमरे लगाए जाने की मांग की जाए। उल्लेखनीय है कि गुरुग्राम में सोहना स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की शुक्रवार को स्कूल के बाथरूप में चाकू से गला रेत कर हत्या कर दी गई थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned