सचिन अवस्थी को मिला एक और सम्मान, प्रतिष्ठित ह्यूमैनिटेरियन एक्सीलेंस अवार्ड से हुए सम्मानित

इस बार ह्यूमैनिटेरियन एक्सीलेंस अवार्ड्स 2020 बेहद प्रतिस्पर्धी था, क्योंकि केवल 51 सर्वश्रेष्ठ प्रोफाइलों को हीं सम्मानित किया गया।

By: Vivhav Shukla

Published: 24 Dec 2020, 12:21 AM IST

नई दिल्ली। नेशनल मीडिया क्लब के अध्यक्ष सचिन अवस्थी (Sachin Awasthi) को एक बार फिर से प्रतिष्ठित ग्लोबल हयूमेनेटेरियन अवार्ड 'टॉप पब्लिसिस्ट' से नवाजा गया है। इस बार सचिन को आई केन फाउंडेशन के वेबिनार के माध्यम से 'ह्यूमैनिटेरियन एक्सीलेंस'अवार्ड दिया गया।

इस बार ह्यूमैनिटेरियन एक्सीलेंस अवार्ड्स 2020 बेहद प्रतिस्पर्धी था, क्योंकि केवल 51 सर्वश्रेष्ठ प्रोफाइलों को हीं सम्मानित किया गया। जिनमे से 20 महिला और 20 पुरुष और 11 गैर-सरकारी संगठन शामिल हैं। और सचिन इन 51 सर्वश्रेष्ठ प्रोफाइलों में से एक बने। सचिन अवस्थी मानवता के विषय में बेहद गंभीर रूप से सोचते हैं। उनका मानना है कि, किसी भी प्रकार की समाज सेवा करने से पूर्व आपको एक अच्छा इंसान बनना पड़ेगा।

सचिन अवस्थी ने मानवता के हित में कई बड़े कदम उठाये हैं। साल 2017 में उन्हें स्वच्छता के लिए काम करने वाले लोगों को लखनऊ में सम्मानित किया था। इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की थी।

इतना ही नहीं पवित्र गंगा को प्रदूषण मुक्त करने के लक्ष्य से हरिद्वार से वाराणसी तक पांच दिवसीय स्वच्छ गंगा जागरूकता यात्रा निकालने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सचिन अवस्थी को पत्र लिख उनकी प्रशंसा की थी।

बता दें सचिन ने वरिष्ठ पत्रकार पंकज कुलश्रेष्ठ की कोरोना काल में हुई मृत्यु के बाद उनके परिजनों को 1 लाख रुपये की आर्थिक सहायता भी की थी और पत्रकारिता दिवस पर वेबिनार आयोजित कर कई पत्रकारों समेत उन्हें श्रद्धांजलि भी दी थी। इसके अलावा सम्पूर्ण लॉकडाउन के दौरान उनके एनजीओ, श्री राम सेवा मिशन (एसआरएसएम) ने राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में गरीब परिवारों को भोजन प्रदान किया था।

सचिन अवस्थी द्वारा मानवता के प्रति किए गए महान कार्यों में से एक यह भी कहानी है जब उन्होंने एक घायल पड़े पुलिस सिपाही की जान बचाई थी। वह सिपाही दुर्घटना के बाद सड़क किनारे घायल पड़ा था। और दुखद बात यह थी की जहाँ वह घायल सिपाही था वहीं से नेशनल हाईवे भी गुज़रता है, लेकिन कोई भी व्यक्ति उसकी मदद के लिए नहीं आया।

लेकिन जहां मानवता खत्म होती नज़र आती है वहीं सचिन अवस्थी जैसे लोग भी हैं जो हर किसी के लिए खड़े रहते हैं, सचिन ने आधी रात उस सिपाही को अपने गाड़ी में अस्पताल पहुँचाया जिससे उस सिपाही की जान बच पाई थी। यह व्याख्या केवल सागर में एक बूँद के जैसी है। सचिन अवस्थी ने मानवता के हित में इससे भी बड़े और महान कार्य किए हैं।

 
Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned