University of Rajasthan ने शुरू किए तीन फॉरन लैंग्वेजिस में नए कोर्स

यूनिवर्सिटी ऑफ राजस्थान ने तीन फॉरन लैंग्वेजिस - स्पैनिश, फ्रेंच और जर्मन में नए कोर्स शुरू किए हैं।

By:

Published: 07 Jun 2018, 03:52 PM IST

यूनिवर्सिटी ऑफ राजस्थान ने तीन फॉरन लैंग्वेजिस - स्पैनिश, फ्रेंच और जर्मन में नए कोर्स शुरू किए हैं। यानी कि अगर आप फॉरन लैंग्वेज सीखना चाहते हैं तो अब आप राजस्थान यूनिवर्सिटी से भी सीख सकते हैं। स्टूडेंट्स में इन कोर्स को लेकर खासा क्रेज देखा जा रहा है। इन लैंग्वेजिस की बढ़ती डिमांड के चलते अलग अलग बैकग्राउंड के स्टूडेंट्स भी इन कोर्स के लिए आवेदन कर रहे हैं। यूनिवर्सिटी में डिपार्टमेंट ऑफ यूरोपियन लैंग्वेजिस, लिट्रेचर एंड कल्चरल स्टडीज यह कोर्स ऑफर कर रहे हैं।

सबसे अच्छी बात यह है कि इन कोर्स में एडमिशन लेने के लिए कोई एंट्रेंस एग्जाम नहीं देना होगा और स्टूडेंट्स डायरेक्ट ही आवेदन कर सकते हैं। हायर सेकंडरी बोर्ड परीक्षा के अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी और उसी के आधार पर यहां स्टूडेंट्स को एडमिशन दिया जाएगा। इसके अलावा एक और फायद यह है कि इस कोर्स के लिए हर एज ग्रुप के स्टूडेंट्स ओवदन कर सकते हैं। इसके चलते कुछ ६० साल के स्टूडेंट्स ने भी इन कोर्स के लिए आवेदन किया है। रिटायरमेंट के बाद भी कुछ स्टूडेंट्स इन कोर्स में रुचि दिखा रहे हैं।

डिपार्टमेंट ऑफ यूरोपियन स्टडीज के हैड राजेंद्र पदचर ने बताया कि जब उन्होंने जॉइन किया था, तब लोग इन भाषाओं में उतनी रुचि नहीं रखते थे, लेकिन अब वक्त के साथ साथ लोग इन भाषाओं में इंट्रस्ट ले रहे हैं। पहले इन कोर्स के लिए सीटें भी कम थीं, लेकिन स्टूडेंट्स का बढ़ता इंट्रस्ट देखते हुए ४५ सीटों से बढ़ा कर ६२ कर दिया गया। कई मौकों पर १० फीसदी तक सीटें भी बढ़ाई गई हैं।

राजस्थान यूनिवर्सिटी ने इन लैंग्वेजिस में सर्टिफिकेट, पीजी डिप्लोमा और डिप्लोमा कोर्स शुरू किए हैं। सर्टिफिकेट कोर्स में लैंग्वेज का बेसिक पढ़ाया जाता है। सर्टिफिकेट कोर्स करने के बाद स्टूडेंट्स डिप्लोमा कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं। इन लैंग्वेजिस को पढऩे के बाद बैंक, एम्बेसीस, टूरिज्म डिपार्टमेंट, होटल और टीचिंग जॉब्स पाई जा सकती हैं। इसके अलावा एयर होस्टेस/पर्सुअर या एयरपोर्ट पर ग्राउंड जॉब्स भी पाई जा सकती हैं। यूनिवर्सिटी में लैंग्वेज स्कूल बनाने का भी प्रस्ताव रखा गया है जहां जैपनीज, इटैलियन और चाइनीज जैसी अन्य भाषाओं में भी कॉर्स ऑफर किए जा सकें। इन कोर्स के लिए आवेदन १२ जून से १८ जून के बीच किया जा सकता है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned