Assam Assembly Elections 2021: छत्तीसगढ़ फॉर्मूले से कांग्रेस की सत्ता में वापसी की तैयारी! टीम बघेल पर जिम्मेदारी

Assam Assembly Elections 2021 भूपेश बघेल की टीम पर बड़ी जिम्मेदारी, छत्तीसगढ़ की तर्ज पर कांग्रेस कर रही असम फतह की तैयारी

By: धीरज शर्मा

Published: 05 Apr 2021, 07:51 AM IST

नई दिल्ली/अनुराग मिश्रा। असम विधानसभा चुनाव ( Assam Assembly Elections 2021 ) में तीसरे और अंतिम चरण के मतदान में अब महज कुछ घंटों का वक्त बचा है। यही वजह है कि सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। सत्ताधारी दस बीजेपी जहां दोबारा सरकार बनाने को बेताब है तो वहीं कांग्रेस बीजेपी को बेदखल करने के लिए अपनी रणनीति पर फोकस कर रही है।

बीजेपी की हर चाल को पटखनी देने के लिए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक बड़ी रणनीति बनाई। बीजेपी को उसकी ही चाल में मात देने के लिए छत्तीसगढ़ से करीब 25 ट्रेनर भेजे गए हैं। इन ट्रेनरों ने असम के अलग-अलग हिस्सों में जाकर सुस्त चाल में चल रही कॉन्ग्रेस की टीम में नई जान फूंकने का काम किया।

यह भी पढ़ेंः Assam Assembly Elections 2021 दोबारा चुनाव लड़ने वाले 90 विधायकों की संपत्ति में 76 फीसदी की बढ़ोतरी

बूथ एक्सपर्ट्स टीम कर रही काम
असम में कांग्रेस को फिर से सत्तासीन करने के लिए छत्तीसगढ़ कॉन्ग्रेस के बूथ एक्सपर्ट्स की टीम अच्छी खासी संख्या में जुटे हुए हैं। गुवाहाटी के राजीव भवन में बने कंट्रोल रूम में यह कार्यकर्ता अलग-अलग शिफ्ट में 24 घंटे प्रदेश के हर एक जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं से संपर्क में हैं।

छत्तीसगढ़ से आए कार्यकर्ता असम के हर जिला बूथ मैनेजर या इंचार्ज को फोन कर बड़े नेताओं से मिल रहे और संदेश दे रहे हैं।

बीजेपी की हर चाल पर नजर
सभी बूथ व्यवस्थापकओं को चुनाव से पहले की जरूरी रणनीति से वाकिफ कराया जा रहा है। इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी की ओर से किसी भी प्रोपेगेंडा कैंपेन की जानकारी तुरंत जिला कांग्रेस नेताओं और बूथ इंचार्जओं को दी जा रही है।

प्रलोभन को लेकर अलर्ट
इसके अलावा चुनाव से ठीक 1 दिन पहले दूसरी पार्टियों की ओर से किसी भी प्रलोभन के खिलाफ भी छत्तीसगढ़ से आए यह कार्यकर्ता अलर्ट कर रहे हैं।

साथ ही प्रलोभन देने वालों से कैसे निपटना है, इसके तरीके भी बता रहे हैं।

कमजोर इलाकों पर नजर
कंट्रोल रूम में बैठे हुए कार्यकर्ता चुनाव से पहले कराए गए सर्वे के मुताबिक कमजोर इलाकों के हिसाब से जरूरी कार्यवाही का भी निर्देश दे रहे हैं। यह लोग जिला कांग्रेस के संगठन के लोगों को जरूरी जगहों पर जाकर ज्यादा मजबूती के साथ अपना पक्ष रखने, कांग्रेस के मेनिफेस्टो की जानकारी देने की सलाह देते हैं।

यह भी पढ़ेँः Assam Assembly Elections 2021: बोड़ोलैंड में छिपी है 'बहुमत' की चाबी, कांग्रेस-बीजेपी दोनों लगा रहे जोर

बघेल की रणनीति की सराहना
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की रणनीति स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा सराही जा रही है। कई बड़े कांग्रेसी नेता जैसे अरुण भट्टाचार्य, रणदीप सुरजेवाला, प्रोफेसर गौरव वल्लभ तो यह तक दावा कर रहे हैं कि इसके जरिए उन्होंने काफी बड़े पैमाने पर कांग्रेस का वोट परसेंटेज बढ़ाया है।

ऐसे तैयार हुआ ये प्लान
इस सिलसिले की शुरुआत के पीछे भी गुवाहाटी के राजीव भवन के कार्यकर्ता एक रोड शो का हाथ बताते हैं। उनके मुताबिक डिब्रूगढ़ में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एक रोड शो के दौरान उन्हें कई लोगों से फीडबैक मिला। इसके बाद इस रणनीति पर बड़े स्तर पर काम शुरू किया गया।

आइए पढ़ेँः Assam Assembly Elections 2021 - Bhartiya Janta Party (BJP) Full Candidates List

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned