scriptAssembly Elections Result How this mandate will affect future politics | Assembly Elections Result 2022: भावी राजनीती को कैसे प्रभावित करेंगे ये नतीजे | Patrika News

Assembly Elections Result 2022: भावी राजनीती को कैसे प्रभावित करेंगे ये नतीजे

Assembly Elections Result 2022 : पांच राज्यों के चुनाव काफी अहम थे। इनसे भारत की राजनीति में बदलते ट्रेंड्स को समझने में काफी मदद मिल सकती है। इनसे देश के एक बड़े हिस्से की राजनीति पर व्यापक असर होगा।

 

नई दिल्ली

Updated: March 11, 2022 10:31:04 am

यामिनी अय्यर
अध्यक्ष, सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च

Assembly Elections Result 2022 : इस बात से इनकार नहीं है कि पांच राज्यों के चुनाव काफी अहम थे। इनसे भारत की राजनीति में बदलते ट्रेंड्स को समझने में काफी मदद मिल सकती है। इनसे देश के एक बड़े हिस्से की राजनीति पर व्यापक असर होगा। लेकिन इन्हें लोकसभा चुनाव के सेमीफाइनल के तौर पर देखना ठीक नहीं होगा। केंद्र और राज्य के लिहाज से जनता अलग— अलग फैसले कर रही है। ओडिशा में लोगों ने केंद्र के लिए भाजपा और राज्य के लिए बीजद को वोट दिया था। राष्ट्रीय राजनीति में भाजपा का भारी दबदबा होने के बाद भी ऐसे कई उदाहरण आए है। इसलिए केंद्रीय और राज्य स्तरीय राजनीति को हमें बहुत ज्यादा मिलाकर नहीं देखना चाहिए।

Assembly Elections Result 2022
Assembly Elections Result 2022

राष्ट्रीय स्तर पर इन चुनाव ने कुछ अहम संकेत दिए हैं। स्थापित होता जा रहा है कि जब चुनाव ज्यादा से ज्यादा नेतृत्व के आधार पर लड़े जाएंगे। लोगों के लिए पार्टी और उमीदवार से ज्यादा यही मायने रखेगा। यूपी में लोग महंगाई, बेरोजगारी, आवारा पशु जैसे मामलों से नाराज थे, लेकिन मोदी और योगी के नेतृत्व में उन्हें फिर भी भरोसा था। इसी तरह पंजाब में आप का संगठन नदारद था, लोग उम्मीदवारों को पहचान भी नहीं रहे थे, फिर भी केजरीवाल पर भरोसा जताया।

हमें देखना होगा कि स्थानीय विधायक की भूमिका के घटने का लोकतंत्र के स्वास्थ्य पर क्या असर होगा। चुनाव में यह भी साफ हुआ है कि धार्मिक धु्वीकरण मतदाताओं के मन में गहरे बैठता जा रहा है। अलग से चुनाव में यह मुद्दा भले बहुत जोर नहीं पकड़े तो भी लोगों के मन में बैठ चुका है।

2013 में जब आप ने दिल्ली का पहला चुनाव लड़ा था, उसके बाद लगने लगा था कि विपक्ष की नई ताकत खड़ी हो सकती है, लेकिन 2017 में पंजाब में उसकी हार के बाद इस रफ्तार में ब्रेक लगा। अब पंजाब में भारी जीत के बाद वह संकत फिर से मजबूत होकर सामने आ गए हैं कि यह पार्टी दिल्ली के बाहर भी चुनाव जीत सकती है।

यूपी में कांग्रेस और बसपा अप्रासंगिक— उत्तर प्रदेश की राजनीति में इस चुनाव ने बसपा और कांग्रेस को अप्रासंगिक बना दिया। वहां राजनीति दो पार्टियों भाजपा और सपा के बीच सिमट गई है। राजनीतिक दलों और विश्लेषकों को इन संकेतों को और गहराई से देखना तथा विश्लेषण करना होगा।

महिला वोटरों की भूमिका बढ़ी
महिला वोटर की राजनीति में भूमिका बढ़ रही है। पहले लोग इस आधार पर अपनी रणनीति नहीं बनाते थे। भाजपा ने इस पर पर्याप्त ध्यान दिया। पीएम मोदी का यूपी जैसे राज्य में महिलाओं पर सीधा प्रभाव दिखा और उसका फाया उन्हें मिला।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

ज्ञानवापी केसः बहस पूरी, 1991 का वर्शिप एक्ट लागू होगा या नहीं, कल होगा फैसला, जानें सुनवाई से जुड़ी हर बातबीजेपी नेता किरीट सोमैया की पत्नी ने शिवसेना के संजय राउत के खिलाफ दर्ज कराया 100 करोड़ का मानहानि का मुकदमालैंड होते ही झटके से रूक गया यात्री विमान, सांस थामे बैठे रहे यात्रीजम्मू और कश्मीर: आतंकियों के निशाने पर सुरक्षा बल, श्रीनगर में जारी किया गया रेड अलर्टजापान में पीएम मोदी का जोरदार स्वागत, टोक्यो में जापानी उद्योगपतियों से की मुलाकातऑक्सफैम ने कहा- कोविड महामारी ने हर 30 घंटे में बनाया एक नया अरबपति, गरीबी को लेकर जताया चौंकाने वाला अनुमानसंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजरबिहार में पटरियों पर धरना-प्रदर्शन के चलते 23 ट्रेनें रद्द, 40 डायवर्ट की गईं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.