scriptbjp central committee meeting to win up assembly elections trishulvyuh | यूपी में जीत के लिए भाजपा का त्रिशूल व्यूह: 3 सेनापति एक साथ लड़ने को तैयार | Patrika News

यूपी में जीत के लिए भाजपा का त्रिशूल व्यूह: 3 सेनापति एक साथ लड़ने को तैयार

उत्तर प्रदेश में भाजपा के लिए जीत कितनी महत्वपूर्ण हो गई है इसका अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि, उसने अपने सबसे बड़े धुरंधरों को पूर्ण रूप से चुनाव तक क्षेत्र में ही रहने निर्णय सुना दिया है। जिसमें खुद केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड़ड़ा शामिल हैं।

लखनऊ

Updated: November 18, 2021 07:48:36 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ. भाजपा केंद्रीय कमेटी की बैठक में यूपी चुनाव पर काफी अहम चर्चा हुई। जिसमें पूरे प्रदेश के सभी 6 क्षेत्रों में अलग अलग प्रभारी बनाए गए हैं। इसमें बड़ी बात ये है कि गृहमंत्री अमित शाह, रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष स्वयं भी इस बार बड़ी भूमिका में लगे हैं। या यूं कहें कि यूपी विधानसभा चुनावों के लिए इस बार तीन सेनापति उतारे गए हैं। इसके अलावा हर क्षेत्र में बूथ अध्यक्षों को भी ज़िम्मेदारी देते हुए उनकी तगड़ी निगरानी भी कराई जाएगी।
rajnath_nadda_shah_1200x768.jpg
क्षेत्रीय हिसाब से प्रभारी
भाजपा की केंद्रीय समिति बैठक में बूथ अध्यक्षों की निगरानी और उनके सपोर्ट में लगे कार्यालय प्रभारी के साथ पूरे क्षेत्र की बड़ी एक्टिविटी पर सीधे क्षेत्रीय प्रभारी देखेंगे। केंद्रीय समिति की हुई इस बैठक में जेपी नड्डा, बीएल संतोष, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल मौजूद रहे।
गृहमंत्री अमित शाह बृज क्षेत्र और पश्चिम क्षेत्र के प्रभारी बनाए गए हैं।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को अवध और काशी क्षेत्र का प्रभारी बनाया गया है।

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को कानपुर क्षेत्र और गोरखपुर क्षेत्र की जिम्मेदारी दी गई है।
त्रिशूल व्यूह जैसा होगा भाजपा का चुनावी मोड
उत्तरप्रदेश चुनावों को लेकर भाजपा की बड़ी किलेबंदी जारी है। जिसे त्रिशूल व्यूह के तौर पर बनाया गया है। यानी 6 क्षेत्रों में बड़े तीन सेनापति को जीत पक्की करने के लिए लगाया गया है। इसलिए इसे त्रिशूल व्यूह कहा जा रहा है। सांगठानिक क्षेत्रों में भारी भरकम सेनापति तैनात करने की प्रक्रिया को देखें तो कुछ ऐसा ही नज़ारा समझ आएगा।
आपको बताते चलें कि भाजपा ने अपने संगठन को 6 क्षेत्रों मे बांटा हुआ है। संगठन की दृष्टि से भाजपा में 6 क्षेत्र और 92 जिले हैं। आगामी विधानसभा चुनावों 2022 में इस बार भाजपा सरकार की सीधी टक्कर सपा के अखिलेश यादव से होगी.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारराहुल गांधी से लेकर गहलोत तक कांग्रेस के नेता देश के विपरीत भाषा बोलते हैं : पूनियांश्रीलंकाई नौसेना जहाज की भारतीय मछुआरों के नौका से टक्कर, सात मछुआरे बाल बाल बचेटीआई-लेडी कॉन्स्टेबल की लव स्टोरी से विभाग में हड़कंप, दो बच्चों का पिता है टीआई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.