scriptBJP preparing to make Mathura the new capital of Hindutva | UP Assembly Elections 2022 : मथुरा को हिंदुत्व की नई राजधानी बनाने की तैयारी में भाजपा, केशव मौर्य के ट्वीट ने दिए संकेत | Patrika News

UP Assembly Elections 2022 : मथुरा को हिंदुत्व की नई राजधानी बनाने की तैयारी में भाजपा, केशव मौर्य के ट्वीट ने दिए संकेत

UP Assembly Elections 2022 : उत्तर प्रदेश में 80 के दशक के आसपास भारतीय जनता पार्टी ने राम मंदिर के मुद्दे को अपना चुनावी एजेंडा बनाया था, अब जब अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है, तब यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने ट्वीट कर कहा है कि अयोध्या-काशी में भव्य मंदिर निर्माण जारी है और अब मथुरा की बारी है कर प्रदेश के सियासी माहौल को और अधिक गर्म कर दिया है। वहीं हिंदू महासभा ने 6 दिसंबर को मथुरा में जलाभिषेक का एलान कर माहौल गरमाने की कोशिश की है।

लखनऊ

Published: December 02, 2021 04:41:26 pm

लखनऊ. UP Assembly Elections 2022 : उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव ने पहले भारतीय जनता पार्टी हिंदुत्व के मुद्दे को धार देने में जुट गई है। भाजपा की अब अयोध्या नहीं मथुरा को हिंदुत्व की नई राजधानी बनाने की तैयारी है। इस बात के संकेत भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने मथुरा को लेकर किए गए एक ट्वीट में संकेत दिए हैं। इसके अलावा भगवान राम की तपोभूमि चित्रकूट में इसी माह 15 दिसंबर को हिंदु महाकुंभ का भी आयोजन किया जा रहा है, जिसमें करीब 5 लाख लोगों के आने की संभावना जताई जा रही है। इस हिंदु महाकुंभ में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बतौर गोरक्ष पीठ के पीठाधीश्वर की हैसियत से शामिल हो सकते हैं।
hindu.jpg
80 के दशक में राम मंदिर बना था चुनावी मुद्दा

बता दें कि 80 के दशक के आसपास भारतीय जनता पार्टी ने राम मंदिर के मुद्दे को अपना चुनावी एजेंडा बनाया था, अब जब अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य चल रहा है, तब यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य ने ट्वीट कर कहा है कि अयोध्या-काशी में भव्य मंदिर निर्माण जारी है और अब मथुरा की बारी है कर प्रदेश के सियासी माहौल को और अधिक गर्म कर दिया है। वहीं हिंदू महासभा ने 6 दिसंबर को मथुरा में जलाभिषेक का एलान किया है।
हिंदु महाकुंभ में सीएम योगी हो सकते हैं शामिल

उत्तर प्रदेश में हिंदुत्व को और अधिक धार देने के लिए दिसंबर में ही भगवान राम की तपोस्थली चित्रकूट में हिन्दू एकता महाकुंभ होने जा रहा है। इस महाकुंभ में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बतौर गोरक्ष पीठ के पीठाधीश्वर की हैसियत से शामिल हो सकते हैं।
महाकुंभ में संघ प्रमुख समेत कई हस्तियां होगीं शामिल

जानकारी के अनुसार चुनाव से ठीक पहले काशी के साथ धर्मनगरी चित्रकूट से संघ के एजेंडे को धार देने की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। चित्रकूट में हिन्दू महाकुंभ का आयोजन होने जा रहा है। इसमें लव जिहाद, जनसंख्या नियंत्रण कानून समेत समेत 12 मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की जाएगी। 15 दिसंबर को होने वाले इस महाकुंभ में संघ प्रमुख मोहन भागवत, श्रीश्री रविशंकर समेत कई हस्तियां शामिल होंगी। चित्रकूट में हिन्दू महाकुंभ का आयोजन तुलसी पीठाधीश्वर जगद्गुरु स्वामी रामभद्राचार्य कर रहे हैं।
हिंदु महाकुंभ में 5 लाख लोगों के आने की है संभावना

महाकुंभ में पांच लाख हिंदुओं के जुटाने की तैयारी है। महाकुंभ के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत, योग गुरु बाबा रामदेव, आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर प्रसाद, साध्वी ऋतंभरा, मनोज मुंतशिर, मालिनी अवस्थी, कुमार विश्वास के अलावा कई प्रखर वक्ताओं को आमंत्रण भेजा गया है। बताया जाता है कि कई हस्तियों की सहमति भी आ चुकी है। भगवान श्रीराम की तपोभूमि धर्मनगरी में महाकुंभ आयोजन का उद्देश्य हिंदू एकता पर चिंतन करना है। महाकुंभ आयोजकों ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, दिनेश मौर्य, एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान, मप्र के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, साध्वी निरंजन ज्योति के अलावा यूपी के सरकार के कई मंत्रियों को आमंत्रण भेजा है। इस महाकुंभ में देश के विभिन्न मठ-मंदिरों, अखाड़ों के धर्माचार्यों, संत, महात्माओं को भी महाकुंभ में बुलाया जा रहा है। बताया जाता है कि हिंदू महाकुंभ में अतिथियों को आमंत्रण देने के लिए लंबी सूची बनी है।
12 बिंदुओं के एजेंडे पर होगी विस्तार से चर्चा

हिंदु महाकुंभ में शामिल होने के लिए देशभर में शहर और गांवों में जाकर आमंत्रण पहुंचाया जा रहा है। उनका उद्देश्य है कि इस आयोजन में हर हिंदू पहुंचे। फिलहाल कार्यक्रम में पांच लाख से अधिक की संख्या में हिंदुओं के शामिल होने की अपेक्षा की जा रही है। हिंदू महाकुंभ में मंत्रणा के लिए 12 बिंदुओं का एजेंडा तय किया गया है। इस एजेंडे में सबसे पहले भगवान श्रीराम हैं। हिंदु महाकुंभ में भगवान श्रीराम मंदिर निर्माण, मंदिरों से सरकारी नियंत्रण खत्म हो,धर्मांतरण, जनसंख्या नियंत्रण कानून, राष्ट्रवाद एवं समान नागरिक संहिता, लव जिहाद, भारतीय दर्शन आधारित शिक्षा, नशा मुक्ति, गोरक्षा, सामाजिक समरसता, परिवार प्रबोधन और मातृशक्ति वंदना, प्रचार के विभिन्न माध्यमों द्वारा हिंदू धर्म की अवहेलना एवं दुष्प्रचार, पर्यावरण शामिल हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां

बड़ी खबरें

Mizoram Earthquake: मिजोरम में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर रही 5.6 तीव्रताराष्ट्रीय युद्ध स्मारक में विलय की गई अमर जवान ज्योति की लौ; देखें VIDEO'हिजाब' पर कर्नाटक के शिक्षा मंत्री के बयान पर बवाल! जानिए क्या है पूरा मामलाUP Election 2022: राहलु और प्रियंका ने जारी किया कांग्रेस का घोषणा पत्र, युवाओं पर फोकसदिल्ली उपराज्यपाल ने आप सरकार के प्रस्ताव को किया खारिज, वीकेंड कर्फ्यू हाटने और प्रतिबंधों में ढील से इनकारकर्नाटक: शनिवार व रविवार को भी खुलेंगे बाजार लेकिन एक शर्त हैIND vs SA: मायूस विराट कोहली के चेहरे पर आई खुशी, ऋषभ पंत का सिक्स देखकर करने लगे डांसतत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal Loan
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.