scriptBJP state president Swatantradev Singh attacks on SP chief akhilesh ya | सपा अध्यक्ष पर बरसे स्वतंत्रदेव सिंह, कहा सरकार बनाकर लूट-खसोट का सपना देख रहे अखिलेश यादव | Patrika News

सपा अध्यक्ष पर बरसे स्वतंत्रदेव सिंह, कहा सरकार बनाकर लूट-खसोट का सपना देख रहे अखिलेश यादव

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शुक्रवार को कहा कि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को हर बात राजनीति के चश्मे से देखने की बुरी बीमारी लग गयी है, यही कारण है कि संविधान दिवस जैसे पवित्र दिन भी वे कुत्सित राजनीति से ऊपर नहीं उठ पाए।

लखनऊ

Published: November 26, 2021 09:45:57 pm

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शुक्रवार को कहा कि समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव को हर बात राजनीति के चश्मे से देखने की बुरी बीमारी लग गयी है, यही कारण है कि संविधान दिवस जैसे पवित्र दिन भी वे कुत्सित राजनीति से ऊपर नहीं उठ पाए। उन्होंने कहा कि आज का दिन जब पूरा देश भारत रत्न बाबा साहेब डॉ भीमराव आंबेडकर को याद कर रहा है और उनके आदर्शों पर चलने का संकल्प ले रहा है तो सपा मुखिया को चुनाव याद आ रहे हैं।
swatantra_dev_singh.jpeg
स्वतंत्रदेव ने कहा कि जब मंच से अखिलेश यादव दबे-कुचले, वंचितों, शोषितों और गरीबों के उत्थान की बड़ी-बडी बातें कर रहे थे तो वह भूल गए कि अनुसूचित जाति गरीबों और वंचितों पर सबसे ज्यादा अत्याचार सपा कार्यकाल में ही हुआ था। सबसे ज्यादा दलित उत्पीड़न के मामलें सपा कार्यकाल में ही सामने आए थे। स्थिति यह थी कि दलितों की एफआईआर तक दर्ज नहीं की जाती थी। उन्होंने कहा कि वही सपा मुखिया आज मंच से संविधान, जो दलित, वंचित, शोषित वर्ग की सुरक्षा के लिए बनाया गया था, उसके बारे में बात कर रहे थे। उन्हें इस संविधान की याद अपने शासनकाल में नहीं आई जब दलितों को मारा-पीटा जाता था और यहां तक कि उनकी हत्या कर दी जाती थी फिर भी कोई कार्रवाई नहीं होती थी। विडम्बना है कि संविधान को क्षत विक्षत और लहुलुहान करने वाले सपाई संविधान की दुहाई दे रहे है।
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव परिवार भी नहीं चला पा रहे हैं। वे अपनी पत्नी को सांसद बनाने तक सीमित हो गए हैं। उनका अपना एक ट्रस्ट है, वह सरकार बनाकर लूट-खसौट का सपना देख रहे। जो साकार नहीं होगा।
पार्टी के राज्य मुख्यालय पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था इतनी सशक्त है कि माफिया और गुंडें अंतिम सांसे ले रहा है। प्रदेश में बेटियां आधी रात में भी जहां जाना चाहती हैं आ-जा सकती हैं। आज प्रदेश में बेटियां राज्य और देश के विकास में अपना योगदान दे रही हैं। उन्होंने कहा कि कनेक्टिविटी के क्षेत्र में भी हम आगे बढ़े हैं जीरो टॉलरेंस की नीति के चलते अपराधियों को बेल नहीं-जेल पसंद आ रहा है।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सपा-बसपा के शासनकाल में अपराधियों और माफियाओं ने जो संपत्ति अर्जित की थी ऐसी 1866 करोड़ रूपये से अधिक की संपत्ति ध्वस्त की गई है, 36990 गुंडे माफिया गुंडा एक्ट के तहत एवं 523 अपराधी एनएसए के तहत गिरफ्तार किए गए हैं। महिलाओं के लिए यह प्रदेश सुरक्षित और बच्चों के लिए भयमुक्त जीवन का सपना साकार हो रहा है। पहली बार 1535 पुलिस थानों में महिला हेल्प डेस्क की शुरुआत हुई है, 4000 महिलाओं की भर्ती के साथ पुलिस विभाग में रानी अवन्ती बाई लोधी, वीरागंना उदादेवी तथा वीरागंना झलकारी बाई, महिला बटालियन की स्थापना की गई है। जबकि एंटी रोमियो स्क्वायड ने 10000 से अधिक छेड़खानी के मामले दर्ज कर 15000 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है। त्वरित न्याय के लिए 218 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट, 81 मजिस्ट्रेट स्तरीय न्यायालय और 81 अपर सत्र न्यायालय की स्थापना की गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.