scriptBJP victory plan for election 2022 | BJP का बाजीगर प्लान: हारी हुई सीट पर विरोधियों को भाजपा ने भेजा न्योता | Patrika News

BJP का बाजीगर प्लान: हारी हुई सीट पर विरोधियों को भाजपा ने भेजा न्योता

। रायबरेली की मौजूदा विधायक अदिति सिंह का भाजपा पहले ही स्वागत कर चुकी है। अदिति सिंह के पिता, स्वर्गीय अखिलेश सिंह ने इस क्षेत्र में काफी प्रभाव डाला और उन्होंने सीट पर 2017 में जीत हासिल किया था। भाजपा को भरोसा है कि वह सीट बरकरार रखेगी और इसे भगवा खेमे में जोड़ देगी।

लखनऊ

Updated: November 26, 2021 05:38:50 pm

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 2017 में विपक्षी दलों से हारने वाली 78 सीटों पर सेंध करना शुरू कर दिया है। आगामी विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के लिए भाजपा ने बाजीगर प्लान तैयार किया है। इस प्लान के तहत पिछले विधानसभा चुनाव में हारी हुई इन सीटों पर जीतने वाले विपक्षी विधायकों का स्वागत किया जा रहा है। भाजपा अपने 'मिशन 300 प्लस' को पूरा करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।
BJP का बाजीगर प्लान, हारी हुईं सीटों पर सेंधमारी से जीत का रास्ता बना रही  भाजपा
BJP का बाजीगर प्लान, हारी हुईं सीटों पर सेंधमारी से जीत का रास्ता बना रही भाजपा
ये सीटे अपने पाले में कनरे के लिए घेराबंदी

उदाहरण के लिए, जिन पांच सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों की जमानत जब्त की गई वो गौरीगंज, सहसवां, सादाबाद, सोरांव और रायबरेली सदर सीट हैं। रायबरेली की मौजूदा विधायक अदिति सिंह का भाजपा पहले ही स्वागत कर चुकी है। अदिति सिंह के पिता, स्वर्गीय अखिलेश सिंह ने इस क्षेत्र में काफी प्रभाव डाला और उन्होंने सीट पर 2017 में जीत हासिल किया था। भाजपा को भरोसा है कि वह सीट बरकरार रखेगी और इसे भगवा खेमे में जोड़ देगी।
हाथरस के लिए भी चली चाल

2017 में हाथरस की सादाबाद सीट से बीजेपी को हराने वाले बसपा के रामवीर उपाध्याय भी बीजेपी में शामिल हो गए हैं और आगामी चुनावों में पार्टी के उम्मीदवार होंगे। अमेठी की गौरीगंज सीट से समाजवादी पार्टी के राकेश प्रताप सिंह ने जीत हासिल की थी। उन्होंने हाल ही में क्षेत्र में विकास की कमी का हवाला देते हुए राज्य विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।
ऐसी अटकलें लगाई जा रही थीं कि वह अब 'अपने निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए' भाजपा में शामिल होने की तैयारी कर रहे हैं।

वंदनी भी हुईं भाजपा की

आजमगढ़ की सगड़ी सीट से बसपा विधायक वंदना सिंह भी इस सप्ताह की शुरुआत में भगवा पार्टी में शामिल हो गई हैं। गाजीपुर के सईदपुर से सपा विधायक सुभाष पासी भी भाजपा में शामिल हो गए हैं और भगवा बैनर तले चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं।
क्या कहते हैं नेता

पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा, "हम उन सीटों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं जहां हम हार गए थे और अगर इन सीटों के मौजूदा विधायक हमारी पार्टी में शामिल होना चाहते हैं, तो हमें कोई आपत्ति नहीं है। स्क्रीनिंग कमेटी उनकी उम्मीदवारी को मंजूरी देगी और वे हमसे जुड़ सकते हैं।"
सपा विधायकों पर भाजपा की नजर

भाजपा विशेष रूप से सपा विधायकों पर नजर गड़ाए हुए है, जिनमें से कुछ को उनकी पार्टी टिकट से वंचित कर सकती है क्योंकि सीटें सहयोगियों को दी जाएंगी।
सपा के एक विधायक ने कहा, "मुझे पता चला है कि मेरी सीट रालोद द्वारा ली जा रही है और इसलिए मैं अगले पांच साल तक वापस नहीं बैठ सकता। अगर सभी तौर-तरीकों पर काम किया जाता है तो मैं भाजपा में शामिल होने की योजना बनाऊंगा।"

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.