scriptCorona changed entire electoral system voters will wearing gloves | UP Assembly elections 2022: कोरोना ने बदल डाली पूरी चुनावी व्यवस्था, अब ग्लब्स पहन कर डाला जाएगा वोट | Patrika News

UP Assembly elections 2022: कोरोना ने बदल डाली पूरी चुनावी व्यवस्था, अब ग्लब्स पहन कर डाला जाएगा वोट

कोरोना की दूसरी लहर के बीच यूपी में हुए पंचायत चुनाव में चुनावकर्मियों संग अन्य लोगों के कोरोना की गिरफ्त में आने से सबक लेते हुए निर्वाचन आयोग ने इस बार काफी सख्त नियम लागू किए हैं। डिजिटल प्रचार के बाद अब आयोग ने मतदान के लिए हर मतदाता को दस्ताने सुलभ कराने को कहा है। वाराणसी में इसकी तैयारी शुरू भी हो गई है।

वाराणसी

Published: January 28, 2022 05:05:07 pm

वाराणसी. कोरोना ने UP Assembly elections 2022 के सारे इंतजामात को बदल दिया है। फिजिकल चुनाव प्रचार पर पहले से रोक है जिसके चलते राजनीतिक दल सोशल मीडिया पर प्रचार के सहारे हैं। इसमें बड़े दल तो अपना काम आसानी से कर ले रहे हैं लेकिन छोटे दल अथवा निर्दल प्रत्याशियों के लिए इसमें तमाम मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच निर्वाचन आयोग ने कहा है कि मतदान के दिन हर मतदाता को वोट डालने से पहले ग्लब्स मुहैया कराया जाय, ताकि कोरोना संक्रमण से बचाव हो सके। निर्वाचन आयोग के निर्देश के बाद वाराणसी में इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है।
यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में मतदान से पहले मतदाता को मिलेगा ग्लब्स
यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में मतदान से पहले मतदाता को मिलेगा ग्लब्स
निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के अनुसार मतदान वाले दिन मतदान केंद्र पहुंचने वाले हर मतदाता को मतदान से ठीक पहले ग्लब्स मुहैया कराया जाएगा। वोटर ये ग्लब्स पहन कर ही ईवीएम का बटन दबाएंगे। आयोग के इस दिशा निर्देश के बाद ग्लब्स जुटाने और अन्य सारी व्यवस्था के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ संदीप चौधरी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। निर्वाचन आयोग का निर्देश है कि कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए मतदान के दिन जो भी मतदाता बूथ पर पहुंचेगा, उसे ग्लब्स मुहैया कराया जाएगा। ये गल्ब्स पीठासीन अधिकारी के पास उपलब्ध होगा। पीठासीन अधिकारी मतदान से जुड़ी सारी औपचारिकता यानी मतदाता सूची में नाम का मिलना, अमिट स्याही लगाने आदि की कार्रवाई के बाद मतदाता को ग्लब्स मुहैया कराएगा। फिर मतदाता ग्लब्स पहन कर ईवीएम का बटन दबाएगा। आयोग ने ये भी कहा है कि मतदान केंद्र पर आने वाले हर मतदाता के लिए मास्क अनिवार्य होगा।
बता दें कि बनारस में कुल 30 लाख 29 हजार 215 मतदाता हैं जिनके लिए ग्लब्स का इंतजाम किया जाएगा। इन ग्लब्स को जिले की आठो विधानसभा क्षेत्र के 1245 मतदान केंद्र के 3361 मतदेय स्थल पर उपलब्ध कराया जाएगा। इस संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी को निर्देश जारी हो गए हैं।
इतना ही नहीं हर मतदानकर्मी को मतदान से पहले दिए जाने वाले किट में मास्क, सेनेटाइजर, फेसशील्ड भी दिए जाएंगे। साथ ही बुखार की दवा और गाज पट्टी, मलहम आदि भी होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

Thailand Open: PV Sindhu ने वर्ल्ड की नंबर 1 खिलाड़ी Akane Yamaguchi को हराकर सेमीफाइनल में बनाई जगहIPL 2022 RR vs CSK Live Updates: रोमांचक मुकाबले में राजस्थान ने चेन्नई को 5 विकेट से हरायासुप्रीम कोर्ट में अपने लास्ट डे पर बोले जस्टिस एलएन राव- 'जज साधु-संन्यासी नहीं होते, हम पर भी होता है काम का दबाव'ज्ञानवापी मस्जिद केसः सुप्रीम कोर्ट का सुझाव, मामला जिला जज के पास भेजा जाए, सभी पक्षों के हित सुरक्षित रखे जाएंशिक्षा मंत्री की बेटी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने दिए बर्खास्त करने के निर्देश, लौटाना होगा 41 महीने का वेतनCBI रेड के बाद तेजस्वी यादव ने केंद्र सरकार पर कसा तंज, कहा - 'ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से, नहीं डरा है, नहीं डरेगा लालू इन सरकारों से'Ola-Uber की मनमानी पर लगेगी लगाम! CCPA ने अनुचित व्यवहार के लिए भेजा नोटिस, 15 दिन में नहीं दिया जवाब तो हो सकती है कार्रवाईHyderabad Encounter Case: सुप्रीम कोर्ट के जांच आयोग ने हैदराबाद एनकाउंटर को बताया फर्जी, पुलिसकर्मी दोषी करार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.