scriptNcp will contest UP Assembly Elections 2022 with SP | UP Assembly Elections 2022 : यूपी में सपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे शरद पवार, सीएम योगी को लेकर कही बड़ी बात | Patrika News

UP Assembly Elections 2022 : यूपी में सपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे शरद पवार, सीएम योगी को लेकर कही बड़ी बात

UP Assembly Elections 2022 : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के चीफ शरद पवार ने सीएम योगी के 80-20 फॉर्मूले को लेकर कहा कि मैंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का बयान देखा कि 80 फीसदी हमारे साथ हैं, 20 फीसदी नहीं। उन्होंने सवाल किया कि यह 20 फीसदी कौन हैं। उन्होंने कहा कि जो मुख्यमंत्री होता है वो ऐसा नहीं कह सकता। क्योंकि मुख्यमंत्री सबका होता है। लेकिन इनकी विचारधारा ऐसी है और इसलिए उन्होंने यह बयान दिया।

लखनऊ

Published: January 11, 2022 08:11:48 pm

लखनऊ. UP Assembly Elections 2022 : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मुखिया शरद पवार ने मंगलवार को एलान किया कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर विधानसभा का चुनाव लड़ेगी। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता बदलाव चाहती है। एनसीपी प्रमुख ने कहा कि सभी को संगठित कर हम नया विकल्प देने की कोशिश करेंगे। योगी के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफा देने पर पवार ने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य ने शुरूआत की है और आने वाले दिनों में आपको कई बड़े चेहरे भारतीय जनता पार्टी छोड़ते नजर आयेंगे। शरद पवार ने बताया कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश के अलावा गोवा और मणिपुर के विधानसभा चुनाव में हिस्सा लेगी।
sharad.jpg
सपा व अन्य छोटे दलों के साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव को लेकर एनसीपी के मुखिया शरद पवार ने बताया कि यूपी में हम समाजवादी पार्टी और दूसरे छोटे छोटे पार्टी के साथ चुनाव लड़ने वाले हैं। उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी के कुछ नेताओं ने समाजवादी पार्टी के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मुलाकात की और तय हुआ कि हम चुनाव लड़ेंगे।
यूपी में बदलाव के लिए विकल्प देने की कोशिश
शरद पवार ने कहा कि यूपी में बदलाव के लिए कुछ पार्टियों को संगठित कर एक विकल्प देने की कोशिश होगी। शरद पवार ने कहा कि योगी के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने इस्तीफा दिया है, उनके साथ ही और भी विधायक समाजवादी पार्टी में आ रहे हैं।
अभी और लोग भी भाजपा छोड़ेंगे
एनसीपी नेता ने कहा कि आने वाले दिनों में और भी लोग समाजवादी पार्टी में आएंगे। शरद पवार ने कहा कि यूपी के लोग परिवर्तन चाहते हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के चुनाव में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का काम चल रहा है। अयोध्या के मामले में अदालत का निर्णय आया है जिसे हम सभी ने स्वीकार किया।
ये भी पढ़े: अब तक पांच विधायक छोड़ चुके हैं भाजपा, कम से कम दस हैं लाइन में
यूपी में ध्रुवीकरण की कोशिश की जा रही है
इसके बाद नए नए मुद्दों को जानबूझकर उछाला जा रहा है और इसे ध्रुवीकरण करने की कोशिश की जा रही है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने सीएम योगी के 80-20 फॉर्मूले को लेकर कहा कि मैंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का बयान देखा कि 80 फीसदी हमारे साथ हैं, 20 फीसदी नहीं। उन्होंने सवाल किया कि यह 20 फीसदी कौन हैं।
मुख्यमंत्री सबका होता है- शरद पवार

उन्होंने कहा कि जो मुख्यमंत्री होता है वो ऐसा नहीं कह सकता। क्योंकि मुख्यमंत्री सबका होता है। लेकिन इनकी विचारधारा ऐसी है और इसलिए उन्होंने यह बयान दिया। उन्होंने कहा कि अगर एकता को ताकत देना हो तो सभी वर्गों को साथ लेकर चलना होगा और किसी को छोड़ना सही नहीं है। शरद पवार ने कहा कि विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की जनता इसका जवाब देगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

बिहार में बड़ा हादसा: गंडक नदी में डूबा ट्रैक्टर, हादसे में 2 लोगों की मौत, 20 लापताभारत ने निर्धारित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर बैन 28 फरवरी तक बढ़ायासानिया मिर्जा ने किया संन्यास का ऐलान, बोलीं-'मेरा शरीर खराब हो रहा है'UP Assembly Elections 2022 : अखिलेश यादव ने कहा सपा की सरकार बनी तो महिलाओं को देंगे 1500 रुपये प्रति महीने पेंशनMaharashtra Nagar Panchayat Election Result: 106 नगरपंचायतों के चुनावों की वोटों की गिनती जारी, कई दिग्‍गजों की प्रतिष्‍ठा दांव परOBC Reservation: ओबीसी राजनीतिक आरक्षण पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, आ सकता है बड़ा फैसलाUP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपी10 कंट्रोवर्शियल विधानसभा सीटें जहां से दिग्गज ठोकेंगे चुनावी ताल, समझें राजनीतिक समीकरण
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.