scriptSP and Congress will declare candidates for eight assembly seats in Varanasi After BJP | UP Assembly elections 2022: पहले आप-पहले आप में फंसी बनारस-गोरखपुर की सीट, कांग्रेस, सपा को बीजेपी के पत्ते खोलने का इंतजार | Patrika News

UP Assembly elections 2022: पहले आप-पहले आप में फंसी बनारस-गोरखपुर की सीट, कांग्रेस, सपा को बीजेपी के पत्ते खोलने का इंतजार

विधानसभा चुनाव की गतिविधियां लगातार तेज होती जा रही हैं। पार्टी स्तर पर प्रत्याशियों की सूची जारी करने की गति भी तेज हुई है। लेकिन पूर्वांचल के बनारस और गोरखपुर सीट पर प्रत्याशी उतारने में पार्टियों के बीच गहरा मंथन जारी है। माना जा रहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ से प्रत्याशी उतारने को लेकर विपक्ष में अभी गहरा मंथन चल रहा है। यहां तक कि भाजपा भी चुप्पी साधे है। इधर दावेदारों की धुकधुकी लगातार बढ़ती जा रही है।

वाराणसी

Published: January 28, 2022 06:13:32 pm

वाराणसी. UP Assembly elections 2022 की गतिविधियां लगातार तेज होती जा रही हैं। विभिन्न पार्टियों ने प्रत्याशियों की सूची जारी करने की गति भी तेज कर दी है। लेकिन पूर्वांचल के बनारस और गोरखपुर सीट पर प्रत्याशी उतारने में पार्टियों के बीच गहरा मंथन जारी है। गुरुवार को समाजवादी पार्टी ने सूची जारी की, जिसमें पूर्वांचल की कई सीटों के उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए पर इसमें गोरखपुर और वाराणसी गायब रहा। माना जा रहा है कि पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ से प्रत्याशी उतारने को लेकर विपक्ष को बीजेपी के प्रत्याशियों की सूची का इंतजार है। खास तौर पर बनारस को लेकर अभी गंभीर मंथन चल रहा है। लेकिन बीजेपी को भी यही इंतजार है कि पहले समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बीएसपी अपनी सूची जारी करे। इधर दावेदारों की धुकधुकी लगातार बढ़ती जा रही है
यूपी विधानसभा चुनाव 2022
यूपी विधानसभा चुनाव 2022
पीएम के संसदीय सीट में बीजेपी ने नहीं खोेले पत्ते

बीजेपी की बात करें तो गोरखपुर सदर से योगी आदित्यनाथ को छोड़ कर अब तक पूर्वांचल की बड़ी विधानसभा सीटों पर कोई प्रत्याशी घोषित नहीं किया है। वाराणसी की बात करें तो यहां की आठ में से छह सीटों शहर दक्षिणी, शहर उत्तरी, कैंट, रोहनिया, पिंडरा और शिवपुर पर बीजेपी का कब्जा है। वहीं अजगरा सीट सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के खाते में है तो सेवापुरी सीट अपना दल के खाते में।
शिवपुर विधानसभा सीट पर सुभासपा की दावेदारी

इस बीच शिवपुर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक व कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर के खिलाफ सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर का नाम चर्चा में है। सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओपी राजभर कहते हैं कि कार्यकर्ता चाहते हैं मैं शिवपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ूं। राजभर कहते हैं कि कार्यकर्ताओं का कहना है कि शिवपुर से मेरे लड़ने से इसका असर पूर्वांचल की अन्य सीटों पर भी पड़ेगा। लेकिन सुभासपा अध्यक्ष ने अभी तक अपनी उम्मीदवारी घोषित नहीं की है।
सपा ने पूर्वांचल की अधिकांश सीटों पर घोषित किए प्रत्याशी

बात समाजवादी पार्टी की करें तो पार्टी ने गुरुवार को जारी सूची में भाटपार रानी से आशुतोष उपाध्याय, अतरौलिया से संग्राम सिंह यादव, गोपालपुर से नफीस अहमद, आजमगढ़ से दुर्गा प्रसाद यादव, निजामाबाद से आलमबदी, फूलपुर पवई से रमाकांत यादव, दीदारगंज से कमलाकांत राजभर, लालगंज सुरक्षित से बेचन सरोज, घोसी से दारा सिंह चौहान, सिकंदरपुर से जियाउद्दीन रिजवी, फेफना से संग्राम सिंह, बांसडीह से रामगोविंद चौधरी बदलापुर से बाबा दुबे, शाहगंज से शैलेंद्र यादव ललई, मल्हनी से लकी यादव, केराकत सुरक्षित से तुफानी सरोज, जंगीपुर से वीरेंद्र यादव, जमानिया से ओमप्रकाश सिंह, सकलडीहा से प्रभुनाथ सिंह, राबर्ट्सगंज से अविनाश कुशवाहा, ओबरा से सुनील सिंह गौड़ और दुद्धी सुरक्षित सीट से विजय सिंह गौड़ के नाम की घोषणा कर दी। लेकिन वाराणसी की आठों विधानसभा सीटों को अभी छोड़ रखा है। यहां तक कि गोरखपुर सदर सीट से योगी आदित्यनाथ के खिलाफ जिस उपेंद्र दत्त शुक्ल की पत्नी सुभावती शुक्ल ने हाल ही में सपा ज्वाइन की है और ये कयास लगाया जा रहा है कि सपा योगी आदित्यनाथ के विरुद्ध उन्हें टिकट दे सकती है उनका भी नाम अभी घोषित नहीं किया गया है। उधर पडरौना से ताल ठोकने की तैयारी करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य का खेल कांग्रेस से बीजेपी में जाने वाले आरपीएन सिंह ने बिगाड़ दिया है। वो अब सुरक्षित ठिकाने की तलाश में हैं।
प्रियंका गांधी की महिला टीम का चल रहा गोपनीय सर्वे

अब बात अगर कांग्रेस की की जाय तो कांग्रेस ने भी अभी तक वाराणसी की सिर्फ दो सीटों पिंडरा और रोहनिया सीट से ही अजय राय व राजेश्वर पटेल के नाम की घोषणा की है। कांग्रेस ने भी गोरखपुर सीट को छोड़ रखा है अभी तक। वैसे पार्टी के भरोसेमंद सूत्र बताते हैं कि टीम प्रियंका गांधी वाड्रा की महिलाएं वाराणसी में गुपचुप तरीके से काम कर रही हैं। इनका सर्वे कार्य अभी तक जारी है। सूत्र यहां तक बताते हैं कि कांग्रेस, वाराणसी में बीजेपी के गढ़ माने जाने वाले कैंट विधानसभा क्षेत्र में पूरी तैयारी करने में जुटी है। इस सीट से पार्टी किसी महिला उम्मीदवार को उतार कर बीजेपी को झटका देने की तैयारी में है। कैंट के अलावा शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र में भी गोपनीय सर्वे जारी है।
लेकिन सपा हो या कांग्रेस को इंतजार है कि बीजेपी कब प्रत्याशी घोषित करती है। बीजेपी के उम्मीदवारों की घोषणा के बाद ही नाप-तौल कर सपा और कांग्रेस दोनों ही अपने प्रत्याशियों के नाम की घोषणा करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.