scriptSuheldev Bharatiya Samaj Party President OP Rajbhar constituency remains in doubt | Uttar Pradesh Assembly Elections 2022: सुभासपा अध्यक्ष कहां से लड़ेंगे चुनाव, ये अभी तक रहस्य | Patrika News

Uttar Pradesh Assembly Elections 2022: सुभासपा अध्यक्ष कहां से लड़ेंगे चुनाव, ये अभी तक रहस्य

Uttar Pradesh Assembly Elections 2022 को लेकर बयार अपने शबाब पर है। पार्टियों ने प्रत्याशियो की सूची जारी करनी शुरू कर दी है। वहीं कई ऐसे भी नेता है जिनके दावेदारी को लेकर अटकलों का बाजार गर्म है। नित नए नए विधानसभा क्षेत्र से दावेदारी ठोंकी जा रही है। जीत के दावे भी किए जा रहे हैं। इसी में एक चर्चित चेहरा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर का भी है जो इन दिनों चर्चा-ए-आम है।

वाराणसी

Published: January 25, 2022 04:30:37 pm

वाराणसी. Uttar Pradesh Assembly elections 2022 के महासमर में दांव-पेंच आजमाने का सिलसिला जारी है। कौन बड़ा नेता कहां से चुनाव लड़ेगा इसका खुलासा होने लगा है। लेकिन अभी बहुतेरे दिग्गजों के बारे में अटकलों का बाजार गर्म है। इन्हीं में एक हैं सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर। ओम प्रकाश राजभर कहां से चुनाव लड़ेंगे ये अभी तक तय नहीं है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी इस 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन करके चुनावी समर में उतरी है और इस गठबंधन ने अभी तक पूर्वांचल यानी छठवें और सातवें चरण में होने वाले मतदान के लिए प्रत्याशियों का ऐलान नहीं किया है। लेकिन इस बीच ये प्रचारित होने लगा है कि ओमप्रकाश राजभर वाराणसी के शिवपुर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक और कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर के विरुद्ध ताल ठोकेंगे। पार्टी के वाराणसी के कार्यकर्ता ओपी राजभर को लेकर ये दावे भी करने लगे हैं कि वो अगर शिवपुर से चुनाव लड़ते हैं तो जीत पक्की है। लेकिन खुद ओम प्रकाश राजभर इस बारे में क्या सोचते हैं इसका खुलासा अभी तक नहीं हो सका है। या यों कहें कि राजभर खुद भी अभी पत्ता नहीं खोलना चाहते। लेकिन मीडिया से बातचीत में वो लखनऊ का नाम लेने से गुरेज भी नहीं करते हैं। तो यह कहना अभी जल्दबाजी होगी कि ओम प्रकाश राजभर कहां से ताल ठोकेंगे।
ओमप्रकाश राजभर
ओमप्रकाश राजभर
सियासत के माहिर खिलाड़ी हैं ओम प्रकाश राजभर
यूपी के सियासतदानों की बात करें तो ओमप्रकाश राजभर एक मजे हुए खिलाड़ी हैं। वो कब क्या करें ये उनके बेहद करीबी लोगों को भी पता नही होता। लेकिन ये भी तय है कि वो उनकी पार्टी या उनके लोग जितना भरोसा उन पर करते हैं, उससे तनिक भी कमतर ओमप्रकाश राजभर अपनों पर विश्वास नहीं करते। जहां तक दोस्ती निभाने का सवाल है तो ओमप्रकाश राजभर को जब तक कोई बड़ी बात नहीं खटकती जो उनके दिल पर लग जाए, तब तक वो दोस्ती निभाने से पीछे नहीं हटते। हालांकि अपने बेबाक अंदाज में वो किसी को छोड़ते भी नहीं हैं। ये उन्होंने साबित भी किया है। फिलहाल वो अखिलेश यादव संग मिल कर बीजेपी के खिलाफ लामबंद हैं। इस गठबंधन ने अभी पूर्वांचल की सीटों के प्रत्याशियों के नाम की सूची जारी नहीं की है। ऐसे में उनकी दावेदारी को लेकर इस चुनावी बयार में तमाम तरह की अटकलों का बाजार गर्म है।
सुभासपा के प्रदेश प्रवक्ता कहते हैं ओपी राजभर बनारस से चुनाव लड़ सकते हैं
ओमप्रकाश राजभर कहां से चुनाव लड़ेंगे इस सवाल पर पत्रिका ने सोमवार को पार्ट के प्रदेश प्रवक्ता शशि प्रताप सिंह ने बात की। शशि ने पत्रिका के सवाल, क्या ओमप्रकाश राजभर बनारस के शिवपुर विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे? इसके जवाब में शशि प्रताप ने साफ शब्दों में कहा कि पार्टी अध्यक्ष शिवपुर से चुनाव लड़ सकते हैं। ये उनका घर है। सोमवार की शाम को ही शशि प्रताप ने बयान जारी किया कि शिवपुर विधानसभा से ओपी राजभर चुनाव लड़ते हैं तो जीत पक्की।
ये भी पढें- UP Assembly elections 2022: ... तो सुभासपा अध्यक्ष ओपी राजभर वाराणसी के शिवपुर से लड़ेंग चुनाव!

क्या कहते हैं समाजवादी पार्टी के नेता
ओमप्रकाश राजभर के वाराणसी के शिवपुर विधानसभा से चुनाव लड़ने के मसले पर सपा के प्रदेश प्रवक्ता मनोज राय धूपचंडी ने पत्रिका को बताया कि अभी इस मसले पर कोई फैसला नहीं हुआ है। दोनो नेताओं (अखिलेश यादव और ओम प्रकाश राजभर) के आपस में बातचीत के बाद ही इस पर अंतिम निर्णय होगा।
क्या कहना है ओम प्रकाश राजभर का
ओम प्रकाश राजभर के बनारस से चुनाव लड़ने की बात उछलने के बाद मीडिया ने उन्हें घेरना शुरू कर दिया। लेकिन अब भी वो अपना पत्ता खोलने के मूड में नहीं हैं। उनका कहना है कि बनारस के कार्यकर्ता चाहते हैं कि वो शिवपुर विधानसभा से चुनाव लड़ें। वो ये भी बताते हैं कि कार्यकर्ताओं ने विधानसभा क्षेत्र में कार्यालय तक खोल दिया है। लेकिन वो अब भी ये खुलासा करने से बचते हैं कि वो कहां से ताल ठोकने वाले हैं। वो तो रामायण काल का किस्सा भी सुनाते हैं, वो भी राम वनगमन का और कहते हैं जब सारे अयोध्यावासी सो रहे थे तो भगवान राम चुपके से निकल जाते हैं। साथ ही यह कहने से भी नहीं चूकते कि वो तो प्रदेश की राजधानी लखनऊ से ताल ठोकना चाहते हैं। इतना कह कर वह जोर का ठहाका भी लगाते हैं। यानी अभी तक ओमप्रकाश राजभर ने खुद की उम्मीदवारी और विधानसभा सीट का चयन भले ही मन में कर रखा हो पर वो गठबंधन धर्म को भी बखूबी समझते हैं और इसके तहत ही वो अपने चुनाव क्षेत्र का ऐलान भी करेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.